History of computer generation – जानिए कंप्यूटर पीढ़ी के इतिहास बारे में

कंप्यूटर की पीढ़ी का इतिहास – History of computer generation, कंप्यूटर की पीढ़ी – Generation of Computer, कंप्यूटर की पीढ़ी क्या है-What is the generation of computers in Hindi.

नमष्कार दोस्तों, मेरे इस लेख में आप सभी का स्वागत है। आज हम इस लेख में कंप्यूटर की पीढ़िया ( Generation Of Computer ) के विषय में पढ़ेंगे।

जानिए कंप्यूटर पीढ़ी के इतिहास बारे में - History of computer generation

दोस्तों, आज का युग यह Computer का युग है। इस Digital दुनिया में हम लोग Computer से घीरे हुए है। हमारे बहुत सारे काम Computer के बिना संभव नहीं है। आज कल सभी जगह जैसे की Company, School, College, Office, Hospital, संशोधन क्षेत्र आदि जगह Computer का इस्तेमाल हो रहा है।

चलिए अब जानते है की Computer कई साल पहले कैसा था और उसमे क्या – क्या बदलाव आये है। और वह बदलाव किस तरह से आये है। यह सब जानने के लिए आपको Computer की पीढ़ियों के बारे में जानना जरुरी है। तो चलिए दोस्तों, देर न करते हुए Computer पीढ़ी के बारे में जानते है।

Read more – kaise aaye duniya me computer

 

History of computer generation ( कंप्यूटर पीढ़ी का इतिहास ) :

Computer की पांच पीढ़ी है, और उनको निम्नलिखित 5 भागो में अलग – अलग किया है।

 

✱ First Generation ( 1940 – 1956 ) :

Computer की पहली पीढ़ी की अवधि वर्ष 1940 से वर्ष 1956 तक है। इस पीढ़ी के सभी Computer में व्हॅक्युम Tube का इस्तेमाल किया जाता था। इसी वजह से इस पीढ़ी के कंप्यूटर बहुत जल्दी गरम होते थे, और इसका आकार भी बहुत बड़ा होता था। इसमें डाटा सुरक्षित करने के लिए पंचकार्ड का इस्तेमाल होता था, जिसकी वजह से डाटा संग्रहण क्षमता बहुत कम और Processing काफी धीमी ( Slow ) होती थी। बहुत जल्द गरम होने के कारण से इसको ठंडा रखने के लिए AC का इस्तेमाल किया जाता था।

1. इस पीढ़ी के Computer में बहुत ज्यादा बिजली का इस्तेमाल होता था।

2. इस पीढ़ी के Computer बहुत महंगे होते थे।

3. और इस पीढ़ी के Computer में मशीनी भाषा ( Machine Language ) का इस्तेमाल होता था।

इस पीढ़ी के Computer के अन्य उदाहरण।

– ENIAC

– IBM-701

– IBM-650

– EDVAC

 

✱ Second Generation ( 1956 – 1963 )

Computer की दूसरी पीढ़ी की अवधि वर्ष 1956 से वर्ष 1963 तक है। इस पीढ़ी के Computer में Transistor का इस्तेमाल किया गया था। इस पीढ़ी के Computer की Processing Speed पहले पीढ़ी के Computer से ज्यादा थी। इस पीढ़ी के Computer आकार में छोटे और बिजली का उपयोग भी कम करने वाले थे। पहली पढ़ी के तुलना में इस पीढ़ी के Computer सस्ते थे, इस पीढ़ी के Computer में भी पहले पीढ़ी जैसे Input के लिए पंचकार्ड एवं Output के लिए Printout का इस्तेमाल होता था।

∎ इस पीढ़ी के Computer में Assembly Language का इस्तेमाल होता था।

∎ इस पीढ़ी के Computer में High Level Language जैसे की COBOL और FORTRAN का आविष्कार किया गया।

इस पीढ़ी के Computer के अन्य उदाहरण ।

– IBM-1401

– IBM-7090

– IBM-7094

– UNIVAC-1107

 

यह भी जरूर पढ़े :

1. योग और घरेलू उपचार के साथ पाचन शक्ति बढ़ाएं

2. प्रकृति में है, सभी बीमारियों का उपचार

3. एक्यूप्रेशर का सिद्धांत क्या है

4. दिमाग का परिचय

 

✱ Third Generation ( 1964 – 1971 )

इस पीढ़ी के Computer की अवधि वर्ष 1964 से वर्ष 1971 तक थी। इस पीढ़ी के Computer में IC का इस्तेमाल होता था इसिलिए इस पीढ़ी के Computer आकार में छोटे और Processing में Fast होते थे। इस पीढ़ी के Computer में Input के लिए Keyboard एवं Output के लिए Monitor का इस्तेमाल होता था। इसकी किंमत पहले पीढ़ियों से कम थी, और पहले दो पीढ़ियों के तुलना में इस Computer में कम बिजली खपत और कम गरमी पैदा होती थी।

∎ इस पीढ़ी के Computer में Operating System का इस्तेमाल होने लगा।

∎ इस पीढ़ी के Computer में High Level Language का विकास किया गया जैसे BASIC आदि।

इस पीढ़ी के Computer के अन्य उदाहरण।

– IBM-370

– IBM-168

– PDP

 

✱ Fourth Generation ( 1971 – 1980 )

इस पीढ़ी के Computer की अवधि वर्ष 1971 से वर्ष 1980 तक थी। इसमें माइक्रोप्रोसेसर का इस्तेमाल होता था, एवं बाइनरी संख्या 0 और 1 कोडित किया गया था। इस Computer की storage Capacity अधिक होती थी, और साथ ही आकार में कम एवं Processing Speed ज्यादा होती थी। इस पीढ़ी के Computer को लोगो ने बहुत पसंद किया क्योकि Computer Portable और Reliable थे।

1. इसमें बिजली की खपत कम होती थी।

2. यह Computer अधिक गरम नहीं होते थे।

3. यह Computer पिछली पीढ़ी के Computer के तुलना में स्वस्त होते थे।

इस पीढ़ी के Computer के अन्य उदाहरण।

– IBM-4341

– DEC-10

– APPLE-II

– STAR-1000

 

✱ Fifth Generation ( 1980 – वर्तमान )

इस पीढ़ी के Computer की अवधि 1980 से लेकर वर्तमान तक है। इसमें Artificial Intelligence का इस्तेमाल किया गया है। यह Computer ULSI की तकनीक पर आधारित है। इस पीढ़ी के Computer पहले चारो पीढ़ी के Computer की तुलना में आकार में छोटे, किंमत में कम, Processing में Fast, कम बिजली की खपत, कम गरमी करनेवाले और रिलाएबल है।

∎ इसमें GUI ( Graphical User Interface ) की मदत से Computer इस्तेमाल करना आसान किया है।

इस पीढ़ी के Computer के अन्य उदाहरण।

– PARAM SUPER COMPUTER

– IBM SP/2

– IBM NOTEBOOK

– PENTIUM PCs

यह भी जरूर पढ़े :

1. जल और मिट्टी को कैसे बचाएं

2. पर्यावरण संबंधी परेशानियाँ

3. उल्टी पर करें घरेलु उपचार

4. जंगल को कैसे बचाए

 

संबंधित कीवर्ड:

कंप्यूटर की पीढ़ी का इतिहास – History of computer generation, कंप्यूटर की पीढ़ी – Generation of Computer,

 

दोस्तों, यह मेरा इस वेबसाइट पर पहला आर्टिकल है, उम्मीद है की आपको कंप्यूटर की पीढ़ी का इतिहास – History of computer generation यह आर्टिकल पसंद आया होगा। यदि आपको यह आर्टिकल उपयोगी लगता है, तो निश्चित रूप से इस लेख को आप अपने दोस्तों एवं परिचितों के साथ साझा करें। और ऐसे ही Technical रोचक आर्टिकल की जानकारी प्राप्ति के लिए हमसे जुड़े रहे।

धन्यवाद।

 

Author By :टेकचंद सर …

यह भी जरुर पढ़े

1.  RCC कॉलम तैयार करे

2.  इंजिन का कार्य 

3.  PUC कैसे बनाए 

4.  ट्रांसमिसन का कार्य

5.  मायक्रोमीटर का कार्य 

6.  फेरोसिमेंट बनाने के तरीके

7.  गुणकारी दही के लाभ 

8.  तुलसी है एक वरदान 

9.  घुटने दर्द होने पर ट्रीटमेंट करे

1.  नए आविष्कार वाले हेलमेट

2.  BS-4 वाहन के स्ट्रोंग फीचर्स

3.  इलेक्ट्रिकल कैसे कम करती है 

4.  रस्ता संकेत 

5.  वाहनों का आविष्कार 

6.  पहिए का आविष्कार 

7.  पढाई कैसे करे 

8.  ट्रांसफोर्मर का कार्य 

9.  मल्टीमीटर का उपयोग

Post Comments

error: Content is protected !!