Beneficial of Basil – (Basil is a botanical boon) तुलसी के गुणकारी लाभ

तुलसी एक वनस्पति वरदान है , तुलसी के गुणकारी लाभ – Basil is a botanical boon, Beneficial of Basil, Tulasi ke mahatvapurn labh aur chamtkar, Tulasi vanspati ke labh aur upyog kya hai in Hindi.

नमस्कार दोस्तों Apnasandesh.com पर आप सभी का स्वागत है. आज हम “तुलसी एक वनस्पति वरदान है , तुलसी के गुणकारी लाभ [Basil is a botanical boon, Beneficial of Basil]” इस आर्टिकल के माध्यम से तुलसी की जानकारी आपकी भाषा हिंदी में जानने वाले है.
Beneficial of Basil - (Basil is a botanical boon) तुलसी के गुणकारी लाभ

दोस्तों, भारत के देह में तुलसी एक आत्मा की तरह है और हिन्दू धर्म में तुलसी को मां लक्ष्मी का रूप मानकर घर के आंगन में पूजनीय स्थान दिया जाता है. लोग तुलसी को माता समान मानकर जल चढ़ाते है , सभी व्यक्ति तुलसी की पूजा करते है. तुलसी एक महत्वपूर्ण औसधी है , जिसमे ऑक्सीजन सबसे अधिक होता है. लेकिन इसके अलावा भी तुलसी के वैज्ञानिक व आयुर्वेद की दृष्टि से कई लाभ मिलते हैं.

इस अनमोल पौधे के कुल 5 प्रकार होतेे हैं, जो स्वास्थ्य से लेकर वैज्ञानिक और आध्यात्मिक दृष्टि से महत्वपूर्ण है. जैसे राम तुलसी, स्वेत तुलसी, वन तुलसी, नींबू तुलसी और श्याम तुलसी, आदि.

Read more – peppermint के लाभ 

 

Basil is a botanical boon | Beneficial of Basil – तुलसी के गुणकारी लाभ

तुलसी के गुणकारी लाभ [Beneficial of Basil] :

भोजन के बाद एक बूंद तुलसी सेवन करने से पेट सम्बन्धी बीमारिया बहुत कम होती है.

तुलसी अंग – प्रत्यंग को स्पुर्तिवान बनाती है.

Basil स्मरणशक्ति को तेज करती है. शरीर के लाल रक्त सेल्स को बढाने में अत्यंत लाभकारी है.

तुलसी की दिन में 4 – 5 बुँदे पिने से महिलाओ को गर्भवस्था में बार बार होने उल्टी की शिकायत ठीक हो जाती है.

Basil के पत्तों के सेवन से ब्लड शुगर लेवल ठीक रहता है, जिससे डाई का खतरा कम होता है।

Beneficial of Basil, 

यह आर्टीकल जरूर पढ़े…

1. Rain Gage बनाने के आसान तरीके

2. पानी को कैसे बचायें

3. सौर ऊर्जा का महत्व

 

तुलसी के अर्क को आग से जलने और किसी भी जहरीले कीड़े को काटने पर लगाने से विशेष राहत मिलती है.

सर दर्द , बाल झड़ना , बाल सफेद होना – तुलसी की 8 – 10 बुँदे मी.ली.एलो हर्बल हेअर ऑइल के साथ मिलकर सिर एव बालो की जड़ो में लगाए.

कान के रोगों को दूर करने के लिए तुलसी के अर्क को हल्का गर्म करके एक बूंद कान में टपकाएं.

नाक में नकसीर का रोग है तो तुलसी की माध्यम से राहत मिल सकती है. इसके अलावा, फोड़े को भी हटाया जा सकता है. दोनों रोगों में रोगी को बहुत तकलीफ होती है, तुलसी को हल्का सा गरम करके एक – एक बूंद नाक में टपकाए राहत मिलेगी.

दांत का दर्द , दांत में कीड़ा लगना , मसूडो से खून आना तुलसी की 4 – 5 बुँदे पानी में डालकर कुल्हा करना चाहिए.

तुलसी के गुणकारी लाभ

यदि मुह में किसी प्रकार की दुर्गन्ध आती है तो तुलसी के पत्ते का सेवन करे दुर्गन्ध कुछ समय बाद चला जाएगा.

गले में दर्द , गले व मुह में छाले , आवाज बैठ जाना , आदि तुलसी की 4 -5 बुँदे गरम पानी में डालकर कुल्हा करे.

दमा व खासी में तुलसी की 4 -5 बुँदे थोड़े अदरक के साथ तथा शहद के साथ मिलाकर सुबह – दोहपहर – शाम सेवन करे.

तुलसी की 8 – 10 बुँदे बॉडी ऑइल में मिलाकर शरीर पर मलकर रात्रि में सोए , मछर नही काटेंगे.

गुप्त अंग रोग वैसे तो गुप्त रोग अनेक प्रकार के होते है. जिसके बारे में सभी स्त्रिया को पता रहता है उन रोगों में कुछ है, समय पर रजाधर्म न होना , गुप्त अंग की पीड़ा इसका कठोर हो जाना भीतर घाब बन जाना, चीटी रेंगने की तरह पीड़ा आदि रोग अधिक रहते है.

लक्षण : – स्त्री को हर समय बेचैनी रहना , गुप्त अंग से मवाद भी निकलना , कभी कभी रक्त भी निकलना आदि। तुलसी की 10 बुँदे 100 मी.ली पानी में डाल कर उसे घोलकर हल्का सा गरम करके घोल कर गुप्त अंग में डाले राहत मिलेगी.

तुलसी के नियमित सेवन से कोलेस्ट्रोल [Cholesterol] का स्तर कम होने लगता है ,स्तर के थक्के जमने कम होते है और हार्ट अटैक और स्ट्रोक की रोकवान होती है.

 

तुलसी के गुणकारी लाभ

निरोगी जीवन जीने के लिए प्रत्येक व्यक्ति ने दिन प्रतिदिन तुलसी के 4 – 5 पत्ते सेवन करना चाहिए. स्वास्त अच्छा रहेगा.

तुलसी से कैंसर जैसी लाइलाज बीमारी को बढ़ने से रोका जा सकता है. तुलसी में एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी-कार्सिनोजेनिक [Carcinogenic] पाया जाता हैं. जिसके कारण स्तन कैंसर और मुंह के कैंसर को बढ़ने से रोका जा सकता है.

तुलसी एक वनस्पति वरदान है , तुलसी के गुणकारी लाभ [Basil is a botanical boon, Beneficial of Basil] इस लेख के माध्यम से हमने तुलसी के बारे में जाना है. उम्मीद है दोस्तों आपको यह लेख जरूर पसंद आया होगा.

धन्यवाद…..

Author by Laxmi…

 

1.  परीक्षा का डर दूर करे 

2.  घुटने दर्द होने पर ट्रीटमेंट करे

3.  रेसिपीज बनाने के  तरीके 

4.  नीबू के महत्वपूर्ण गुण 

5.  पुदीना के जबरदस्त फायदे 

6.  पनीर सलाद कैसे बनाए 

 

Post Comments

error: Content is protected !!