How many types of internal combustion engine – आंतरिक दहन इंजन के प्रकार

आंतरिक दहन इंजन के प्रकार कितने है. How many types of internal combustion engine, vahano me engine ke prakar kitane hai. Internal combustion engine kaise kam karta hai, IC engine kaise kam और जाँच कैसे करे, in हिंदी.

प्रिय पाठक को हमारा नमस्कार, दोस्तों आज फिर आपके लिए ऑटोमोबाइल वाहन का इंजन क्या है और महत्व पूर्ण प्रकार के बारे में जानकारी दी जा रही है. दोस्तों आपको आज के लेख में हम इंजन के प्रकार क्या है, Type of internal combustion engine in hindi, IC इंजन कैसे करता है यह जानकारी आपकी भाषा में प्रस्तुत की जा रही है उम्मीद है आप इसे पसंद करेंगे.

How many types of internal combustion engine - आंतरिक दहन इंजन के प्रकार

दोस्तों यदि आप इस पोस्ट को पसंद करते हैं, तो इसे फेसबुक, ट्विटर, Whats App पर अपने दोस्तों के साथ साझा जरुर करें. शेयरिंग बटन पोस्ट के तुरंत बाद ही हैं, उन पर क्लिक करें और उन्हें अपने परिचितों से साझा जरुर करें, तो चलिए दोस्तों जानते है इसके बारे में विस्तृत जानकारी

दोस्तों इसके पिछले लेख में हमने ऑटोमोबाइल वाहनों के वर्गीकरण के बारे में विस्तार से जानकारी दी है. यदि आपने यह जानकारी प्राप्त नहीं की है तो यहां क्लिक करे. तो दोस्तों आज फिर उसी लेख को पूरा करते हुए आपको बताना चाहेंगे की How many types of internal combustion engine. तो चलिए दोस्तों जानते है इसके बारे में.

 

How many types of internal combustion engine – आंतरिक दहन इंजन के प्रकार :

आंतरिक दहन इंजन (आईसी इंजन) एक प्रकार का दहन इंजन है जो रासायनिक ऊर्जा को थर्मल ऊर्जा में परिवर्तित करता है, जिससे उपयोगी यांत्रिक कार्य का उत्पादन होता है. IC engine में, दहन कक्ष कार्यशील तरल सर्किट का एक अभिन्न अंग होता है.

IC engine kaise kam

संचालन का सिद्धांत – Operating principle :

दहन कक्ष (सिलेंडर के अंदर) में वायु-ईंधन मिश्रण प्रज्वलित होता है, या तो स्पार्क प्लग (स्पार्क इग्निशन इंजन के मामले में) या संपीड़न द्वारा (संपीड़न इग्निशन इंजन के मामले में) यह प्रज्वलन सिलेंडर के अंदर जबरदस्त गर्मी और दबाव पैदा करता है. यह पिस्टन में Reciprocating motion को प्रेरित करता है.

पिस्टन की शक्ति क्रैंकशाफ्ट को प्रेषित की जाती है जो रोटरी गति से गुजरती है. रोटरी गति अंततः वाहन के पहियों तक संचारित होती है, संचरण प्रणाली के माध्यम से, वाहन में प्रणोदन का उत्पादन करने के लिए.

जैसा कि सिलेंडर के अंदर दहन आंतरिक रूप से होता है (कार्यशील तरल सर्किट का एक हिस्सा), इसीलिए इस प्रकार के इंजन को आंतरिक दहन इंजन कहा जाता है.

 

आंतरिक दहन इंजन के प्रकार :

आंतरिक दहन इंजन को कई मानदंडों के आधार पर बड़ी संख्या में प्रकारों में वर्गीकृत किया जाता है.

 

✢उपयोग किए गए ईंधन के आधार पर :-

1. डीजल इंजन

2. पेट्रोल इंजन (या गैसोलीन इंजन)

 

✢ चक्र के प्रकार के आधार पर :-

1. ओटो साइकिल इंजन

2. डीजल साइकिल इंजन

3. दोहरी साइकिल इंजन

 

✢ चक्र प्रति स्ट्रोक की संख्या के आधार पर :-

1. टू-स्ट्रोक इंजन

2. फोर स्ट्रोक इंजन

 

✢ सिलेंडरों की संख्या के आधार पर :-

1. एकल सिलेंडर इंजन

2. मल्टी सिलेंडर इंजन

3. ट्विन सिलेंडर इंजन

4. तीन सिलेंडर इंजन

5. चार सिलेंडर इंजन

6. छह सिलेंडर इंजन

7. आठ सिलेंडर इंजन

8. बारह सिलेंडर इंजन

9. सोलह सिलेंडर इंजन

 

✢ प्रज्वलन के प्रकार के आधार पर :-

1. स्पार्क इग्निशन इंजन (एस.आई. इंजन)

2. संपीड़न इग्निशन इंजन (C.I. इंजन)

 

✢ उपयोग किए गए स्नेहन प्रणाली के आधार पर :-

1. ड्राई सॉम्प लुब्रिकेटेड इंजन

2. वेट सॉम्प लुब्रिकेटेड इंजन

 

✢ उपयोग किए गए शीतलन प्रणाली के आधार पर :-

1. एयर कूल्ड इंजन

2. वाटर-कूल्ड इंजन

 

✢ वाल्व की व्यवस्था के आधार पर :-

1. एल-हेड इंजन

2. आई-हेड इंजन

3. टी-हेड इंजन

4. एफ-हेड इंजन

 

✢ सिलेंडर की स्थिति के आधार पर :-

1. क्षैतिज इंजन

2. कार्यक्षेत्र इंजन

3. रेडियल इंजन

4. वी इंजन

5. डब्ल्यू इंजन

6. इनलाइन इंजन

 

✢ इनलेट हवा या वायु-ईंधन मिश्रण को दिए गए दबाव को बढ़ाने के आधार पर :-

1. Naturally inclined engine

2. Supercharge इंजन

3. Turbocharged इंजन

4. क्रैंककेस संपीड़ित इंजन

 

✢ आवेदन के आधार पर :-

1. ऑटोमोबाइल इंजन

2. विमान का इंजन

3. लोकोमोटिव इंजन

4. समुद्री इंजन

5. स्थिर इंजन

 

दोस्तों, उम्मीद है की आपको How many types of internal combustion engine – आंतरिक दहन इंजन के प्रकार यदि आपको यह लेख उपयोगी लगता है, तो इस लेख को अपने दोस्तों और परिचितों के साथ साझा करें और हमारे साथ जुड़े रहें और इसी तरह के दिलचस्प लेखों से अवगत होकर अपने ज्ञान को बढ़ाएं.

धन्यवाद…

 

यह आर्टीकल जरूर पढ़े…

1. Maha Career Portal par Login kaise kare

2. मौसम विज्ञानी कैसे बनें

3. खाद्य प्रौद्योगिकी (Food Technology) में career कैसे बनाये

4. 12th के बाद पैरामेडिकल साइंस में करियर कैसे बनाये

5. शहरी नियोजन में करियर कैसे बनाये

6. ऑटोमोटिव इंजीनियर कैसे बने

7. 10th ka result kaise check kare

8.बायोमेडिकल इंजीनियरिंग में करियर कैसे बनाये

9. मेडिकल इंजीनियर कैसे बने

10.माइक्रोबायोलॉजी में करियर कैसे बनाये

11. पेस्टीसाइड वैज्ञानिक कैसे बने

12. मीडिया डायरेक्टर कैसे बने

Post Comments

error: Content is protected !!