Interesting things about Hima Das – Hima Das के बारे में रोचक बाते

Hima Das के बारे में रोचक बाते – Interesting things about Hima Das, Hima Das के जीवन का सच – The truth of Hima Das’s life, हिमा दास के करिअर की शुरुआत – Hima Das’s career started, Hima Das की बायोग्राफी – Biography of Hima Das, Hima Das ke bare me Jankari. हिमा दास गोल्डन गर्ल का परिचय – Introducing Hima Das the golden girls, गोल्डन गर्ल Hima Das की पहचान – Hima Das की जीवनी, सभी जानकारी हिंदी में.

Hima Das के बारे में रोचक बाते - Interesting things about Hima Das

नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम भाग्यश्री है. apnasandesh.com पर यह मेरा पहला आर्टिकल है. मै टेक्निकल, अग्रीकल्चर तथा महत्वपूर्ण व्यक्तियो के बारे मे लिखना पसंद करती हु. उम्मीद करती हु कि आपको मेरा यह आर्टिकल पसंद आयेगा, तो चलिये दोस्तों जानते है The Golden Girl Hima Das के बारे मे.

 

Interesting things about Hima Das – Hima Das के बारे में रोचक बाते :-

Hima Das का परिचय –

हिमा दास का जन्म आसाम राज्य के एक छोटेसे गाव नगाव मे हुवा, जो की एक बडे शहर धिंग के पास है. हिमा दास के पिता का नाम रोणजीत दास तथा मा का नाम जोणाली दास है. हिमा दास को सब धिंग एक्सप्रेस के नाम से बुलाते है. हिमा दास के पिता एक किसान थे. हिमा दास अपने सभी पांच भाई बहनो मे सबसे छोटी है. उन्होने अपनी पुरी पढाई धिंग के एक पब्लिक स्कूल से की. हिमा दास को बचपन से हि फुटबॉल मे रुची थी, तथा वे अपने स्कुल के लडको के साथ फुटबॉल खेला करती थी.

Hima Das को अपना करियर फुटबॉल मे हि करना था, लेकीन उन्हे महिला फुटबॉल टीम मे जाने का अवसर नही मिल सका, कुछ दिनो बाद उनके स्कूल के हि फिजिकल एज्युकेशन के शिक्षक ने उन्हे तेज दौडने के लिये प्रोत्साहित किया और उनके कहने पर हिमा ने तेजी से दौडना शुरू किया. इससे उनके जीवन में कई बदलाव आए और वह एक गोल्डन गर्ल से पहचानी जाने लगी.

Read More – Safal hone ke rahashya

 

हिमा दास के करियर कि शुरुवात –

1. हिमा दास ने अपनी बारहवीं कि पढाई आसाम माध्यमिक विद्यालय से की, और वे तेजी से दौड़ने कि प्रक्टिस करती रही.

2. 2017 मे Youth welfare directorate द्वारा आयोजित किये गये आंतरिक ज़िला टूर्णामेन्ट मे पहली बार हिमा ने 100 मीटर और 200 मीटर कि दौड मे हिस्सा लिया था ओर वे जीत गयी थी.

3. हिमा ने यह दौड सस्ते से जुते पहनकर जिती थी. जिस गती से हिमा रेस मे अव्वल आई थी उन्हे देख कर सब हैरान रह गये.

4. हिमा कि तेजी से दौड़ने कि अद्भुत शक्ती को देख कर निपुण दास ने उन्हे ट्रेन करणे कि इच्छा जाहीर की और वे उन्हे अपने साथ ट्रेनिंग हेतू गुवाहाटी ले जाना चाहते थे.

5. हिमा का परिवार काफी गरीब था इसलिये वे हिमा के ट्रेनिंग का खर्चा उठा नही सकते थे, इसलिये हिमा के परिवार ने हिमा को निपुण दास के साथ गुवाहाटी जाने के लिये मना कर दिया था. इन हालात मे निपुण दास ने हिमा के रहने तथा खाणे पिणे का सारा खर्चा किया.

6. शुरू-शुरू मे कोच ने इन्हे 200 मीटर के रेस के लिये तैयार किया था, पर जैसे जैसे इनका स्टैमिना बढता गया, कोच ने इन्हे 400 मीटर के लिये तैयार किया.

यह भी पढ़े 

1. Dhvani Bhanushali के बारे में रोचक बातें – Dhvani Bhanushali

2. Tally का अभ्यास कैसे करे

3. Information about the claim sheet

4. What is property registration

 

हिमा दास का इंटरनेशनल करियर –

हिमा ने Bangkok मे हुये एशियाई युथ चैम्पियन की 200 मीटर की रेस मे हिस्सा लिया और इस रेस मे वह सातवे क्रमांक पर आई. 18 वर्ष आयु कि हिमा दास ने Commonwealth गेम जो कि गोल्ड कोस्ट आस्ट्रेलिया मे आयोजित किया गया था, सन 2018 मे भारत के ओर से भाग लिया. हिमा दास ने 400 मीटर दौड सिर्फ 51.32 सेकंद मे पुरा किया फिर भी वह छठे नंबर पर रही.

400 मीटर रिले दौड में वह भारत के टीम का हिस्सा थी, ओर वह 3 मीनट तथा 33.61 सेकंद मे पुरा किया, फिर भी वह गोल्ड मेडल जीत नही पायी थी. 12 जुलै 2018 को Tempera Finland मे हुये वर्ल्ड U-20 Championship प्रतियोगिता मे हिमा ने 400 मीटर कि दौड मे अपना पहला गोल्ड मेडल जिता था. हिमा ने यह दौड सिर्फ 51.46 सेकंद मे पुरी की और जागतिक स्तर पर गोल्ड मेडल जितने वाली भारत कि पहली धावक बनी.

 

The Golden Girls Hima Das की पहचान – 20 दिन मे 6 गोल्ड मेडल

1. हिमा दास ने नॉर्वे मेस्टो सिजेच रिपब्लिक मे 400 मीटर कि रेस मे Gold Medal (स्वर्ण पदक) हासील किया. इस रेस को हिमा ने 52.09 सेकंद मे पुरा किया, जबकी यह स्पीड उनके अब तक के बेस्ट स्पीड से कम थी.

2. 2 जुलाई 2019 से 22 जुलाई 2019 मे युरोप मे हुई विविध प्रतियोगिताओ मे 6 गोल्ड मेडल जितकर हिमा ने देश को गौरवान्वित किया है, और वह देश कि गोल्ड्न गर्ल बन गयी है.

3. 2 जुलाई 2019 को पोलंड मे पोजनान एथेलीटिक्स मीट में 200 मीटर कि रेस को हिमा ने 23.65 सेकंद मे पुरा कर गोल्ड मेडल हासील किया.

4. इसके बाद 8 जुलाई को पोलंड मे ही हुये कुटनो एथलेटिक्स मीट में 23.43 सेकंद के साथ 200 मीटर कि रेस को अपने नाम कर गोल्ड मेडल हासील किया.

5. तिसरा गोल्ड मेडल हिमा ने 13 जुलाई को क्जेच रिपब्लिक मे कुटनो एथलेटिक्स मीट मे 23.43 सेकंद के साथ 200 मीटर कि रेस को पुरा कर पाया.

6. चौथी बार 17 जुलाई को हिमा टाबोर एथेलीटिक्स मीट 200 मीटर कि रेस मे अव्वल आई. अब तक हिमा 5 गोल्ड मेडल जीत चुकी थी.

हिमा दास के गोल्ड मेडल जितने के बाद इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) तथा राष्ट्रपती द्वारा बधाई दी गयी. हमारे देश के कई राजनेताओने भी हिमा कि प्रशंसा की. इस तऱह हिमा ने देश के हर एक भारतीय का मान बढाया है, और वह अब कई लोगो कि रोल मॉडल बन चुकी है. Interesting things about Hima Das

 

ADIDAS की ब्रांड अम्बसीडर हिना दास –

सितम्बर 2018 मे हिमा दास ने जगविख्यात जुतो कि कंपनी ADIDAS के अनुबंध पर हस्ताक्षर कर के ट्रेडमार्क राजदूत बनी. कभी पहनने के लिये जुते नही मिल पाते थे और अब उसीका नाम जुतो पर लिखकर विदेशी कंपनी अपना व्यापार बढा रही है.

हिमा कि कमजोर इंग्लिश का Indian Athletics Association द्वारा एक ट्वीट कर उनका मजाक बनाया गया था. जब हिमाने IAAF विश्व U-20 Athletics Championship की 400 मीटर रेस कि सेमीफाईनल को जिता था तब Indian Athletics Association द्वारा एक ट्वीट किया गया था और इनका अपमान किया गया था. लेकीन अब हिमा दास के फाईनल जितने के बाद भारतीय एथेलीटिक्स संघ ने उस ट्वीट को लेकर इनसे क्षमा मांगी थी और ट्वीट को डिलीट कर दिया गया.

 

आशा करती हु दोस्तो आपको मेरा Hima Das के बारे में रोचक बाते – Interesting things about Hima Das यह आर्टिकल पसंद आया होगा, जल्दी मिलते है एक नये आर्टिकल के साथ तब तक के लिये अलविदा.

धन्यवाद…

हसते रहे – मुस्कुराते रहे…

 

Author by – Bhagyashri

 

यह भी जरुर पढ़े:-

1. नए आविष्कार वाले हेलमेट

2. BS-4 वाहन के स्ट्रोंग फीचर्स

3. इलेक्ट्रिकल कैसे कम करती है

4. रस्ता संकेत

5. वाहनों का आविष्कार

6. पहिए का आविष्कार

7. पढाई कैसे करे

8. ट्रांसफोर्मर का कार्य

9. मल्टीमीटर का उपयोग

10. पिस्टन रिंग का उपयोग

11. सफल होने का रहस्य

Post Comments

error: Content is protected !!