Benefits of curative curd – गुणकारी दही के लाभ kya hai

Benefits of curative curd – गुणकारी दही के लाभ kya hai. दोस्तों नमस्कार दोस्तों Apnasandesh वेब पोर्टल पर आप सभी का स्वागत है. आज हम “गुणकारी दही के लाभ [Benefits of curative curd]” इस आर्टिकल के माध्यम से  दही के कौन कौन से लाभ है [What are the benefits of curd] इसकी जानकारी आपकी भाषा हिंदी में जानने वाले है.

दही एक दुग्ध-उत्पाद है जिसका निर्माण दूध के जीवाणुज Fermentation द्वारा होता है. लैक्टोज [Lactose] का Fermentation करके लैक्टिक अम्ल [Lactic acid] बनाता है, जो दूध प्रोटीन के साथ प्रतिक्रिया करता है और इसे दही के साथ-साथ इसकी बनावट और विशिष्ट खट्टे स्वाद में परिवर्तित करता है.

दोस्तों कहते है की कोई भी काम करने के लिए उस काम को करने की इच्छा होनी चाहिए. इच्छा शक्ति जागृत करने के लिए सेहत अच्छी होना जरुरी है. और दही अच्छी सेहत के लिए फायदेमंद है, तो दोस्तों चलो अब जानते है दही के लाभकारी गुण [Benefits of curative curd], दही के पोषण तत्व. आहार विशेषज्ञों का मानना है की खाना खाते समय दही का सेवन करे तो ( Curd is beneficial for the body ) दही शरीर के लिए फायदेमंद है. दही का सेवन पेट से जुड़े हर प्रकार के रोग का अचूक इलाज माना जाता है. प्रतिदिन दही का सेवन करने से कई तरह की बीमारियों से बचा जा सकता है. हर रोज खाने में दही को शामिल करने से आपका दिल मजबूत रहेगा और कई बीमारियों से बचाव करेगा. क्योंकि कोलेस्ट्रॉल की अधिक मात्रा रक्त प्रवाह को प्रभावित करती है और व्यक्ति को हार्ट अटैक या स्ट्रोक का खतरा हो जाता है.

Read More – beneficial of basil

गुणकारी दही के लाभ - Benefits of curative curd

गुणकारी दही के लाभ  [Benefits of curative curd] :-

  • दही के रोजाना सेवन से शरीर की रोग प्रतिकार क्षमता बढती है.
  • गर्मी के मौसम में दही की छाछ या लस्सी बनाकर पिने से गर्मी शांत होती है और लू से भी बचते है.
  • दही हमारे पाचन की क्षमता को बढाता है और रोज दही खाने से पेट की कई बीमारिया ठीक हो जाती है.
  • दही का सेवन सर्दी को बचाता है और अल्सर [Ulcer] में भी फायदेमंद है.
  • मुह में छाले होने पर दही का कुल्हा करने से छाले ठीक हो शकते है.
  • दही में प्रोटीन ( Protein ) , लैक्टोज ( lactose ), कैल्सीयम ( calcium ), आयरन ( iron ), फास्फोरस ( phosphorus ), आदि कई विटामिन होते है. इसलिए दही को अधिक पोषक माना जाता है.
  • जीवाणु पोषक तत्व शरीर के लिए antibiotic का कार्य करते है. और रोगानुओ से लढने की क्षमता भी बढाता है.
  • दही के खाने से ह्रदय में होने वाली कोरोनरी आर्टरी रोग से बचाव किया जा सकता है. डॉक्टर का मानना है की दही के नियमित सेवन से शरीर का कोलोस्ट्रोल को कम किया जा शकता है.
  • मुह में छालों पर दिन में 2 – 4 बार दही लगाने से छाले जल्दी ठीक हो जाते है.
  • पेट की बीमारिया से परेशान होने वाले व्यक्ति अगर दही का सेवन करे तो वह ठीक हो सकता है.
  • रात में दही का सेवन हल्का करे, काला नमक, शक्कर या शहद के साथ रात में दही का सेवन करे.

 

यह आर्टीकल जरूर पढ़े………

AUTOMOBILE  TECHNOLOGY    NATURE (  प्रकुर्ती  )
1. वाहन चलाने के नियम, पंजीकरण और ड्रायविंग लाइसेंस 1. Rain Gage बनाने के आसान तरीके
2. वाहन सर्विसिंग और जॉब कार्ड  2. पानी को कैसे बचायें
3. ऑटोमोबाइल वाहन की नई तकनीक और विकास 3. सौर ऊर्जा का महत्व

बेहत ही गुणकारी है यह दही [The curd is very good]:

कैलरी                                                  –  100 to 150

फैट                                                     –  2 ग्राम

शुगर                                                   –  20 ग्राम

प्रोटीन                                                 –  8 to 9 ग्राम

विटामिन                                             –  20 ग्राम

कैल्सीअम                                            –  20 ग्राम

  • दही का उपयोग औषधि रूप में ही नही , बल्कि सौन्दर्य प्रसाधन के रूप में भी किया जाता है. चेहरे पर दही लगाने से त्वचा मुलायम होने के साथ साथ उसमे निखार भी आता है. अगर दही से चेहरे की मसाज कर दी जाए तो वह ब्लीच जैसा काम करता है.

गुणकारी दही के लाभ - Benefits of curative curd

  •  दही में बेसन मिलाकर चेहरे को लगाने से त्वचा निखरती है और मुहासे दूर हो जाते है.
  •    सिर में रुसी को हटाकर बालो को मुलायम बनाता है , दही को बालो में कंडिशनर के तौर पर भी लगा शकते हो, इससे बहुत लाभ होगा।
  •    हफ्ते में दो बार दही का सेवन करने वालो को ह्रदय सम्बन्धी बीमारिया का खतरा कम होता है.
  •    दही को क्लिजर के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है. इसके लिए दही में संत्रे का रस मिलाकर लगाया जाता है.
  •    दही में मुल्तानी मिटटी मिलाकर सिर पर लगाने से ये शम्पू की तरह काम करता है.
  •    नियमित रूप से यह लगाने पर बालो का झड़ना कम होता है.

 

दही लेने के दौरान सावधानी बरतें [Take care while taking curd] :

  •    दही का सेवन करते समय ध्यान रखे की वह ताजा होना चाहिए. क्यूंकि की पुराना दही खाने से problem हो शकती है.
  •    बहुत अधिक दही का सेवन हानिकारक है, इसलिए दही का सेवन करना चाहिए.
  •    किसी भी मांसाहारी भोजन के साथ दही न खाएं.
  •    ध्यान रखे त्वचा रोगों के मरीजो को अपने डॉक्टर के सलाह से दही का सेवन करना चाहिए.

दोस्तों किसी भी पदार्थ का सेवन करते समय ध्यान रखे की वह आपके शरीर के लिए लाभकारी हो. डॉक्टर, या  किसी अच्छे आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह ले.

गुणकारी दही के लाभ [Benefits of curative curd] इस लेख के माध्यम से हमने दही के बारे में जाना है. उम्मीद है दोस्तों आपको यह लेख जरूर पसंद आया होगा.

धन्यवाद….

 

Author by Laxmi…

यह भी जरुर पढ़े

1.  परीक्षा का डर दूर करे 

2.  तुलसी है एक वरदान 

3.  घुटने दर्द होने पर ट्रीटमेंट करे

4.  रेसिपीज बनाने के  तरीके 

5.  नीबू के महत्वपूर्ण गुण 

6.  पुदीना के जबरदस्त फायदे 

7.  पनीर सलाद कैसे बनाए 

1.  पढाई कैसे करे 

2.  ट्रांसफोर्मर का कार्य 

3.  मल्टीमीटर का उपयोग

4.  पिस्टन रिंग का उपयोग 

5.  सफल होने का रहस्य 

6.  वाहन मेंटेनन्स बनाए रखे 

7.  अंग्रेजी बोलने के तरीके 

Post Comments

error: Content is protected !!