Transmission system ka Mahtva kya hai | ट्रांसमिशन सिस्टम का महत्व in Hindi

Transmission system ka Mahtva kya hai? ट्रांसमिशन सिस्टम का महत्व, Vahan ka ट्रांसमिशन Pranali, Vehicle ट्रांसमिशन सिस्टम ki jankari, ट्रांसमिशन सिस्टमUpyog, (Importance of ट्रांसमिशन सिस्टम) वाहनों में ट्रांसमिशन का उपयोग कैसे करे, In Hindi. 

Transmission system ka Mahtva kya hai | ट्रांसमिशन सिस्टम का महत्व in Hindi

Transmission system ka Mahtva kya hai | ट्रांसमिशन सिस्टम का महत्व in Hindi

नमस्कार, प्रिय पाठकों हमारे apna sandesh वेब पोर्टल पर आप सभी का स्वागत है. दोस्तों आप सभी को पता ही है, और शायद आप जानते है की वाहनों को चलाने के लिए महत्वपूर्ण सिस्टम जिसे ट्रांसमिशन सिस्टम से पहचानते है. हाँ दोस्तों वाहन कैसे चलता है और इसके बेसिक फीचर्स क्या है? तो आइये जानते की ट्रांसमिशन सिस्टम का महत्व क्या है? (Importance of transmission system),

वाहनों में ट्रांसमिशन का उपयोग कैसे करे, वाहनों में ट्रांसमिशन कैसे काम करता है, वाहनों में ट्रांसमिशन का कार्य, ट्रांसमिशन का परिचय कैसे करे, ट्रांसमिशन कैसे काम करता है ,कितने प्रकार के संचरण. सभी जानकारी आपको हिंदी में बताने जा रहे है. तो आइये बिना देरी किये जानते है.

दोस्तों पिछले पोस्ट में हमने इंजिन के बारे में जाना था. जैसे इंजिन एक वाहनों का महत्वपूर्ण घटक है वैसे ही ट्रांसमिशन सिस्टिम वाहनों में महत्वपूर्ण है. ट्रांसमिशन द्वारा वाहनों के पहिये को चलाया जाता है. ट्रांसमिशन से इंजिन की अधिक गति को धीमी किया जाता है. ट्रांसमिशन सिस्टिम में उपयोग में आने वाले महत्वपूर्ण घटक गिअर बॉक्स, क्लच असेम्ब्ली, प्रॉपेलर शाफ्ट, डिफ्रेंशिअल और अन्य प्रणाली है. तो आइये सभी को अच्छे से समझते है. वाहनों में ट्रांसमिशन कैसे काम करता है, वाहनों में ट्रांसमिशन का कार्य, ट्रांसमिशन का परिचय कैसे करे, Gear ke prakar kitane hai.

 

ट्रांसमिशन सिस्टम का महत्व [Transmission system ke Parts] :

क्लच असेम्ब्ली के प्रकार आगे दिए गए है.

1. फ़्रिक्शन क्लच

 

  • सिंगल प्लेट क्लच
  • मल्टी प्लेट क्लच
  • कोन क्लच

 

2. सेंट्रीफ्यूगल क्लच

3. सेमि सेंट्रीफ्यूगल क्लच

4. कोनिकल क्लच या डायफ्राम क्लच

5. हाइड्रोलिक क्लच

6. इलेक्ट्रो-मैगनेटिक क्लच

  • टेपर टाइप
  • क्राउन स्प्रिंग टाइप

Read more – vahanoka vargikarn kaise kare 

 angle gearbox

क्लच असेम्ब्ली का कार्य [Function of clutch assembly] :-

क्लच इंजिन से आने वाले पावर को एंगेज और डिसएंगेज करके ट्रांसमिशन सिस्टिम के गियर बॉक्स तक भेजता है.

 

यह आर्टीकल जरूर पढ़े…

 

गिअर बॉक्स – Gear Box ki jankari:-

दोस्तों हम देख रहे है ट्रांसमिशन सिस्टम का महत्व जिसमे गिअर बॉक्स एक वाहनों में महत्व पूर्ण घटक है, जिससे इंजिन और पहियों के बिच के टॉर्क को आवश्यकता नुसार बदला जाता है. गियर बॉक्स एक महत्व पूर्ण घटक होके उसे कई विविध प्रतिरोधों का सामना करना पड़ता है.

 

रोलिंग रेजिस्टेंस :-

 

  • सड़क की सामग्री – सीमेंट, डामर आदि,
  • सड़क के गुण – चिकनी या खुरदरी, गीली या सुखी,
  • टायर की डिझाइन
  • टायर का दाब

 

एअर रेजिस्टेंस :-

 

  • वाहन की गति – धीमी, माध्यम, तेज,
  • हवा की गति और दिशा

 

ग्रेडोयनर रेजिस्टेंस :-

 

  • सड़क की ढलान – पहाड़ से निचे की और या ऊपर की और, समतोल,
  • वाहनों का वजन – हलका, भारी,

यह आर्टीकल जरूर पढ़े…

 

ट्रांसमिशन गियर बॉक्स प्रकार [Transmission gear box type]

 

1. मैनुअल ट्रांसमिशन :- यह एक महत्व पूर्ण घटक है, इसे कन्वेंशनल गियर बॉक्स के नाम से भी जाना है.

2. सेमि ऑटोमोटिव ट्रांसमिशन :- यह एक ऐसी प्रणाली है जो मैनुअली और ऑटोमैटिकली उपयोग में लाया जाता है.

3. ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन :- यह एक सिस्टिम का प्रयोग बड़े वाहनों में किया जाता है, जो शहरो और भीड़ – भाड़ राजमार्ग पर चलती है.

Gear kaise kary karata hai – गियर कैसे काम करता है?

Transmission system ka Mahtva kya hai | ट्रांसमिशन सिस्टम का महत्व in Hindi

ट्रांसमिशन सिस्टम का महत्व इस लेख में हम देख रहे है की ,गियर के सिद्धांत के अनुसार ड्राइवर (चालक) गियर में 60 दंत है और यह गियर बड़ा है, तथा यह एक बार घूमता है. ड्रिवन (चालित) गियर में 30 दंत है. तो ड्रिवन गियर कितने बार घूमेगा जानने के लिए 60 दंत को 30 दंत से विभाजित करे.

 

प्रोपेलर शाफ्ट क्या है [What is propeller shaft]

Propeller shaft एक ऐसी प्रणाली है जो गति को डिफ्रेंशिअल तक वहन करता है. जिस से वाहन के पिछले पहिये घूमते है. प्रोपेलर शाफ़्ट हल्का और अच्छी तरह संतुलित होना चाहिए जिस से गति पर कंपन या लपक ना सके, इन कारणों से प्रोपेलर शाफ़्ट स्टील ट्यूब से बनाया जाता है. कुछ अन्य करने को सहारा देने के लिए प्रोपेलर शाफ़्ट के निकट बेअरिंग लगाया जाता है. कुछ प्रोपेलर शाफ़्ट को दो भागो में बनाया है, तथा उसके केंद्र को सहारा देने के लिए बेअरिंग लगाया जाता है.

Transmission system ka Mahtva kya hai | ट्रांसमिशन सिस्टम का महत्व in Hindi

प्रोपेलर शाफ्ट की आवश्यकता क्यों है [Why a propeller shaft is needed]

प्रोपेलर शाफ्ट एक ऐसा घटक है जिसके माध्यम से कुसल परिवहन किया जा सकता है. वाहनों की गति गियर बॉक्स से डिफ्रेंशिअल और वहा से पिछले पहिए तक पहुचाना होता है. आम तौर पर प्रोपेलर शाफ्ट का आकार सतत क्रियाशील टॉर्क, पावर स्त्रोत, और सतत सही चल कोण पे निर्भर है.

 

यूनिवर्शल कोण – Universal angle

 

यह ऐसा एक माध्यम है जिस से दो अलग अलग भागो को जोड़ा जा सकता है. इस प्रणाली में ट्रांसमिशन के इनपुट शाफ़्ट और प्रोपेलर शाफ़्ट को जोड़ा जाता है, जिस से गति को आगे बढ़ा जा सके, साथ ही में प्रोपेलर शाफ्ट के पिछले एंड को और डिफ्रेंशिअल के इनपुट (पिनियन) शाफ्ट को जोड़ा जाता है. और गति को वाहनों के रिअर एक्सल में पहुंचाया जाता है.  spur gear design. speed reducer. helical gearbox. flender gearbox. 90 degree gearbox. crown gear. worm wheel. planetary gearbox

यह आर्टिकल्स जरूर पढ़े…

Inspection supervision:

Overview:- ट्रांसमिशन सिस्टम का महत्व in Hindi

Name- ट्रांसमिशन सिस्टम का Upyog kaise kare in Hindi

मुझे उम्मीद है कि आप लोगों को यह लेख जरूर पसंद आया होगा, मैंने अपनी तरफ से ट्रांसमिशन सिस्टम का महत्व kya hai | ट्रांसमिशन सिस्टम का महत्व in Hindi के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की है, फिर भी यदि इस बारे में जानकारी छूट गयी या मिस हो गई तो हमें कमेंट करके जरूर बताये,

दोस्तों अगर इस पोस्ट में कोई गलती है या तो आप मुझे नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके सूचित कर सकते हैं और दोस्तों इस लेख को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे – सोशल मीडिया जैसे Facebook, Instagram, WhatsApp, Twitter पर शेयर करें और अन्य सोशल मीडिया पर भी शेयर करें…

 

Thank you Dosto

Transmission system ka Mahtva

Post Comments

error: Content is protected !!