Basic introduction of micrometer – मॅक्रोमीटर का मूल परिचय

मॅक्रोमीटर क्या है? माइक्रोमीटर का मूल परिचय – Basic introduction to micrometer, ब्रिटिश आउट साइड माइक्रोमीटर क्या है – What is the British out side micrometer,आउट साइड माइक्रोमीट क्या है – What is out side microtight? micrometer ki Jankari in Hindi

नमस्कार दोस्तों apna sandesh  वेब पोर्टल पर आप सभी का स्वागत है. दोस्तों आज के इस लेखन टिप्स में हम  “मॅक्रोमीटर का मूल परिचय [Basic introduction of micrometer]” जानने वाले है. अगर आप भी micrometer से जुडी जानकारी के बारे में जानना चाहते है, तो आप इस लेख को पूरा जरूर पढ़े.

दोस्तों आप अभी को पता है , दुनिया में कई नई Technology का आविष्कार हुआ है। Technology के इस युग में भारत में कई सारे आविष्कार हुए है। अभियंतायो ने Automobile , Electrical , Computer , Mechanical आदि शाखाओं में आविष्कार किए है। दोस्तों आज हम इस article ( लेख ) से Automobile Tool के बारे में जानने वाले है।

Basic introduction of micrometer - मॅक्रोमीटर का मूल परिचय

Basic introduction of micrometer (micrometer ki Jankari) – मॅक्रोमीटर का मूल परिचय

मॅक्रोमीटर का मूल परिचय में हम जानने वाले है की इंजीनियरिंग के इस भाग में ऑटोमोबाइल एक महत्वपूर्ण घटक है, जिसमें दिन-प्रतिदिन नए-नए आविष्कार हो रहे हैं. कोई भी नए Technology का आविष्कार को कई अभियंता की जरुरत होती है. Automobile Technology के इस लेख में Measuring Tool ( माप साधन ) के बारे में जानने वाले है. कोई भी नए तकनीक का आविष्कार करने से पहले उसकी Design और माप के बारे में सोचा जाता है. मापसाधनो में कई सारे साधनो का इस्तेमाल किया जाता है. लेकिन आज हम कुछ स्पेशल साधनो के बारे में जाने वाले है. दोस्तों इंजिन में ऐसे कई सारे भाग है जहा का माप हम स्केल ( Steel Rule ) से नहीं ले सकते. उसके लिए स्पेशल Tool की जरुरत होती है. जैसे की Out Side Micrometer , In Side Micrometer, Vernier Caliper , Cylinder Bore Gage, Dial Test Indicator आदि साधनो का उपयोग किया जाता है.

 

 आउट साइड माइक्रोमीटर [Out Side Micrometer]:

आउट साइड माइक्रोमीटर यह Nut और Bolt के थ्रेड पिच याने दोनों समान्तर भाग के सेंटर लाइन से जुडा हुआ अंतर है.  Nut का एक घुमाव के बाद पिच पर bolt आगे या पीछे सरकता है. इसी आधार पर Micrometer बनाए है. Micrometer थिंबल्स के अंदर के स्पिण्डल में Standards Marking होती है. साथ ही बैरल के अंदर Nut जैसे Marking होती है. British Micrometer में 1” में 40 Marking ( T.P.I. ) रहती है, तो मेट्रिक Micrometer में 1 / 2 MM पिच के Mark होते है. थिंबल्स अपने आप में जब एक बार घुमाव कर लेता है तब बैरल पे पिच इतना Distance आगे या पीछे आता है.

Out Side Micrometer यह British पद्धत 0 To 1” , 1 To 2” , 2 To 3” , इस प्रकार से 1” से 12” के Distance में है. मेट्रिक पद्धत में 0 To 25 MM , 25 To 50 MM , 50 To 75 MM , इस प्रकार 25 से 200 के Distance में है.

इस रेंज के आगे वाले Micrometer के अनव्हील और स्पिण्डल के बिच Measuring Pipe से Correct Distance का माप लेने के लिए Micrometer के साथ एक Distance पीस होता है.  Distance पीस के माध्यम से अनव्हील और स्पिण्डल के बिच का Correct Distance Measure करने के बाद अगर Difference दिखता है तो उसे बैरल के स्लिव्ह Spanner के माध्यम से थिंबल्स के ऊपरी 0 सी डेटम लाइन पर सेट करते है.

यह आर्टीकल जरूर पढ़े…..

 

ब्रिटिश आउट साइड माइक्रोमीटर  [British Out Side Micrometer]:

British Out Side Micrometer स्लिव्ह या बैरल के डेटम लाइन पर प्रथमतः 1” के एक सामान 10 भाग किए होते है. उसे Division कहते है. इस भाग पर प्रत्येक 1 , 2 , 3 , ऐसे 10 तक Number होते है. इस में सभी भागो की किंमत 1 / 10 ( 0 . 1” ) होती है , ऐसे सामान चार उपभाग होते है.  Micrometer की रीडिंग लेते समय प्रथमतः Micrometer रेंज और इंच के बारे में जान ले. उसके बाद बैरल और स्लिव्ह पर दिखने वाले marking की नोंद कीजिए. बाद में marking पर 1 / 40” ( 0 . 025” ) और उपरेषा की नोंद लीजिए. उसके बाद थिम्बल के भागों की संख्या बैरल बैरल पर समान है. अब हजारों इंच माप में जोड़ें.

उदा.
Micrometer रेंज 0 To 1 इंच

Total इंच = 0 . 000
बैरल Division = 0 . 1
बैरल Subdivision Number = 0 . 057
डेटम लाइन थिंबल्स ( हजारांश माप ) = 0 . 003
Total Reading = 0 . 178

Read more – micrometer ka such kya hai

 

 मेट्रिक आउट साइड माइक्रोमीटर [Metric Out Side Micrometer]:

Metric Out Side Micrometer के बैरल पर डेटम लाइन के ऊपरी हिस्से में 1 MM के एक प्रमाण से 25 सामान भाग होते  है.

और हर 5 MM के बाद Number पंच किए रहते है.

डेटम लाइन या निचले भाग में 1 MM के दो समान भाग होते है.

इसलिए बैरल के उपविभागों की किंमत 1 / 2 MM ( 0 . 5 MM ) होती है.

थिंबल्स का एक घुमाव पूरा होने पर थिंबल और स्पिण्डल 1 / 2 MM आगे या पीछे जाते है.

उदा.
मेट्रिक Out Side Micrometer रीडिंग लेते समय Micrometer रेंज ( MM ) 0 To 25

Total Number Of datum Line = 5 . 00
Sub Datum Line Number ( 1 / 2 ) = 0 . 25
थिंबल Datum Line = 0 . 28
Total = 5 . 78

Basic introduction of micrometer

सुरक्षा और देखभाल :

1. रफ सरफेस पर Micrometer से Measurement ना ले.

2. Micrometer चीज का Measurement लेना है , उसे साफ़ करे.

3. साफ हातो से Micrometer उपयोग में लाए.

4. Micrometer में एरर की जांच कर ले.

5. Measurement लेते समय समांतर अंतर से धीरे धीरे घुमाव करे.

6. Out Side Micrometer से माप लेते समय रैचेट स्टाप व बादमे Nut का इस्तेमाल करे.

7. Reading होने पर Lock Nut सैल करे.

8. माप लेने के बाद Micrometer को अछि तरह साफ़ करके रखे.

9. Micrometer गिरने ना दे.

प्रिय दोस्तों हमने “मॅक्रोमीटर का मूल परिचय [Basic introduction of micrometer]” के बारे में जाने  है. उम्मीद है की आपको यह लेख पसंद आया होगा .

धन्यवाद……

Inspection supervision: 

Overview:-Basic introduction of micrometer – मॅक्रोमीटर का मूल परिचय

Read More Article

दोस्तों अगर इस पोस्ट में कोई गलती है या तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके सूचित कर सकते हैं और दोस्तों इस लेख को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे – सोशल मीडिया जैसे Facebook, Instagram, WhatsApp, Twitter पर शेयर करें और अन्य सोशल मीडिया पर भी शेयर करें…

Post Comments

error: Content is protected !!