What is the truth of mangal gem coral – मंगल रत्न मूंगा का सच क्या है

मंगल रत्न मूंगा का सच क्या है. What is the truth of mangal gem coral क्या है मंगल रत्न मूंगा का सच, Mangal Ratna Munga aur benefits,  मंगल रत्न मूंगा का परिचय (Introduction to Mangal Ratna Coral), Ratna aur uske fayde aue Vishestaye in Hindi.

What is the truth of mangal gem coral - मंगल रत्न मूंगा का सच क्या है. Mangal Ratna Munga benefits

What is the truth of mangal gem coral – मंगल रत्न मूंगा का सच क्या है :

Mangal Ratn Munga ke bare me Jankari: मंगल रत्न मूंगा का लाभ कैसे प्राप्त करें – How to get the benefit of the Mars Gem coral, मंगल रत्न मूंगा क्या है, मंगल रत्न मूंगा का इतिहास, मंगल रत्न मूंगा की उत्पत्ति कब हुई? मंगल रत्न मूंगा का उपयोग कैसे करें – How to use mangal gem coral, मंगल रत्न मूंगा पहनने की विधि – Mangal gemstone, सभी जानकारी हिंदी में.

नमस्कार www.apnasandesh.com में आप सभी का हार्दिक स्वागत करते है. आज के लेख में हम आपको मंगल रत्न मूंगा के बारे में जानकारी देंगे, तो आइये दोस्तों जानते है मंगल रत्न मूंगा क्या है.

Read More – Manik Ratna ka parichay aur History

Read More – Chandra Ratna Moti ka Prichay aur History

What is the truth of mangal gem coral (मंगल रत्न मूंगा का परिचय):-

मूंगा पॉलीप का एक शांत, और कंकाल की तरह जमा होता है- एक छोटा सा अकशेरूकीय जो शांत पानी में रहता है और 20 से 1,000 फीट की गहराई पर पाया जाता है. मूंगा का रंग उस गहराई पर निर्भर करता है जिस पर यह पाया जाता है – 160 फीट नीचे इसका रंग हल्का होता है. सबसे अच्छे रंग के मूंगे 100 से 160 फीट की गहराई के बीच पाए जाते हैं. यह लाल और गुलाबी रंग के कई रंगों में पाया जाता है.

रंग आमतौर पर सफेद से गुलाबी तक सिंदूर लाल और गहरे लाल रंग का होता है. पीले गेरू, क्रीम, चॉकलेट और काले रंग के कोरल में भी उपलब्ध होते हैं. एक अच्छा प्रवाल जो मंगल ग्रह से संबंधित है और ज्योतिषियों द्वारा सुझाया गया है, यह मणि चिकित्सक और जौहरी मूंगा है, जो अच्छी तरह से पकने वाले बिंब फल या एक पके चेरी जैसा दिखता है. (मंगल रत्न मूंगा का उपयोग कैसे करें – How to use mangal gem coral)

मूंगा वास्तव में एक प्रकार का पत्थर है, जो नदी में समुद्र की चट्टानों में पाया जाता है. कई बार, ये चट्टानें बहुत लंबी, चौड़ी, ऊंची भी होती हैं. जिससे रत्न का रंग मूंगा के रूप में देखा जाता है. मूंगा ऑस्ट्रेलिया, बर्मा, इटली, हिंद महासागर, भूमध्य सागर जैसे कई समुद्री क्षेत्रों में पाया जाता है. यदि आप रासायनिक दृष्टिकोण को देखते हैं, तो मूंगा कैल्शियम कार्बोनेट का एक घटक है.

दोस्तों, आप जानते ही होंगे कि मूंगा रत्न मंगल ग्रह का प्रतिनिधित्व करता है, और हमारे जीवन पर मूंगा रत्न कितना प्रभावशाली है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, मास, मज्जा, बड़े भाई, स्वयं के अधिकार, क्रोध, मोह, माया, युद्ध कौशल नियंत्रण, तेज, उग्र, बहुत पराक्रमी, शस्त्र, धातु, भूमि, पत्थर, इन सभी उच्च विषयों प्रवाल रत्न से संबंधित कार्य अच्छे और बुरे होते है.

मूंगा के प्रकार और बनावट :-

दोस्तों सायद ही आप जानते होंगे की मूंगा लाल रंग का होता है. लेकिन अलग-अलग समुद्री क्षेत्रो से मिलने के कारन इसका रंग भी भिन्न भिन्न रहता है. गुलाबी, श्वेत, काले, और मटमैले इस तरह के मुंगे सहज तरीके से मिल जाते है. इनके रंगों के आधार पर ब्राम्हण, क्षत्रीय, वैश्य, और शुद्र इन सबको मुंगे के रूप में नामकरण किया जाता है.

यह भी जरुर पढ़े :-

1. नए आविष्कार वाले हेलमेट

2. BS-4 वाहन के स्ट्रोंग फीचर्स

3. इलेक्ट्रिकल कैसे कम करती है

मुंगे की गुण और विशेषताए :-

1. मूंगा हमेशा चमकदार, चिकना, कोनदारम और दुसरो पथरो से अधिक भार वाला होता है,

2. मुंगे को अगर किसी व्यक्ति के रक्त के ऊपर रखा जाये तो मुंगे के आस पास का रक्त जम जाता है,

3. एक ग्लास दूध लेकर मुंगे को अगर दूध में रखा जाये तो दूध का रंग लाल जैसा प्रतीत होता है,

4. मुंगे को अगर सूर्य की तेज धुप में कागज या फिर रुई पर रखेने से थोड़ी देर में कागज जल जायेंगा और रुई भी जल जाएँगी, (मंगल रत्न मूंगा का उपयोग कैसे करें – How to use mangal gem coral)

5. असली मुंगे पर पानीदार हल्के तेजाब की बुँदे डालने से झाग उत्पन्न होता है,

Mangal Ratna Munga benefits

मुंगे के दोष :-

रंग दोष :-  मुंगे में अगर लाल सिंदूरी रंग के अलावा किसी भी रंग का छोटा सा भी छीटा या फिर दाग हो तो काला धब्बा जो स्वास्थ को नष्ट करता है,

अगर मुंगे में लाख जैसा रंग और धब्बा हो तो वह व्यक्ति को शस्त्र से भयभीत कराता है,

दो या दो से अधिक रंग का मूंगा हो तो व्यक्ति के सुख, शांति, समृधि, एश्वर्य, इन सभी चीजो पर हानि पहुचाने वाला होता है,

व्यवसाय और मूंगा :- यदि किसी नोकरी पेशा व्यक्ति अपने उच्चधिकारी वर्ग को प्रसन्न रखना चाहता है या कृपा प्राप्त करना चाहता है, तो उसे मूंगा अवश्य धारण करना चाहिए,

सेना के अस्त्र, शस्त्र, धातु, भूमि, और विद्युत् इन सभी सामग्री से जुड़े व्यवसायी को मूंगा अवश्य धारण करना चाहिए, जिससे श्रेष्ट परिणाम मिल सके.

मूंगा और बीमारी :- अगर किसी व्यकित को रक्त से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या हो तो उसे मूंगा धारण करना चाहिए,

यदि किसी व्यक्ति को यकृत, मिर्गी, हर्दय, रोग पेट में दर्द, और आपरेशन की स्तिथि हो आदि के समय मूंगा धारण करने से लाभ मिलता है,

मंत्रो की सहायता से 10000 बार मंत्र का जाप करे, इतने मन्त्र एक दिन में संभव नहीं है इसलिए इन संख्या को ८ दिनों पूर्ण करे, मतलब उदा. मंगलवार से सुरु करके अगले मंगलवार तक जाप शुरू रखे, इस प्रकार प्प्राणप्रतिष्टित मूंगा रत्न को धारण करके अपेक्षित लाभ उठाये. (मंगल रत्न मूंगा का उपयोग कैसे करें – How to use mangal gem coral)

लेकिन दोस्तों आपको बता दे की इसका उपयोग करने से प्रथम अच्छे ज्योतिष या फिर मंगल रत्न मूंगा से वाकिब व्यक्ति की सलाह जरूर ले इससे आपको यह विधि ओर भी फायदेमंद साबित होगी.

Inspection supervision:

Overview:- What is the truth of mangal gem coral – मंगल रत्न मूंगा का सच क्या है (मूंगा के बारे में जानकारी)

Name:- mangal gem coral (मंगल रत्न मूंगा)

Colour:- It is found in many colors of red and pink.

Chemical approach:- Coral is a component of calcium carbonate,

Where is found (location):- A small invertebrate that lives in calm water. (Australia, Burma, Italy, Indian Ocean, Mediterranean Sea)

Category Name:- Coral is actually a type of stone.

Source –

Website:- https://www.amazon.in/Infinity-Stone-Mangal-Silver-Unisex/dp/B01EZRL3JA

दोस्तों, उम्मीद है की आपको मंगल रत्न मूंगा का सच क्या है – What is the truth of mangal gem coral यह आर्टिकल पसंद आया होगा. यदि आपको यह लेख उपयोगी लगता है, तो इस लेख को अपने दोस्तों और परिचितों के साथ ज़रूर साझा करें. और ऐसे ही रोचक लेखों से अवगत रहने के लिए हमसे जुड़े रहें और अपना ज्ञान बढ़ाएँ.

धन्यवाद…

हसते रहे – मुस्कुराते रहे…

Mangal Ratna Munga benefits

Author By :- Prashant Sayre Sir

आर्टीकल जरूर पढ़े…

1. बायोमेडिकल इंजीनियरिंग में करियर कैसे बनाये

2. Rain Gage बनाने के आसान तरीके

3. मेडिकल इंजीनियर कैसे बने

4. Ranu Mondal के बारे में रोचक बाते

5. माइक्रोबायोलॉजी में करियर कैसे बनाये

6. पेस्टीसाइड वैज्ञानिक कैसे बने

7. मीडिया डायरेक्टर कैसे बने

Post Comments

error: Content is protected !!