Introduction to electrical color code – Electrical कलर कोड का परिचय

Electrical कलर कोड का परिचय – Introduction to electrical color code, Resistance कलर कोड की जानकारी – Resistance Color Code Information, Resistance कलर कोड का परिचय – Resistance Color Code Introduction, कलर कोड कैसे पहचानें – How to recognize color codes, विद्युत प्रणाली में रंग कोड का महत्व – Importance of color code in electrical system, इलेक्ट्रिकल कलर कोड क्या है – What is the electrical color code, कलर कोड से रंगो की कीमत कैसे निकाले – How color prices get out of color codes, सभी जानकारी हिंदी में.

नमस्कार, apnasandesh.com पर आप सभी का स्वागत है. दोस्तों आज के लेख में हम इलेक्ट्रिकल सिस्टम में रंगो के कोड की पहचान कैसे बनाए या कलर कोड क्या है इसके बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त करेंगे.

Electrical कलर कोड का परिचय - Introduction to electrical color code

 

Electrical कलर कोड का परिचय – Introduction to electrical color code :-

किसी भी इलेक्ट्रिकल सर्किट में, हमेशा कम कीमतों के प्रतिरोध का उपयोग करते है. विभिन्न रंग कोड रंगों में पट्टे पर दिए होते हैं. इन रंगों की संख्या से उनकी कीमत बताई जाती है. यह विधि को रंग कोड पद्धत व्यक्त की जाती है. इस पद्धति को विरोध की पूर्ण कीमत नहीं मिलती, इसलिए कलर कोड से विरोध की कीमत कम हो जाती है.

इस विधि में, हर एक रंग को एक मूल्य दिया गया है. विरोध पर जिस नंबर से रंगों के पट्टे दिए हुए होते हैं उनका भी एक विशेष महत्व होता है.

 

रंगों की कीमत कोड :-

Electrical कलर कोड का परिचय - Introduction to electrical color code

कलर कोड से रंगो की कीमत कैसे निकाले- How color prices get out of color codes :-

Exa.

Electrical कलर कोड का परिचय - Introduction to electrical color code

पहला रंग – तपकिरी – 1

दूसरा रंग – बैगनी – 2

तीसरा रंग – नारंगी – 1000 गुणक की कीमत

विरोध की कीमत – 12000 = 12 किलो Ohm

 

ठिपको के विरोध :-

कुछ छोटे विरोधों के बीच में एक इंजन पट्टा होता है. वैसे, इसके कोने का हिस्सा रंगीन रहता है, ऐसे प्रतिरोध की कीमत निकालते समय, विरोध का मूल रंग, पास का रंग और पट्टो का रंग उनसे खींचा जाता है.

मूल रंग – प्रथम रंग

पास वाला रंग – दूसरा रंग

पट्टो का रंग – तीसरा रंग…….. गुणक कीमत

 

Exa.

Electrical कलर कोड का परिचय - Introduction to electrical color code

मूल रंग (प्रथम रंग) – नारंगी – 3

पास वाला रंग (दूसरा रंग) – पीला – 4

पट्टो का रंग (तीसरा रंग) – बैगनी – 2

विरोध की कीमत = 3400 Ohm

Read More – electric resistance ka basic function 

 

बिजली बोर्ड में इस्तेमाल किए जाने वाले विरोध के प्रकार – Types of protests used in the electricity board :-

जब एक सर्किट में बाधाएं निर्माण करने के लिए विरोध का उपयोग करते तब उसको रजिस्टर नाम से व्यक्त किया जाता है. Resistance के मुख्य कार्य मतलब बिजली सर्किट में से बहता प्रवाह मर्यादित करने हेतु और कुछ ठिकानों पर वोल्टेज ड्रॉप करना यह इसका मुख्य उद्देश्य है. यह Resistance उसकी कीमत और उनमें की कितनी Watt Power खर्च होता है यह उस पर निर्भर रहता है.

इस प्रकार के Resistance एक Ohm से लेकर Mega Watt तक उपलब्ध रहते हैं.

 

रजिस्टर के वर्गीकरण :-

Electrical कलर कोड का परिचय - Introduction to electrical color code

Wire wrap Resistance :-

यूरेका जैसे धातु की तार सिरेमिक जैसे रोधक के माध्यम से लपेटे हुए Resistance बनाए जाते हैं. इस Resistance को साधारण मिक्स धातु का उपयोग किया गया है. जैसे Copper, iron, nickel, chromium, zinc, magnesium धातु आदि में Resistance का उपयोग बहुत प्रमाण में करते हैं. यह Resistance विविध प्रकार में उपलब्ध रहता है.

 

कार्बन Resistance :-

कार्बन और ग्रेफाइट से विविध जाडी के रॉड बनाए जाते हैं और यह रॉड को कार के लिए आवश्यक रहने वाले Resistance बनाए जाते हैं. अत्यधिक कार्बन और ग्रेफाइट विशिष्ट प्रतिरोध के कारण, तारों को लपटने के लिए छोटे आकार में भी Resistance बनाए जाते है.

 

कायम कीमत रहने वाली :-

ऐसे Resistance की कीमत कायम रहती है. इनका उपयोग सभी ठिकानों पर किया जाता है. इन Resistance के दोनों तरफ पॉइंट बाहर निकले रहते हैं, या फिर यह कार्बन धातु के भी रह सकते हैं.

 

बदलने वाली Resistance :-

1. Revostat,

2. Trapping Resistance,

3. Lighting Fixtures Pending Resistance,

4. Price change register in temperature,

5. Competent register,

 

दोस्तों, उम्मीद है की आपको  यह आर्टिकल पसंद आया होगा। यदि आपको यह लेख उपयोगी लगता है, तो इस लेख को अपने दोस्तों और परिचितों के साथ ज़रूर साझा करें। और ऐसे ही रोचक लेखों से अवगत रहने के लिए हमसे जुड़े रहें और अपना ज्ञान बढ़ाएँ।

धन्यवाद…

 

Author By :- Yogesh Chaudhari

 

यह भी जरुर पढ़े

1. नीबू के महत्वपूर्ण गुण

2. पुदीना के जबरदस्त फायदे

3. पनीर सलाद कैसे बनाए

4. रक्त और हिमोग्लोबिन

5. विटामिन के लाभ

6. संतुलित आहार के फायदे

7. 5 ” S ” का महत्व

8. नए आविष्कार वाले हेलमेट

9. BS-4 वाहन के स्ट्रोंग फीचर्स

10. इलेक्ट्रिकल कैसे कम करती है

11. रस्ता संकेत

12. वाहनों का आविष्कार

13. पहिए का आविष्कार

14. पढाई कैसे करे

15. ट्रांसफोर्मर का कार्य

16. मल्टीमीटर का उपयोग

Post Comments

error: Content is protected !!