How to make a career in fashion designing – Fashion Designer kaise bane?

बारवी के बाद – फैशन डिजाइनिंग में करियर कैसे बनाये. After 12th – How to make a career in fashion designing, फैशन डिजाइनिंग. fashion designing me Future kaise banaye. डिज़ाइनर कैसे बने – Fashion Designer kaise bane in Hindi.

After 12th - How to make a career in fashion designing - फैशन डिजाइनिंग में भविष्य कैसे बनाये

 

After 12th – How to make a career in fashion designing (फैशन डिजाइनिंग में भविष्य कैसे बनाये):

fashion designing me bhavishya kaise banaye: दोस्तों अगर आपका भी बारवी के बाद करियर बनाने का सपना है. तो इस पोस्ट में, हम आपको डिज़ाइनिंग में करियर के बारे में जानकारी देंगे, इंटेरिअर डिज़ाइनर कैसे बने? डिज़ाइनिंग में रोजगार के अवसर, डिज़ाइनिंग के लिए करियर टिप्स, फैशन में रोजगार कैसे करे, जाने.

Bachelor of Fashion Technology after 12th: 12 वीं पास होने के बाद कॉमर्स स्ट्रीम से जुड़े छात्रों को अकसर दिमाग में कुछ बाते आती है जैसे वह CA, B.COM, LAW, BBA कर ले लेकिन इसके अलावा भी कुछ पाठ्यक्रम कॉमर्स स्ट्रीम में उपलब्ध है और बेहतरीन शाखाएं भी है.

A. फैशन डिजाइनिंग और प्रौद्योगिकी

B. हिंदी पाठ्यक्रम

C. प्रबंधन पाठ्यक्रम

D. Journalism, आदि.

ये सभी ऐसे कोर्स हैं जिनमें रचनात्मक दिमाग जरुरी है. अगर किसी विद्यार्थी का mind creative हो तो वह इन Courses को अपना सकता है. दोस्तों आज के लेख में हम बात करेंगे Fashion Designing & Technology के बारे में जिसमे आप बेहतर करियर बना सकते है.

फैशन डिजाइनिंग के क्षेत्र में एक पुरस्कृत career बनाने के लिए, कई ऐसे पाठ्यक्रम मौजूद हैं जो इच्छुक छात्रों को बताये जाते हैं. लेकिन उन पाठ्यक्रमों में से, जो सबसे अधिक मूल्य रखता है वह है – बीएफटी (बैचलर ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी) BFT कार्यक्रम को व्यापक रूप से मान्यता प्राप्त है और इसे प्रमाण पत्र के भार के साथ-साथ डिग्री फैशन और डिजाइन पाठ्यक्रमों में सर्वश्रेष्ठ माना जाता है.

 

(फैशन डिजाइनिंग में भविष्य कैसे बनाये) फैशन डिजाइनिंग क्या है ?

Fashion Designing एक ऐसा career है जिसमे स्टूडेंट नए और आकर्षक कपड़े डिजाइन बनाते है (क्रिएट क्रिएट), एक्सेसरीज़ और फुटवियर डिज़ाइन पर काम करते हैं.

एक फैशन डिजाइनर के रूप में, आप नवीनतम फैशन रुझानों पर काम करते हैं और डिजाइन और ग्राहकों को आकर्षित करते हैं. वर्तमान युग में इस क्षेत्र को अधिक करियर विकल्पों वाला स्त्रोत माना जाता है. अलग अलग विभागों के साथ अध्ययन कर आप फैशन डिज़ाइनिंग का कोर्स कर सकते है.

✓. Masters in Fashion Management.

✘. M. Des in Fashion and Textiles.

✓. M.A in Fashion Retail Management.

✘. M.A in Fashion and Textile Merchandising.

✓. MBA in Fashion Management.

✘. MBA in Fashion Design and Business Management.

✓. MBA in Fashion Merchandising and Retail Management.

Fashion Designer kaise bane

फैशन डिजाइनिंग कोर्स के लिए कुछ संस्थान बेहतर डिजाइनिंग कोर्स प्रदान करते है. जैसे

1. राष्ट्रीय फैशन प्रौद्योगिकी संस्थान

2. एमिटी यूनिवर्सिटी

3. पर्ल एकेडमी ऑफ फैशन

4. अपीजया इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन

5. रैफल्स डिज़ाइन इंटरनेशनल, मुंबई

अगर किसी छात्र को National College में दाखिला चाहिए तो UCEED की exam पास करके दाखिला पा सकता है. लेकिन अगर किसी भी छात्र को private college में दाखिला चाहिए तो 12 वीं के बाद आप बिना किसी परीक्षा के आवेदन कर सकते हैं.

फैशन डिजाइनिंग की बैचलर डिग्री से 8 सेमेस्टर तक माटलैब 4 साल की हो गई है, लेकिन अगर दोहरी कार्यक्रम कोई विद्यार्थी करे तो 10 सेमेस्टर तक मास्टर्स डिग्री के लिए पा सकत है.

 

(फैशन डिजाइनिंग में भविष्य कैसे बनाये) पात्रता मापदंड:

NIFT (नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी) जैसे प्रमुख संस्थानों के मामले में, केवल 12 वीं साइंस स्ट्रीम के छात्र (फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स विषयों के साथ) बैचलर ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी प्रोग्राम के लिए आवेदन करने के पात्र होते हैं.

Read More – Video Game designer kaise bane

Fashion Designer kaise bane

12 वी वाणिज्य के बाद:

✣ बैचलर ऑफ डिजाइन (चमड़ा डिजाइन)

✓ बैचलर ऑफ डिज़ाइन (एक्सेसरी डिज़ाइन)

✣ इंटीरियर डिजाइन में डिप्लोमा,

✓ बीएससी जूते डिजाइन और उत्पादन

✣ बैचलर ऑफ डिज़ाइन (निटवेअर डिज़ाइन)

✓ डिजाइन के मास्टर

✣ ललित कला स्नातक

मल्टी नेशनल कंपनियों का फैशन डिजाइनिंग सेक्टर मैं कई डिजाइनरों के माध्यम से अलग अलग विभाग होते है जैसे क्लॉथिंग डिपार्टमेंट, फूटवियर डिपार्टमेंट, एक्सेसरीज डिपार्टमेंट, आदि.

Fashion Designer kaise bane

फर्स्ट ईयर और सेकण्ड ईयर डिजाइनिंग कोर्स :

फर्स्ट ईयर डिजाइनिंग में मिलेनियल प्रोग्राम सिखाए जाते है जो कि बेसिक नॉलेज होती है. तथा दूसरे वर्ष,

1. फैशन अध्ययन

2. फैशन पूर्वानुमान और प्रवृत्ति विश्लेषण

3. भारतीय परिधानों का इतिहास

4. पश्चिमी वेशभूषा का इतिहास

5. कपड़े की प्रशंसा

6. शिल्प क्षेत्र के अध्ययन और अनुसंधान,

सेकेंड ईयर में स्टूडेंट्स को इतिहास से जुड़े सिलेबस को प्रदान करते है.

Read More – B.Sc Interior designing course kaise kare

 

तीसरे वर्ष:

1. फैशन मर्केंडाइजिंग और प्रबंधन

2. Apple विनिर्माण प्रक्रिया

3. Fabric और ट्रिम अनुसंधान और सोर्सिंग

4. बौद्धिक संपदा अधिकार

5. बुना हुआ कपड़ा डिजाइन और परिधान विनिर्माण

6. उद्योग इंटर्नशिप

7. पैटर्न ग्रेडिंग

8. बिछाने की तकनीक,

career in fashion designing

चौथा वर्ष:

चौथा वर्ष सबसे महत्वपूर्ण वर्ष है, जिसमें विषयों में Fashion Designer के करियर के लिए बेहत महत्वपूर्ण है.

1. फैशन पैटर्न हाउते वस्त्र के लिए बनाना,

2. कंस्ट्रक्शन कंस्ट्रक्शन और फिनिशिंग

3. भूतल डिजाइन तकनीक

4. सीएडी के लिए कंप्यूटर अनुप्रयोग

5. फैशन चित्रण और डिजाइन

6. फैशन फोटोग्राफी और स्टाइल

7. पोर्टफोलियो विकास,

career in fashion designing

करियर और वेतन विकल्प :

फैशन उद्योग एक ऐसी जगह है जहाँ आप कौशल और रचनात्मकता का सही सेट होने पर रोमांचित हो सकते हैं. स्नातकों के मामले में पर्याप्त मात्रा में नौकरी के अवसर उपलब्ध हैं.

कपड़ा मिलों, परिधान उत्पादन फर्मों, परिधान और सहायक उपकरण विनिर्माण कंपनियों आदि की प्रमुख भर्तियां होती हैं.

इस क्षेत्र में शुरुआती वेतन 15-25k रुपये प्रति माह हो सकता है. तथा अनुभव के आधार पर इसमें ग्रोथ होती है. यह आंकड़ा नियोक्ता की प्रोफाइल पर बहुत कुछ निर्भर करता है.

और अगर स्नातक स्तर की पढ़ाई की है तो, कोई भी निम्नलिखित पदों पर काम कर सकता है – जैसे

डिजाइनर,
फैशन व्यापारी,
फैशन इवेंट आयोजक,
स्टाइलिस्ट,
फैशन सलाहकार,

दोस्तों, यदि आपके पास इस जानकारी से संबंधित किसी भी प्रकार के प्रश्न है, या इससे संबंधित कोई अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो हमे टिप्पणी बॉक्स के माध्यम से पूछ सकते हैं. तथा यह लेख उपयोगी लगेगा, या आप इस पोस्ट को पसंद करेंगे, तो इसे फेसबुक, ट्विटर, Whats App पर अपने दोस्तों के साथ साझा जरुर करें. शेयरिंग बटन पोस्ट के तुरंत बाद ही हैं, उन पर क्लिक करें और उन्हें अपने परिचितों से साझा जरुर करें,

धन्यवाद…

 

यह आर्टीकल जरूर पढ़े…

1. आरटीओ में करियर कैसे बनाये

2. डिजिटल मार्केटिंग मैनेजर कैसे बने

3. परफॉर्मिंग आर्ट्स में करियर कैसे बनाये

4. अकाउंटिंग में करियर कैसे बनाये

5. मास कम्यूनिकेशन में करियर कैसे बनाये

6. डांसिंग में करियर कैसे बनाये

Post Comments

error: Content is protected !!