Loshu-Grid | जन्म तिथि से अपना भविष्य जानिए इन हिंदी

Loshu-Grid. जन्म तिथि से अपना भविष्य जानिए – Know your future from birth date, जन्म तारीख के आधार पर जानिए अपना भविष्य-Know your future based on your date of birth, अपना भविष्य कैसे जाने-How to know your future, जन्म तारीख से जानिए अपनी शक्ति-Know your power from date of birth, जन्म तारीख से पता लगाए अपने भविष्य की दुनिया-From the date of birth it is determined that you are in the future world,

नमस्कार दोस्तों, apnasandesh.com पर आप सभी का स्वागत है. आज का हमारा आर्टिकल उन लोगो के लिए है जो अपने नशीब और Future को अपने जन्म तिथि के आधार पर विश्वास रखते है.

Loshu-Grid - जन्म तिथि से अपना भविष्य जानिए

दोस्तों हम जानेंगे Loshu-Grid के बारे में जो हमारे जन्म तिथि के आकड़ो के अनुसार हमे अपना भविष्य जान पाएंगे. इससे हम जान पाएंगे की अपनी कमजोरी क्या है, हमारा Strangeness क्या है, हम किस क्षेत्र में Lead कर पाएंगे, हमारा स्वभाव क्या होगा, और कितनी मेहनत के बाद सफल होंगे यह सब हम जान पाएंगे सिर्फ अपने जन्म तिथि के आकड़ो से तो चलिए दोस्तों बिना देर किय जानते है क्या है Loshu-Grid.

जन्म तिथि से अपना भविष्य जानिए – Know your future from birth date :-

क्या है Loshu-Grid :-

यह एक Chinese Numerology है, जो की एक 3 * 3 का एक Magic Square है. उस Square में कुल 9 आकड़े है, जो हमे अपने नंबर से हमारे राशि के ग्रहो से जोड़े जाते है. यह काफी Popular एक योजना है, दोस्तों काफी लोग अपने बच्चो का Loshu-Grid के आधार पर उनकी रूचि पहले से ही जान लेते है और उन क्षेत्रों में उनको पढाई कराते है. बड़े-बड़े Business Man भी Loshu-Grid के आधार पर अपने Business का आय बढ़ाते है या अपने Business का क्षेत्र निश्चित करते है.

Read more – hamare saurmandal ki jankari

Loshu-Grid Square क्या है और यह कैसे काम करता है :-

जन्म तिथि से अपना भविष्य जानिए - Know your future from birth date

इस प्रकार का Loshu-Grid का Square होता है. बिच में 5 नंबर है वह बुध (Mercury) गृह का प्रतिक होता है

पहले Column में 4, 3, 8 नंबर है.

4- यह राहु का प्रतिक होता है.

3- यह गुरु का प्रतिक होता है.

8- यह रानी का प्रतिक होता है.

दूसरे Column में 9, 5, 1 नंबर है.

9- यह मंगल ग्रह का प्रतिक है.

5- यह बुध ग्रह का प्रतिक होता है.

1- यह सूर्य ग्रह का प्रतिक होता है.

तीसरे Column में 2, 7, 6 नंबर है.

2- यह मून का प्रतिक होता है.

7- यह केतु का प्रतिक होता है.

6- यह शुक्र का प्रतिक होता है.

जन्म तिथि से अपना भविष्य जानिए - Know your future from birth date

अब आप जान गए होंगे दोस्तों की किस ग्रह के लिए कौनसा नंबर है. और नंबर कौनसे Block में लिखना चाहिए. हम अब जानेंगे अपने जन्म तारीख के आधार पर ग्रहो की दिशा के बारे में.

उदा. के लिए हम एक जन्म तारीख लेते है 1-7-1964 अब इसे हम Loshu-Grid के Square में रखेंगे.

जन्म तिथि से अपना भविष्य जानिए - Know your future from birth date

इस प्रकार हम अपनी जन्म तारिक को Loshu-Grid के Square में रखते है. इसके बाद समजने के लिए प्रथम हम जानते है 1 से 9 अंको और उन ग्रहो के गुणों के बारे में और एक लाइन में आने वाले Plane के बारे में.

Know your future from birth date

जन्म तिथि से अपना भविष्य जानिए - Know your future from birth date

Mental Plane :-

जिसके पास 4, 9, 2 ये नंबर होते है वह Mental Plane में आते है. यह लोग Sharp Memory वाले, Sharp Brain, Intercultural और Good Mentality के होते है.

Emotional :-

Very Emotional, Interested in जोशिष Science, Good Human Being, Good Communication Skill .

Practical :-

Good Observer, Good Visionary, (दूरदर्शी), Main Talented, Successful in Life

Thought :-

Sharp Brain, High Thinking Person, Good Planner, Good In Politics.

Will Plane :-

Good Communication Skill, Strong Will Power, Fighting Spirit, Down to Earth, Mental Stable, Romantic Successful.

Action :-

Good Physical Energy, No संयम , Quick decision power, Strong Action.

Plane 1 :- (4, 5, 6) – Very Good, Lucky, Successful in Desired Field.
Plane 2 :- (2, 5, 8) – Very Good, Successful in Property Business, Real Estate Business.

Number :-

रवि (सूर्य) :- यह ऊर्जा वाला ग्रह है, इस ग्रह वाले लोगो में Excitement बहुत ज्यादा होती है. यह कर्म वाले लोग होते है.

चंद्र (मून) :- यह मन का ग्रह होता है, विचारो का यह ग्रह होता है. इनकी कल्पना शक्ति अच्छी होती है.

गुरु :- यह ग्रह वाले लोग ज्ञानी होते है, अच्छी शिक्षा वाले होते है. ये किसी भी बात को अच्छा Explain कर सकते है.

राहु :- यह ग्रह दुसरो की इच्छा शक्ति जागृत करता है. दुसरो को शिकाने वाला ग्रह है. लेकिन इस ग्रह को Support करने वाला अच्छा ग्रह चाहिए, वरना ये परेशानी में रहते है, वह लोग अपना काम नहीं कर पाते उनको किसी अच्छे ग्रह वाले व्यक्ति का साथ चाहिए.

बुध :- यह लोग बुद्धिमान होते है. गणित में Strong होते है, Business में Strong होते है. और भाग्यशाली भी होते है.

Number :-

शुक्र :- यह खूबसूरती वाला ग्रह है, जहा भी खूबसूरती होती है, यह ग्रह वहा जुड़ जाता है. चेहरे की खूबसूरती, Life की खूबसूरती, घर की खूबसूरती यह सब इस ग्रह का काम है. यह सुख शांति वाला ग्रह है. यह राजपाठवला ग्रह है इसका लक्ष Fix रहता है.

केतु :- यह शरीर से Related ग्रह है, यह ग्रह राशि में नहीं रहा तो शारीरिक कमजोरी रहती है. यह स्वभाव से शांत होता है. थोड़े आध्यात्मिक होते है. तंत्रमंत्र से जुड़े होते है.

शनि :- यह न्यास वाला ग्रह है, इन्हे काम करना पसंद है. धोकेबाजी पसंद नहीं है, अगर यह ग्रह बिगड़ गया तो इंसान का स्वभाव भी बिगड़ जाता है. कभी कभी बुरी हरकतों को भी यह ग्रह वाले लोग अपना लेते है.

मंगल :- यह क्रूरता वाला ग्रह है, यह बिगड़ गया तो झगड़ा, चिड़चिड़ करना आदि. यह इंसान शांत नहीं रहते, यह एक जगह से बैठने वाले काम नहीं कर सकते. इनकी ऊर्जा दुसरो को नुकसान पहुँचती है. इसलिए कहते है की एक मांगलिक की दूसरे मांगलिक से ही शादी करनी चाहिए. क्योकि वह एक दूसरे की ऊर्जा को समाप्त करते है.

conclusion

तो दोस्तों इस प्रकार हम अपने जन्म तिथि से अपने स्वभाव के बारे में जान सकते है, या अपने पाल्य तथा अपने साथीदार इसके स्वभाव के बारे में जान सकते है.

तो दोस्तों जन्म तिथि से अपना भविष्य जानिए – Know your future from birth date के बारे में जाना है. दोस्तों आज का लेख आपको उपयोगी लगता है, तो अपने परिचितों तथा मित्र को साझा करो. अगले लेख में हम कुंडली के बारे में जानकारी देंगे तब तक के लिए हमसे जुड़े रहे www.apnasandesh.com पर और ऐसे ही लाभकारी जानकारी प्राप्त करते रहें. और अपना ज्ञान बढ़ाएँ.

धन्यवाद…

हसते रहे – मुस्कुराते रहे…

Author By :- सचिन कोठे सर

यह भी जरुर पढ़े

1.  गुणकारी दही के लाभ 

2.  तुलसी है एक वरदान 

3.  घुटने दर्द होने पर ट्रीटमेंट करे

4.  रेसिपीज बनाने के  तरीके 

5.  नीबू के महत्वपूर्ण गुण 

6.  पुदीना के जबरदस्त फायदे 

7.  पनीर सलाद कैसे बनाए 

8.  रक्त और हिमोग्लोबिन 

9.  विटामिन के लाभ 

10.  संतुलित आहार के फायदे 

11. 5 ” S ” का महत्व 

1. पहिए का आविष्कार 

2.  पढाई कैसे करे 

3.  ट्रांसफोर्मर का कार्य 

4.  मल्टीमीटर का उपयोग

5.  पिस्टन रिंग का उपयोग 

6.  सफल होने का रहस्य 

7.  वाहन मेंटेनन्स बनाए रखे 

8.  अंग्रेजी बोलने के तरीके 

9.  प्रदुषण कैसे नियत्रण करे 

10.  अंग्रेजी बोलने के टिप्स 

11.  जी आय पाइप फिटिंग

Post Comments

error: Content is protected !!