इंटरनेट का उपयोग किसलिए किया जाता है – Internet access

नमष्कार दोस्तों, Apna Sandesh वेब पोर्टल पर आप सभी का स्वागत है. आज हम “इंटरनेट का उपयोग – Internet access” इस आर्टिकल के माध्यम से  इंटरनेट का उपयोग कैसे करे [How to use the Internet], वेब पेज में तस्वीरें कैसे सहेजें [How to Save Photos in Web Page], वेब पेज कैसे प्रिंट करें [How to print web pages] यह सव जानकारी आपकी भाषा Hindi में जानने वाले है.

इंटरनेट का उपयोग - Internet access

दोस्तों उम्मीद करते है की यह आर्टिकल आपको पसंद आएगा, इंटरनेट इन दिनों हमारे जीवन का अभिन्न अंग बन गया है और वर्तमान में कंप्यूटर एक महत्वपूर्ण उपकरण बन गया है. जो मानवी जीवन का आधार बन रहा है, कंप्यूटर के इस युग में इंटरनेट का एक अलग ही महत्व है. कुछ दिन पहले Internet क्या है इसके बारे में हमने इस वेबसाईट पर आर्टिकल प्रकाशित किया था यदि आपने वह आर्टिकल नहीं पढ़ा है तो, आप वह आर्टिकल यहा क्लिक करके पढ़ सकते है. चाहे वे आपके दोस्त हो, परिवार के सदस्य या आपके व्यापार के सहयोगी – हर कोई सिर्फ एक क्लिक दूर है यह बताने के लिए कि हमारे पास इंटरनेट है और यह इंटरनेट का मात्र एक उपयोग है.

आज हम इस आर्टिकल में Internet का उपयोग कैसे करे, साथ ही Cache और Temporary Internet Files को कैसे हटाएं इसके बारे जानकारी प्राप्त करने वाले है. यह जानकारी प्राप्त करने से पहले इंटरनेट कैसे काम करता है इसके बारे में जानने वाले है.

 

इंटरनेट कैसे काम करता है – How does the Internet Work

दोस्तों इंटरनेट यह वेब की एक रीढ़ है, technological framework जो वेब को संभव बनाता है. इसके सबसे मूल में, इंटरनेट कंप्यूटर का एक बड़ा नेटवर्क है जो सभी को एक साथ संचारित करता है.

इंटरनेट दुनिया भर के कई नेटवर्कों में एक Interconnectहै. इस तकनीक के साथ, Information technology क्षेत्रों में कट्टरपंथी परिवर्तन बदला हुआ हैं. इंटरनेट को जानकारी की एक संपत्ति कह सकते है जो पूरी दुनिया में लोगों के लिए उपलब्ध है. वेब ब्राउजर का उपयोग कर इंटरनेट एक्सेस प्राप्त किया जा सकता है.

  •  कंप्यूटर मॉडेम के माध्यम से इंटरनेट सेवा प्रदाता ( Internet service provider ) की जाती है.
  •  ISP यह इंटरनेट सर्वर से जुड़ा हुआ रहता है.
  •  जब आप URL टाइप करते हो, Ex. www.example.com, तब आपका कंप्यूटर या PC  ISP के तरफ,   इंटरनेट ब्राउज़िंग के माध्यम से www.example.com इस वेब पेज की मांग करता है.
  •  ISP सबंधित इंटरनेट साइटों के साथ संचार करता है और आपको वह जानकारी भेजता है.

ब्राउज़र टूलबार के महत्वपूर्ण बटन – Important buttons in the browser toolbar

इंटरनेट एक्सप्लोअर में यूजर को वेब पेज खोलने के लिए अन्य प्रकार के बटनों का उपयोग करना होता है. जिकसे माध्यम से वेब पेज में काम करने में आसानी होती है.

आइए जानते है दोस्तो browser toolbar बटन कौनसी है और क्या काम करती है.

Home ( होम ) बटन  ( ⟰ )

घर की तस्वीर वाला चिन्ह होम बटन का रहता है. होम बटन का उपयोग वेब ब्राऊझर के होम पेज पर जाने के लिए होता है. किसी भी कंडीशन में अगर आप अन्य पेज से डायरेक्ट होम पेज पर जाना चाहते तो होम बटन पर क्लीक करके जा सकते है. जब उपयोगकर्ता ने होम बटन को सक्षम किया है, तो यह दिखाई देती है. होम बटन डिफ़ॉल्ट रूप से प्रकट नहीं होती है क्योंकि मल्टी-टैब वर्ल्ड में, हम मानते हैं कि Bookmark bar navigational items के लिए बेहतर जगह है.

 

⍟ Investment के बिना ऑनलाइन पैसा कैसे कमाए    ⍟ रस्ता सुरक्षा का महत्व

⍟ चमत्कारी सौंफ़ के फायदे जो बदले जीवन                    ⍟ सौर ऊर्जा का महत्व

⍟ दिल को छूने वाली कहाणी अरुणिमा की                       ⍟ वाहनों को इंसानी दिमाग से कैसे चलाए

ब्राउज़र टूलबार के महत्वपूर्ण बटन

Back  ( बैक ) बटन (⇐ )

 ही में देखे हुए पेज पर दुबारा जाना है तो यूजर बैक बटन का उपयोग कर उस पेज पर जा सकते है. पिछले पेज पर जाने के लिए बैक बटन को दबाकर जा सकते है, ओर इसी तरह Continue बैक जाते रहे तो हुरुआती के पेज को देख सकते है.

Forward  ( फॉरवर्ड ) बटन  ( ⇒ )

फॉरवर्ड बटन का उपयोग यूजर को एक पेज आगे जाने के लिए होता है.

Stop ( स्टॉप ) बटन ( ⦻ )

इस बटन का उपयोग ब्राऊझर के माध्यम से होने वाली क्रिया को बंद करने के लिए किया जाता है. कभी कभी ब्राऊझर slow हो जाता है और इस समय वेब पेज डाउनलोडिंग में प्रोब्लेम होता है. तो इस तरह के कंडीशन में स्टॉप बटन का उपयोग कर होने वाली क्रिया को रोक सकते है.

Read more – internet yane kya hai 

वेब एड्रेसिंग सिस्टम क्या है – What is the Web Addressing System

दोस्तों अब हम जानते है, वेब एड्रेस क्या है? वेब Addresses में Web Page के स्थान के बारे में जानकारी होती है. इसे URL (Uniform Resource Locator) के रूप में भी जाना जाता है. अपने घर के पते की तरह, एक वेब पता एक वेबपेज के स्थान के बारे में जानकारी का अनुमान लगाने योग्य तरीके से आयोजित करता है.

सभी प्रकार के वेब पेज को खुद का वेब Address होता है जिसे URL के नाम से जानते है, URL याने यूनिफॉर्म रिसोर्स लोकेटर. URL के माध्यम से किसी भी वेब साईट को खोज सकते है लेकिन अगर URL गलत हो जाए तो आपका सर्च इंजिन वेब को खोजने में नाकामियाब हो जाएगा इसीलिए URL में किसी भी तरह की स्पेस नहीं चाहिए और URL में हर समय फॉरवर्ड स्लेशेस ( // ) का उपयोग करते है.

       URL भाग                                   स्पष्टीकरण – Explanation
उदा.  WWW वल्ड वाईड वेब [World wide web] सर्वर का नाम दिखाता है.
उदा.  http:// फ़ाइल प्राप्त करने के लिए आवश्यक प्रोटोकॉल ढूँढना.
उदा. aub अमेरिकन युनिव्हर्सिटी ऑफ़ बैरुत (AUB ) सर्व्हर के नाम दिखाना.
उदा. edu एक शैक्षणिक संस्था है यह दिखाता है.

किसी भी वेब एड्रेसिंग सिस्टम में डोमेन नामकरण प्रणाली ( Domain Naming System ) होती है, जिसमे सभी शब्दों के बजाए छोटे शब्दों का उपयोग करते है.

 

For Ex.

edu   ➞ शैक्षणिक संस्था के लिए,

mil   ➞ संरक्षण विभाग,

gov   ➞ शासकीय विभाग,

net   ➞ नेटवर्किंग विभाग,

org   ➞ कोई लाभ नहीं लेनी वाली संस्था,

com  ➞ व्यावसायिक संस्था,

int     ➞ आंतरराष्ट्रीय संस्था

 

अपना URL स्ट्रक्चर कैसे लिखें

  • URL की लंबाई 60 वर्णों में होती है तो आपके URL की लंबाई 60 वर्णों से कम होनी चाहिए.
  • यदि आपके पास एक बड़ी वेबसाइट है, तो अपने URL में निर्देशिकाओं [Directories] का उपयोग करना और साथ ही एसईओ के लिए आयोजन के लिए सहायक हो सकता है.
  • कैनॉनिकलाइज़ेशन [Canonicalization] वह प्रक्रिया है जिसके द्वारा URLs को मानकीकृत किया जाता है.

 

वेब पेज में तस्वीरें कैसे सहेजें – How to Save Photos in Web Page

वेब साईट को खोलने के लिए, Address बार में Ex. www.example.com इस तरह URL टाइप करे, और Go बटन पर क्लीक करके लिंक को खोल कर वेब पेज के चित्र आप अपने मोबाइल या कंप्यूटर पर सेव कर सकते है। यह तस्वीर आप कंप्यूटर स्क्रीन पर बैकग्राउंड करके भी रखा सकते है। तस्वीर को करे इस तरह सेव,

  •   तस्वीर पर माउस कर्सर रखे और राईट क्लीक करे,
  •   अब दिए हुए शार्टकट मेन्यूमें से Save Picture As इस पर्याय पर क्लीक करे,
  •   क्लीक के बाद सेव्ह पिक्चर डायलॉग बॉक्स दिखेगा,
  •   उसमे File Name डालकर तस्वीर को नाम दे,
  •   अब Save बटन पर क्लीक करे। इस तरह कर सकते है वेब पेज में तस्वीरें सहेज.

 

वेब पेज कैसे प्रिंट करें – How to print web pages

किसी भी वेब पेज को प्रिंट करने के लिए आप यह टिप्स फॉलो कर सकते है.

  •  फाइल मेन्यू पर क्लीक करें,
  •  अब प्रिंट कमांड पर क्लीक करे,
  •  इसके बाद वेब पेज प्रिंट के लिए OK बटन दबाए और वेब पेज प्रिंट करने के लिए प्रिंटर को निश्चित करे.

 

Cache क्या है – What is Cache

Cache याने कंप्यूटर हार्ड डिस्क की जगह, जहा हाल ही की Visit दिए हुए पेजेस अस्थायी रूप में संग्रहित किए  जाते है. आप आसानी से हाल ही में देखे गए वेब पेज देख सकते हैं क्योंकि ब्राउज़र उन वेब पृष्ठों को इंटरनेट पर मूल स्थान की बजाय अपने Cache में रखता है.

Cache एक आरक्षित संग्रहण स्थान है जो websites, browsers और apps को तेज़ी से लोड करने में मदद करने के लिए अस्थायी डेटा एकत्र करता है. चाहे वह कंप्यूटर, लैपटॉप या फोन, वेब ब्राउज़र या ऐप हो, आपको कुछ प्रकार के Cache मिल जाएंगे. एक Cache डेटा को जल्दी से पुनर्प्राप्त करना आसान बनाता है, जो बदले में उपकरणों को तेजी से चलाने में मदद करता.

 

Temporary Internet Files को कैसे हटाएं 

 

इंटरनेट का उपयोग - Internet access

हाल ही में देखे हुए वेब पेज फाइल्स, अस्थायी इंटरनेट फाइल्स फोल्डर  में संग्रहित किए जाते है. अगर इस फ़ोल्डर में फाइल की संख्या में बढ़ोतरी हो गई तो हार्ड डिस्क और अन्य फाइल के लिए जगह काम हो जाती है. साथ ही ब्राऊझर की स्पीड में कमिया आती है, वेब पेज डाउनलोड के लिए अधिक समय लगता है. यह सब ना हो इसीलिए अस्थायी इंटरनेट फाइल्स निकालना बहुत जरुरी है.

दोस्तों यदि आपको इस Temporary internet files निकालना है तो इस तरह निकाले अस्थायी इंटरनेट फाइल्स [Temporary internet files].

  •  Tool, इंटरनेट Option चुनिए,
  •  अब इंटरनेट Option डायलॉग बॉक्स में जनरल टॅब के Delete बटन पर क्लीक करे,
  •  Delete Browsing History डायलॉग बॉक्स दिखाई देगा,
  • अब Delete Option ओर एक क्लीक करे, इस तरह अपने कंप्यूटर के ब्राऊझर को फ़ास्ट बनाने के लिए अस्थायी इंटरनेट फाइल्स [Temporary internet files] निकाले.
इंटरनेट का उपयोग

मुझे उम्मीद है कि आप लोगों को यह लेख जरूर पसंद आया होगा, मैंने अपनी तरफ से इंटरनेट का उपयोग – Internet access के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की है, फिर भी यदि इस बारे में जानकारी छूट गयी या मिस हो गई तो हमें कमेंट करके जरूर बताये,

दोस्तों अगर इस पोस्ट में कोई गलती है या तो आप मुझे नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके सूचित कर सकते हैं और दोस्तों इस लेख को अपने दोस्तों के साथ जरूर share करे – सोशल मीडिया जैसे Facebook, Instagram, WhatsApp, Twitter पर शेयर करें और अन्य सोशल मीडिया पर भी share करें.

दोस्तों यह जानकारी अच्छी लगे तो हमे जरूर बताए. ऐसी जानकारी जानने के लिए हमारे website पर आए.

धन्यवाद……..

 

यह भी जरुर पढ़े

➬  RCC कॉलम तैयार करे

➬  इंजिन का कार्य 

➬  PUC कैसे बनाए 

➬  ट्रांसमिसन का कार्य

➬  मायक्रोमीटर का कार्य 

➬  फेरोसिमेंट बनाने के तरीके

➬  गुणकारी दही के लाभ 

➬  तुलसी है एक वरदान 

➬  घुटने दर्द होने पर ट्रीटमेंट करे

➬  रेसिपीज बनाने के  तरीके 

➬  नीबू के महत्वपूर्ण गुण 

➬  पुदीना के जबरदस्त फायदे 

➬  पनीर सलाद कैसे बनाए 

➬  रक्त और हिमोग्लोबिन 

➬  विटामिन के लाभ 

➬  संतुलित आहार के फायदे 

➬  5 ” S ” का महत्व 

➬  नए आविष्कार वाले हेलमेट

➬  BS-4 वाहन के स्ट्रोंग फीचर्स

➬  इलेक्ट्रिकल कैसे कम करती है 

➬  रस्ता संकेत 

➬  वाहनों का आविष्कार 

➬  पहिए का आविष्कार 

➬  पढाई कैसे करे 

➬  ट्रांसफोर्मर का कार्य 

➬  मल्टीमीटर का उपयोग

➬  पिस्टन रिंग का उपयोग 

➬  सफल होने का रहस्य 

➬  वाहन मेंटेनन्स बनाए रखे 

➬  अंग्रेजी बोलने के तरीके 

➬  प्रदुषण कैसे नियत्रण करे 

➬  अंग्रेजी बोलने के टिप्स 

➬  जी आय पाइप फिटिंग

➬  दमदार टेक्नोलॉजी

Post Comments

error: Content is protected !!