How to use Spanner – Automobile me पाना का उपयोग कैसे करे?

पाना का उपयोग कैसे करे – How to use Spanner, Spanner किसे कहते है – Who is the Spanner, Spanner का रखरखाव कैसे करे – How to maintain a Spanner, Spanner का उपयोग कैसे करे, Spanner का उपयोग क्या है, (पाना) Spanner का परिचय – Introduction to Spanner, Spanner (पाना) कितने प्रकार के होते हैं – How many types of Spanner are, इंजिनीअरिंग वर्क शॉप में (पाना) Spanner का उपयोग – Use of Spanner in the engineering work shop, Spanner क्या है – What is the Spanner सभी जानकारी हिंदी में.

नमस्कार दोस्तों apnasandesh.com में आप सभी का हम स्वागत करते है. आज के लेख में हम बात करते है स्पेनर की, जिसे हम पाना – रिंग पाना भी कहते है.

पाना का उपयोग कैसे करे - How to use Spanner

 

How to use Spanner – Automobile me पाना का उपयोग कैसे करे? :-

Spanner (पाना) का परिचय – Introduction to Spanner :-

दोस्तों स्पेनर का उपयोग हर क्षेत्र में किया जाता है. जैसे की ऑटोमोबाइल कंपनी, इंडस्ट्री, छोटे बड़े वर्क शॉप और प्लम्बर और यही नहीं बल्कि अपने घर पर भी किसी ना किसी तरह से काम में आने वाले यह टूल्स है. प्रत्येक मशीन या फिर इंजन, इनके पार्ट्स को जोड़कर तैयार किया जाता है, प्रत्येक मशीन के पुर्जो को जोड़ने के लिए नट बोल्ट का उपयोग कसने और खोलने के लिए किया जाता है, इन स्पेनर को ड्रोप फोर्ज स्टील ( Drop forged steel ) में तैयार किया जाता है.

यह भी पढ़े ☛ हैमर का उपयोग कैसे करे

यह भी पढ़े ☛ वाइस का उपयोग कैसे करे

 

स्पेनर के प्रकार – Types ऑफ़ Spanner :-

1. ओपन एंडेड स्पेनर (Open Ended Spanner)

2. रिंग स्पेनर (Ring Spanner)

3. सिंगल एंडेड स्पेनर (Single Ended Spanner)

4. डबल एंडेड स्पेनर (Double Ended Spanner)

5. कॉम्बिनेशन रिंग एंड ओपन एंडेड स्पेनर (Combination Ring and Open Ended Spanner)

6. बॉक्स टाइप स्पनेर (Box Type Spanner)

7. सॉकेट स्पेनर (Socket Spanner)

8. ट्यूबलर स्पेनर (Tubler Spanner)

9. टम्बल स्पेनर (Tumble Spanner)

यह भी पढ़े ☛ Chisel का उपयोग कैसे करे

 

ओपन एंडेड स्पेनर – Open Ended Spanner :-

दोस्तों हम जो घर पर साधा पाना प्रयोग में लाते है उसे इंग्लिश में Spanner कहते है. Spanner की बनावट अलग-अलग प्रकार की होती है. इनमे एक मुह वाले स्पेनर को सिंगल एंडेड स्पेनर और डबल मुह वाले स्पेनर को डबल एंडेड स्पेनर कहते है. डबल एंडेड स्पेनर से दोनों और से नट बोल्ट कसे और खोले जाते है. डबल एंडेड स्पेनर छोटे और बड़े आकर के मिल जाते है. इस स्पेनर को उतना ही टेंशन दिया जाये जितना की इसकी कैपेसिटी हो वरना यह स्लिप, और टूट भी सकता है.

ब्रिटिश साइज़ के हिसाब से सभी स्पेनर के अलग अलग साइज़ होते है इसमें 3/8 इंच से लेकर 1.1/4 इंच के साइज़ तक के स्पेनर होते है.

और उसी प्रकार यह 6 मिलीमीटर से लेकर 27 मिलीमीटर तक इन स्पेनर का साइज़ आसानी से बाजार में मिल जाते है.

 

रिंग स्पेनर – Ring Spanner  :-

रिंग स्पेनर के सिरे पर एक अलग प्रकार के एंगल के सहारे झुका हुआ होता है, और इसके अन्दर मशीन के व्दारा कट लगाय जाते है ताकि किसी भी नट बोल्ट को मजबूती से पकड़ा जा सके. इस तरह के स्पेनर ओपन एंडेड स्पेनर की तुलना में जादा मजबूती से इनकी पकड़ होती है, और इनमे स्लिप होने का खतरा भी नहीं रहता है. अच्छी तरह टॉर्क से कसा जा सकते इसके लिए साइज़, थ्रेड्स और बोल्ट पर भी निर्बर होता है.

 

बॉक्स टाइप स्पनेर – Box Type Spanner  :-

इस तरह के स्पेनर से अधिक से अधिक मजबूती के कार्य करने के लिए किया जाता है.क्योंकि इस स्पेनर का मुह चारो और से बंद होता है, और इस स्पेनर का उपयोग करने पर आसानी से कोई भी कार्य पूरा किया जाता है. चारो और से मुह बंद होने के कारन इससे स्लिप होने का डर नहीं लगा रहता.

यह भी पढ़े ☛ टार्क रेंच का उपयोग कैसे करे

यह भी पढ़े ☛ Engine ki Definition kaise kare

 

सॉकेट स्पेनर – Socket Spanner :-

इस तरह के स्पेनर का उपयोग वहां किया जाता है जहां नट बोल्ट गहराई में लगे होते है. और जहां अधिक टार्क या फिर कसने की आवश्यकता हो. यह स्पेनर बॉक्स स्पेनर से मिलता जुलता होता है, और यह स्पेनर फोर्ज स्टील के बने होते है, यह स्पेनर मिलीमीटर और इंच में मिलते है, इनको अपने देशी भाषा में गोटी भी कहते है. क्योंकि यह गोलाकार होते है, इसमें कट लगे रहते है जिससे की ज्यादा मजबूती से पकड़ रख सके, और इसके दुसरे सिरे को होल को टौमी होल कहते है. इस स्पेनर के साथ Long Extension Rod, Speed ​​Handle, Richest, Universal Joint, Socket भी मिलते है.

 

ट्यूबलर स्पेनर – Tubular Spanner :-

ट्यूबलर स्पेनर की पाइप खोखली होती है. यह स्टील का बना होता है. इस स्पेनर की एक सिरे की और hexagonal की तरह 6 साइड होती है जो पकड़ने में मजबूती प्रदान करती है, और नट को अच्छी तरह पकड़ बनाये रख सके. इस पेनर के शेंक में दो होल होते है, इस छेद के माध्यम से इसमें एक रॉड डालकर नट को अच्छी तरह खोलना या कसना कर सकते है. ट्यूबलर स्पेनर का एंड का सिरा दो साइज़ में होता है एक छोटा और एक बड़ा होता है, इसका प्रयोग अधिकतम गहराही वाले भाग में किया जाता है.

यह भी पढ़े ☛ प्लायर्स का उपयोग कैसे करे

यह भी पढ़े ☛ Electrical कलर कोड का परिचय

 

सावधानिया – Safety Precaution :-

1. ओपन एंडेड स्पेनर का प्रयोग करते समय सावधानी पूर्वक काम करना चाहिए,

2. कभी भी स्पेनर को OIL लगा हो तो उसे अच्छी तरह साफ कर लेना चाहिए,

3. OIL लगने के कारन स्पेनर स्लिप हो सकता है, और उससे चोट भी लग सकती है,

4. स्पेनर का उपयोग होने पर उसे साफ करके टूल बॉक्स में रख दे, इधर उधर न रखे.

5. स्पेनर के अनुसार उसमे जितनी Capacity हो उसे देख कर ही उसका उपयोग करे,

6. स्पेनर पर बहुत अधिक ताकत न लगाये इसके कारन वह टूट सकता है,

7. स्पेनर पर कभी भी हतोड़ा (हैमर) से ठोक-पीठ नहीं करनी चाहिए,

8. वर्कशॉप में काम करते समय ज्यादा से ज्यादा रिंग स्पेनर का उपयोग करे ,

9. रिंग स्पेनर की पकड़ मजबूत होती है और स्लिप भी नहीं होने का खतरा नहीं रहता,

10. स्पेनर का उपयोग बड़ी ही सावधानी से करना चाहिए,

दोस्तों, उम्मीद है की आपको पाना का उपयोग कैसे करे – How to use Spanner यह आर्टिकल पसंद आया होगा. यदि आपको यह लेख उपयोगी लगता है, तो इस लेख को अपने दोस्तों और परिचितों के साथ ज़रूर साझा करें. और ऐसे ही रोचक लेखों से अवगत रहने के लिए हमसे जुड़े रहें और अपना ज्ञान बढ़ाएँ.

धन्यवाद…

हसते रहे – मुस्कुराते रहे…..

 

Author By:- Prashant Sayre Sir

 

यह भी जरुर पढ़े  :-

1.  नए आविष्कार वाले हेलमेट 

2.  BS-4 वाहन के स्ट्रोंग फीचर्स 

3.  इलेक्ट्रिकल कैसे कम करती है 

4.  रस्ता संकेत 

5.  वाहनों का आविष्कार 

6.  पहिए का आविष्कार 

7.  पढाई कैसे करे 

8.  ट्रांसफोर्मर का कार्य 

9.  मल्टीमीटर का उपयोग 

10.  पिस्टन रिंग का उपयोग 

11.  सफल होने का रहस्य 

Post Comments

error: Content is protected !!