How to make a career in atomic energy – एटॉमिक एनर्जी में करियर कैसे बनाये

एटॉमिक एनर्जी में Career kaise banaye? How to make a career in atomic energy In Hindi. परमाणु ऊर्जा में अपना करियर. Nuclear engineer kaise bane, (न्यूक्लियर वैज्ञानिक). nuclear scientist kaise bane in Hindi..

न्यूक्लियर साइंस की दुनिया में रिसर्च को बहुत महत्वपूर्ण स्थान दिया गया है. दुनिया को तंत्रज्ञान के माध्यम से ओर भी बेहतर बनाया जा रहा है. इसलिए, इस क्षेत्र में करियर की उच्च मांग है. Nuclear science me Career in Hindi, न्यूक्लियर साइंस में रोजगार के अवसर, एटॉमिक एनर्जी में बनाए अपना भविष्य, कैसे बने न्यूक्लियर साइंटिस्ट, अधिक जानकारी हिंदी में प्राप्त करें.

How to make a career in atomic energy - एटॉमिक एनर्जी में करियर कैसे बनाये

 

How to make a career in atomic energy – एटॉमिक एनर्जी में करियर कैसे बनाये :

कुछ साल पहले M. Tech.in Nuclear Science And Technology का कोर्स शुरू किया गया है. यह पाठ्यक्रम छात्रों को परमाणु विज्ञान का व्यावहारिक ज्ञान देता है. यह कोर्स देश के अन्य विश्वविद्यालयों और आईटी संस्थानों में बहुत लोकप्रिय है.

दुनिया के सभी देश परमाणु ऊर्जा को अपना रहे हैं. जिसने युवाओं को बेहतर करियर का अवसर दिया है. दिल्ली विश्वविद्यालयों में इन अवसरों को देखते हुए कुछ साल पहले न्यूक्लियर साइंस एंड टेक्नोलॉजी कोर्स में एमटेक शुरू किया गया है. यह पाठ्यक्रम छात्रों को परमाणु विज्ञान का व्यावहारिक ज्ञान देता है. यह पाठ्यक्रम देश के अन्य Universities और IIT Institutions में भी बहुत लोकप्रिय हो रहा है.

1. यह भी पढ़े ☛ अनुसंधान वैज्ञानिक (research scientist career) में कैरियर

2. यह भी पढ़े ☛ खाद्य प्रौद्योगिकी (Food Technology me career) में रोजगार

3. यह भी पढ़े ☛ डेटा साइंटिस्ट क्षेत्र में करियर कैसे बनाये

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बीसवीं सदी के अंतिम दशक में, कई देशों को परमाणु शक्ति प्राप्त हो रही है. यह अन्य देशों में भी प्रतिस्पर्धा कर रहा है. भारत में भी इस दिशा में लगातार काम चल रहा है. हर जगह प्रयोगशालाओं में काम हो रहा है. इसमें पाई जाने वाली ऊर्जा का अध्ययन किया जा रहा है. उनका शोध जीवन में परमाणु ऊर्जा की उपयोगिता पर भी किया जा रहा है. लैब में रोजमर्रा के काम ने युवाओं को करियर के नए अवसर प्रदान किए हैं.

 

परमाणु ऊर्जा में अपना करियर कैसे बनाये – How to become an Nuclear engineer :

न्यूक्लियर साइंस एंड टेक्नोलॉजी में M. Tech. यह 3 साल का कोर्स छात्रों को परमाणु विज्ञान का व्यावहारिक ज्ञान देता है. और परमाणु ऊर्जा चलाने के लाभों में काम करने का एक सुनहरा अवसर या कौशल सिखाता है. यह कोर्स देश के अन्य विश्वविद्यालयों और IIT संस्थानों में बहुत प्रसिद्ध हो रहा है. जो छात्र वैज्ञानिक बनना चाहते हैं, उन्हें इसके आकर्षण में खींचा जा रहा है, वे भी इसे अनुसंधान और शिक्षण कार्य से जोड़ने की कोशिश कर रहे हैं. तथा जो छात्र इस शाखा में अपना हुनर दिखाना चाहते है वह इस क्षेत्र में अधिक आकर्षित हो रहे है. तो आइये दोस्तों जानते है इसके कोर्स अवधि और शिक्षा के बारे में जानकारी,

 

शिक्षा/करियर और योग्यता :-

1. महिला और पुरुष दोनों न्यूक्लियर साइंस के लिए आवेदन कर सकते हैं,

2. आवेदक को (Physics, Maths, Chemistry, Biology) विषय पास होना अनिवार्य है, तथा उसे 12th विज्ञान शाखा में अच्छे अंको से पास होना जरुरी है.

3. अगर आप इसमें और भी ऊँचा स्थान पाना चाहते हैं, तो किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक उत्तीर्ण होना चाहिए,

4. इस क्षेत्र में शिक्षा अर्जित करने के लिए IIT संस्थाए या फिर मान्यता प्राप्त University से डिग्री प्राप्त करना है.

5. तथा Nuclear Science And Technology में डिग्री प्राप्त करके आप एटॉमिक एनर्जी में अपना करियर बना सकते है.

 

परमाणु विज्ञान शिक्षा की अवधि – Nuclear science education :-

1. M. Tech.in Nuclear Science And Technology इस कोर्स को 3 साल में 6 सेमेस्टर से बांटा गया है.

2. पहले सेमिस्टर में इंजीनियरिंग ड्रॉइंग, क्वांटम मेकैनिक्स, रेडिएशन टेक्नोलॉजी और उसका प्रयोग, न्यूक्लियर, रेडिएशन, डिटेक्शन आदि है.

3. दूसरे सेमिस्टर में मैथेमैटिकल एंड न्यूमेरिकल मेथड्स इन न्यूक्लियर, इंजीनियरिंग न्यूक्लियर एंड कंप्यूटेशनल साइंस और न्यूक्लीयर मैनेजमेंट के बारे में बताया जाता है.

4. तीसरे सेमेस्टर में न्यूक्लियर फिजिक्स, प्लाजमा फिजिक्स, न्यूक्लियर पावर इंजीनियरिंग और न्यूक्लीयर मैनेजमेंट जैसी अन्य शामिल होती है.

5. चौथे सेमेस्टर में न्यूक्लियर रिएक्टर डिजाइन और न्यूक्लियर इंजीनियरिंग जैसी चीजें शामिल होती है.

6. पांचवे सेमेस्टर में छात्रों को न्यूक्लियर पावर इंजीनियरिंग एंड फ्यूचर रिएक्टर डिजाइन के बारे में पढ़ाया जाता है.

7. आखिरी और लास्ट सेमिस्टर में छात्रों को डिग्रेशन पर काम करना होता है. यह पांचवी सेमेस्टर से ही शुरू हो जाता है और कोर्स खत्म होने तक पूरा करना होता है.

 

1. यह भी पढ़े ☛ ब्रांड मार्केटिंग मैनेजर कैसे बने

2. यह भी पढ़े ☛ स्मार्ट एम्प्लॉयमेंट कार्ड कैसे बनाये

3. यह भी पढ़े ☛ ऑटोमेशन में करियर कैसे बनाये

 

परमाणु विज्ञान शिक्षा/चयन प्रक्रिया – Selection Process :

1. इसके लिए छात्रों को भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र (Bhabha Atomic Research Center) – इंदिरा गांधी सेंटर फॉर एटॉमिक रिसर्च इंस्टीट्यूट फॉर प्लाजमा रिसर्च (Indira Gandhi Center for Atomic Research Institute for Plasma Research) और देश के अन्य नामचीन रिसर्च संस्थानों में काम करने का सुनहरे मौका मिलता है.

2. इनमें दाखिला के इच्छुक छात्रों को आईआईटी की जॉइन टेस्ट फॉर MSc Physics उत्तीर्ण होना अनिवार्य है. या फिर आईआईटी की पोस्ट BSc प्रोग्राम में पास होना जरूरी है.

3. कुछ सीटें भौतिक विभाग में एमएससी में दाखिला की प्रवेश परीक्षा के मैरिड में ऊपरी रैंक वाले के लिए भी रखी जाती है.

4. दाखिले की अंतिम लिस्ट चयनित छात्रों के साक्षात्कार के बाद ही जारी होती है.

5. कई और संस्थानों में भी एग्जाम के जरिए दाखिला देते है. तथा कुछ संस्थान इस कोर्स में दाखिला निजी प्रवेश परीक्षा के जरिये से भी देते है.

6. कोर्स पूरा करने के बाद छात्रों को एटॉमिक एनर्जी विभाग में प्लेसमेंट की सुविधा उपलब्ध होती है. इसमें अंतर्गत चलने वाले विभिन्न रिसर्च संस्थानों में छात्रों को काम करने का मौका मिलता है.

 

एटॉमिक एनर्जी विभाग में आवश्यक कुशलता :-

1. Understanding of science and Technology,
2. Ability to troubleshoot devices and perform complex system tests,
3. Creative thinking skills,
4. Detail-oriented personality,
5. Excellent manual dexterity,
6. Ability to communicate well with other members of the development team,

 

परमाणु विज्ञान/नौकरी का भुगतान – job payment/Salary :-

1. इस कोर्स को पूरा करने के बाद शुरुआती वेतनमान रु. 40000/- हो सकता है.

2. विश्वविद्यालय संस्थानों में Salary रु. 50000/- से शुरू होकर उनके अनुभव के आधार पर लाखों रुपए तक बढ़ सकती है.

3. न्यूक्लियर वैज्ञानिक बनने के लिए विशेष कौशल की आवश्यकता होती है. उनका करियर सैलरी के मामले में हर वर्ष दो से तीन गुना तेज से बढ़ता है.

4. तथा छात्रों को रिसर्च के दौरान 25 से रु. 30000/- के बीच स्कॉलरशिप दी भी जाती है.

 

दोस्तों, उम्मीद है की आपको How to make a career in atomic energy – एटॉमिक एनर्जी में करियर कैसे बनाये, यदि आपको यह लेख उपयोगी लगता है, तो इस लेख को अपने दोस्तों और परिचितों के साथ साझा करें और हमारे साथ जुड़े रहें और इसी तरह के दिलचस्प लेखों से अवगत होकर अपने ज्ञान को बढ़ाएं.

धन्यवाद…

 

यह आर्टीकल जरूर पढ़े…

1. Maha Career Portal par Login kaise kare

2. मौसम विज्ञानी कैसे बनें

3. खाद्य प्रौद्योगिकी (Food Technology) में career कैसे बनाये

4. 12th के बाद पैरामेडिकल साइंस में करियर कैसे बनाये

5. शहरी नियोजन में करियर कैसे बनाये

6. ऑटोमोटिव इंजीनियर कैसे बने

7. 10th ka result kaise check kare

8.बायोमेडिकल इंजीनियरिंग में करियर कैसे बनाये

9. मेडिकल इंजीनियर कैसे बने

10.माइक्रोबायोलॉजी में करियर कैसे बनाये

11. पेस्टीसाइड वैज्ञानिक कैसे बने

12. मीडिया डायरेक्टर कैसे बने

Post Comments

error: Content is protected !!