आर्किटेक्चरल इंजीनियर कैसे बने – – How to Be Architectural Engineer

नमष्कार दोस्तों, आपका Apnasandesh.com वेब पोर्टल में दिल से स्वागत करता है. आर्किटेक इंजीनियर कैसे बने [How to become an architect engineer],  आर्किटेक्चर इंजीनियर कैसे बने [How to become an architecture engineer], आर्किटेक्चरल इंजीनियर कैसे बने [How to become an architectural engineer]  Architectural Engineer yogyata, civil engineer kaise bane, civil engineering me career kaise banaye, career in Architect और सर्टिफाइड इंजीनियर बनने के लिए क्या जरुरी है यह हम आपको इस Article के माध्यम से बताने वाले है. आप इस लेख को अवश्य पढ़े.

दोस्तों इंजीनियर की शाखाए बहुत होते है उसीमे से इस आर्टिकल में आपको Architect Engineer कैसे बना जाता है, वास्तुकार अभियंता [Architect Engineer], स्तुशिल्पीय इंजीनियर [Architectural Enginee]वास्तुकला अभियंता [Architecture Engineer] कैसे बने, इसके लिए क्या पढाई करना जरुरी है, यह जानना बेहत ही जरुरी है.

 

आर्किटेक - आर्किटेक्चर - आर्किटेक्चरल इंजीनियर कैसे बने - Architect - Architecture - How to Be Architectural Engineer

आर्किटेक्चरल इंजीनियर कैसे बने

Engineer किसे कहा जायेगा यह प्रश्न हमारे मन में आते रहते है. Engineer की परिभाषा इस तरह हो सकती है की किसी इंशान ने विज्ञान के माध्यम से दुनिया में बदलाव और इंसानी समस्यावों का निवारण , आद्योगिक क्षेत्रों में विकास, नए नए तकनीक का प्रयोग करते हुए डिजाइन, Specification प्रदान करना, आदि. किसी भी इंसान ने दुनिया में अपने नए तकनीक के साथ विकास और समस्यावों का निवारण किया तो उसे इंजीनियर कहने में कोई खेद नहीं, लेकिन वह Certified engineer नहीं कहलायगा.

नमष्कार दोस्तों, आज हम बात करे तो दुनिया हर बार की तरह बदल रही है. और इसके साथ हम लोग भी बदल रहे, इमारते बदल रही, घरो के आकार बदल रहे है, लोगो का रहानिमान बदल रहा है। हर किसी को लगता है की अपना घर, दूसरे घरो से आकर्षित और अच्छा हो. दोस्तों आपको लगता नहीं क्या यह सब बदलाव एक अभियंता के जरिए से या Engineer से होता आ रहा है. आपको इसके बारे में सविस्तर जानना जरूरी है.

वास्तुकार अभियंता [Architect Engineer]:

दोस्तों वास्तुकार एक योग्य और अनुभवी व्यक्ति होता है, जिसे संरचनाओं को डिजाइन करने के लिए प्रशिक्षित किया गया है, ताकि इंजीनियरों को इमारतों के निर्माण की अनुमति मिल सके. यह कहना सही होगा कि आर्किटेक्ट सपने देखने वाले हैं जो एक इमारत के बारे में सपने देखते हैं जो बाद में सिविल इंजीनियरों द्वारा वास्तविकता में बदल दिया जाता है.

इंजीनियरिंग क्षेत्र में सिव्हिल शाखा एक नामांकित विशिष्ट हेतु जानि जाती है, किसी प्रकार के बांधकाम या अन्य बांधकाम विभागों में सुधारना, आदि. सिव्हिल इंजीनियर शाखा में कई वर्षो से सुधारना हो रहे है. इसी में से आर्किटेक्चर यह एक शाखा निर्माण हुई आज इस शाखा का बहुत ही बड़ा नाम है. किसी भी वस्तु की संकल्पना, काम करने की जरुरत, बांधकाम जगह की जांच, हवामान, वास्तु, आदि के बारे में विचार इस शास्त्र ( Architect Engineer ) में किया जा रहा है. नक्शा बनाना , 3D Diagram बनाना, वास्तु की संकल्पना , Decoration, Internal Decoration, आदि का Inclusion इस आर्किटेक्चर शाखा में हुआ है. किसी भी वस्तु के डिजाइन में बदलाव करना है तो बड़े बड़े मेट्रो या महानगरपालिका में आर्किटेक्चर की सलाह ली जाती है.

आर्किटेक्चरल इंजीनियर कैसे बने

किचन रूम की रचना, बाथरूम की रचना, या अन्य प्रकार के बांधकाम के नक़्शे की बनावट आदि काम आर्किटेक्चर के माध्यम किए जाते है. इतिहास के पन्नो में भी वास्तुकार का उल्लेख किया है जैसे पिरामिड की रचना, उसका आकार आदि की बनावट एक वास्तुकार ने की है. इस तरह इतिहास में भी अच्छी तरह से वास्तुकला का बहुत बड़िया इस्तेमाल हुया है.

आर्किटेक्चर औपचारिक रूप से आर्किटेक्चर कॉलेजों में बने होते हैं जहां वे पेशे की नॉटी-ग्रिट्टी का अध्ययन करते हैं, हालांकि पेशा अभी भी शुद्ध विज्ञान की तुलना में कल्पना की कला और उड़ान है. आर्किटेक्ट पेशेवर हैं जो तय करते हैं कि इमारत कैसे दिखेगी. वे उन छवियों को जोड़ते हैं जो वास्तविकता के दायरे में फिट होती हैं. यही कारण है कि वास्तुकला एक पेशा है जहां व्यवसायी को एक कलाकार होने के साथ-साथ व्यावहारिक भी होना पड़ता है.

 

                                  Architect Engineer बनने की योग्यता

दोस्तों हमे Architect Engineer बनना है तो उसके लिए उच्च Education की जरुरत होती है. जिसे डिग्री या पदवी के नाम से दुनिया में जाना जाता है. Architect Engineer की डिग्री या उच्च शिक्षा के किस तरह आवेदन और जरूरत की जानकारी इस तरह है.

 

✦10th के बाद Architectural Engineer कैसे बने

  •   10 के बाद Civil Engineering Diploma करने के लिए CBSC या Semi English मीडियम से First Class में पास होना अनिवार्य है.
  •   डिप्लोमा के बाद Direct Architectural Engineer डिग्री में Admission ले सकते है , इसके लिए डिप्लोमा first class में होना अनिवार्य है.

Note :- 10th के बाद Diploma Course 3 साल , Diploma के बाद Degree Course 3 साल।

आर्किटेक्चरल इंजीनियर कैसे बने

✦ 12th के बाद Architectural Engineer कैसे बने

  •   12th के बाद Bachelor Of Architecture की डिग्री करने के लिए Physics , Cemetery , Math यह Subject पास होना अनिवार्य है.
  •   डिग्री में Admission लेने से पहले Entrance Exam पास होना अनिवार्य है.

Note :-12th के बाद Degree Course 4 साल.

⍟ Investment के बिना ऑनलाइन पैसा कैसे कमाए        ⍟ रस्ता सुरक्षा का महत्व

⍟ चमत्कारी सौंफ़ के फायदे जो बदले जीवन                    ⍟ सौर ऊर्जा का महत्व

⍟ दिल को छूने वाली कहाणी अरुणिमा की                       ⍟ वाहनों को इंसानी दिमाग से कैसे चलाए

 

आर्किटेक्चरल इंजीनियर कैसे बने – Architect – Architecture – How to Be Architectural Engineer

 

                                      Architectural Engineer Course

1. Bachelor Of Architecture (B.Arch.)

Bachelor Of Architecture इंजीनियरिंग (बीएई) कोर्स को पूरा करने के लिए पांच साल लगते हैं. एक 4 साल का बैचलर ऑफ साइंस (बीएस) कोर्स उपलब्ध है, लेकिन यह इंजीनियरिंग लाइसेंस को नेतृत्व नहीं करता है. छात्र अपने आवश्यक coursework के हिस्से के रूप में डिजाइन सिमुलेशन बनाने और उनके डिजाइन में गणित, विज्ञान, और इंजीनियरिंग अवधारणाओं का पता लगाने में भाग लेते हैं. वास्तुकला इंजीनियरिंग छात्रों को विज्ञान, गणित और डिजाइन में मजबूत कौशल की आवश्यकता है.

आर्किटेक्चरल इंजीनियरिंग बैचलर डिग्री Course में गणित, विज्ञान, वास्तुशिल्प डिजाइन, निर्माण और व्यापार में कक्षाएं शामिल हैं. अधिकांश coursework विद्युत डिजाइन, संरचनात्मक ध्वनिक और निर्माण सामग्री पर केंद्रित है. Bachelor Of Architecture इंजीनियरिंग करते समय अक्सर निम्नलिखित Courses की आवश्यकता होती है.

आर्किटेक - आर्किटेक्चर - आर्किटेक्चरल इंजीनियर कैसे बने - Architect - Architecture - How to Be Architectural Engineer

∎Fluid mechanics

∎Engineering physics

∎Structural analysis

∎Lighting system design

∎Electrical circuits

आर्किटेक्चरल इंजीनियर कैसे बने

2. Master Of Architecture (M.Arch)

Architect Engineering मास्टर डिग्री Course में दो सबसे आम प्रकार मास्टर ऑफ साइंस (एमएस) और मास्टर ऑफ इंजीनियरिंग (एमईएनजी) हैं. एमएस Course आम तौर पर Professional engineering practices में निर्देश के साथ इंजीनियरिंग अनुसंधान को कवर करते हैं, जबकि एमईएनजी Course Professional aspects पर जोर देते हैं. किसी भी कार्यक्रम में छात्रों को coursework के 25-30 का टास्क पूरा करना होगा. छात्र अक्सर संरचनात्मक, निर्माण या ध्वनिक इंजीनियरिंग जैसे विशेषज्ञता का क्षेत्र चुनते हैं.

वास्तुशिल्प इंजीनियरिंग में मास्टर डिग्री coursework इमारतों को डिजाइन करने के लिए इस्तेमाल Advanced practices पर केंद्रित है, Often stability, Economy, और working capacity पर जोर देते हैं. एमएस Course में छात्र वास्तुकला सिद्धांतों को विकसित करने के लिए उपयोग की जाने वाली शोध पद्धतियों और Statistical analysis के बारे में भी सीखते हैं. Architect Engineering मास्टर डिग्री करते समय अक्सर निम्नलिखित Sub. की आवश्यकता होती है.

∎ Managing and planning construction

∎ Architectural acoustics

∎ Earthquake-resistant design

∎ Advanced CAD

∎ Environmentally-friendly design

आर्किटेक - आर्किटेक्चर - आर्किटेक्चरल इंजीनियर कैसे बने - Architect - Architecture - How to Be Architectural Engineer

आर्किटेक्चरल इंजीनियर कैसे बने

दोस्तों Architect Engineer बनने के लिए डिग्री कोर्स होना अनिवार्य है. नामांकित Architecture इंजीनियर वो होता है की किसी बांधकाम या वास्तु की डिजाइन में बदलाव के लिए उसे नामांकित कोर्स करना जरुरी होता है. बांधकाम की संरचना, लागत Material, और Planing की जरुरत होती है. Architecture Engineering के बाद इस शाखा में बहुत सारि नौकरीओ की सूचि है. जैसे ,

➢ Planning And Development Surveyor

➢ Production Designer, Theatre /Television/Film

➢ Structural Engineer

➢ Town Planner

➢ Building Surveyor

➢ Commercial/Residential Surveyor

➢ Higher Education Lecturer

➢ Historic Buildings Inspector/Conservation Officer

➢ Landscape Architect

 

M.Arch entrance exam crack करने के टिप्स
  • Candidates को प्रवेश परीक्षा के पाठ्यक्रम और परीक्षा पैटर्न से परिचित होना चाहिए.
  • Candidates को सभी मूल पिछले वर्षों के पेपरों के माध्यम से जाना चाहिए और उन्हें निर्धारित समय के भीतर हल करना चाहिए और गलतियों का विश्लेषण करना चाहिए.
  • उम्मीदवारों को संबंधित क्षेत्रों में नवीनतम घटनाओं का ट्रैक रखना चाहिए और नियमित रूप से समाचार पत्र पढ़ना चाहिए.
  • Candidates को प्रगति पर जाँच रखने के लिए नियमित रूप से मॉक टेस्ट हल करने चाहिए.
  • उम्मीदवारों को समय प्रबंधन पर ध्यान देना चाहिए और पाठ्यक्रम में सभी विषयों को शामिल करते हुए एक उचित समय सारिणी बनाना चाहिए.

Architect Engineer बनने के लिए डिग्री कोर्स काफी नहीं है अगर नामांकित Architect Engineer बनना है तो कुछ अलग से सॉफ्टवेयर करने होते है जिसके माध्यम से एक Success Architect Engineer बना जा सकता है.

𝐀) SketchUp

𝐁) Revit

𝐂) 3D Studio Max

𝐃) Autocad

𝐄) V-Ray

𝐅) Photoshop

𝐆) InDesign

𝐇) Hand Drawing

आर्किटेक्चरल इंजीनियर कैसे बने

इसके मुताबिक आप कोई भी कोर्स पूरा करके नामांकित Architecture Engineer बन सकते है. और किसी भी शाखाए या नौकरी के लिए आवेदन कर सकते है. या खुद का बिज़नेस स्टार्ट कर सकते है. दोस्तों यह जानकारी अच्छी लगे तो हमे जरूर बताए. ऐसी जानकारी जानने के लिए हमारे website पर आए.

हम आशा करते हैं कि यह लेख आपके लिए उपयोगी रहा है क्योंकि आपने जाना है की [ आर्किटेक्चरल इंजीनियर कैसे बने – Architect – Architecture – How to Be Architectural Engineer] और यदि आपको इस लेख से कुछ मदद मिलती है, तो इसे अपने मित्रों तथा ज़रूरतमंद व्यक्ति को share करें ताकि हम भी इन लेखों को लिखना जारी रख सकें,

धन्यवाद……..

 

यह भी जरुर पढ़े

➬  RCC कॉलम तैयार करे

➬  इंजिन का कार्य 

➬  PUC कैसे बनाए 

➬  ट्रांसमिसन का कार्य

➬  मायक्रोमीटर का कार्य 

➬  फेरोसिमेंट बनाने के तरीके

➬  गुणकारी दही के लाभ 

➬  तुलसी है एक वरदान 

➬  घुटने दर्द होने पर ट्रीटमेंट करे

➬  रेसिपीज बनाने के  तरीके 

➬  नीबू के महत्वपूर्ण गुण 

➬  पुदीना के जबरदस्त फायदे 

➬  नए आविष्कार वाले हेलमेट

➬  BS-4 वाहन के स्ट्रोंग फीचर्स

➬  इलेक्ट्रिकल कैसे कम करती है 

➬  रस्ता संकेत 

➬  वाहनों का आविष्कार 

➬  पहिए का आविष्कार 

➬  पढाई कैसे करे 

➬  ट्रांसफोर्मर का कार्य 

➬  मल्टीमीटर का उपयोग

➬  पिस्टन रिंग का उपयोग 

➬  सफल होने का रहस्य 

➬  वाहन मेंटेनन्स बनाए रखे 

Post Comments

error: Content is protected !!