How to make a career in medicine management – दवा प्रबंधन में करियर

मेडिकेशन मैनेजमेंट में नौकरी कैसे पाये – How to get a job in medicine management, (दवा प्रबंधन में करियर कैसे बनाये.) medicine management me career kaise banaye, दवा प्रबंधन का कार्य. medicine manager kaise bane? मेडिकेशन मैनेजमेंट में भविष्य कैसे बनाये In Hindi.

How to make a career in medicine management - दवा प्रबंधन में करियर कैसे बनाये. medicine manager kaise bane
medicine management

क्या आपने 12 वीं कक्षा की परीक्षा उत्तीर्ण की है? यदि हाँ, तो यह लेख आपके लिए मददगार होगा, यह लेख 12 वीं पास के बाद मेडिकेशन में नौकरी से सम्बंधित है. इस लेख का मुख्य उद्देश्य medicine manager kaise bane और management क्या होता है? medicine management kaise bane, medicine management में रोजगार के अवसर, दवा प्रबंधन बनने के करियर टिप्स, तथा 12 वीं उत्तीर्ण छात्रों का मार्गदर्शन करना है.

तो आइये जानते है.

 

career in medicine management – दवा प्रबंधन में करियर कैसे बनाये?

12 वीं के बाद आपके द्वारा चुने गए कोर्स का आपके करियर और आगे के जीवन पर गहरा असर पड़ेगा. पुरस्कृत कैरियर बनाने के लिए, एक अच्छा पाठ्यक्रम चुनना आवश्यक है. यह करियर गाइड आपको 12 वीं के बाद सर्वश्रेष्ठ पाठ्यक्रमों के बारे में सूचित करेगा और इस प्रकार आपको एक सूचित विकल्प बनाने में मदद करेगा.

तो चलिए दोस्तों जानते है. दवा प्रबंधन में एक बेहतर करियर कैसे बना सकते है. लेकिन दोस्तों जान ले की दवा प्रबंधन क्या होता है और इसके क्या क्या लाभ है.

 

मेडिकेशन मैनेजमेंट क्या है – What is Dava Prabandhan :

सभी को नमस्कार और www.apnasandesh.com पर आपका स्वागत है. दोस्तों, आपको हमारा पिछला लेख पसंद आया होगा, उस लेख में हमारी टीम ने “Career kaise banaye” इसके बारे में बताया है. जैसा कि हम करियर विकल्प के बारे में लिखना पसंद करते हैं और आज हम उसी संबंधी लेख को प्रकाशित करने जा रहे हैं, आशा करते है कि आप इस लेख को भी उतना ही पसंद करेंगे. तो दोस्तों, “मेडिकेशन मैनेजमेंट क्या है” इसके बारे में जानते हैं.

दवा प्रबंधन से तात्पर्य विभिन्न व्यावसायिक गतिविधियों के संचालन और प्रबंधन की प्रक्रिया से है. यह न्यूनतम प्रयासों के साथ अधिकतम परिणाम प्राप्त करने की कला है ताकि नियोक्ताओं और कर्मचारियों दोनों के लिए अधिकतम समृद्धि और खुशी को सुरक्षित किया जा सके और साथ ही जनता को सर्वोत्तम संभव सेवा प्रदान की जा सके.

प्रबंधन एक विज्ञान ही है क्योंकि यह ज्ञान का सत्यापन, भविष्यवाणी, परिभाषित, उपाय और उपयोग करता है. इसके अलावा, यह एक कला है क्योंकि यह संचार प्रथाओं का अनुभव, वर्णन, अभिव्यक्त करता है. यह एक पेशा भी है क्योंकि इसमें कौशल और ज्ञान के विकास और सकारात्मक मानसिक दृष्टिकोण की आवश्यकता होती है.

प्रबंधन एक उद्यम में एक आंतरिक वातावरण का निर्माण और रखरखाव है जहां समूह में काम करने वाले व्यक्ति समूह लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए कुशलतापूर्वक और प्रभावी ढंग से प्रदर्शन कर सकते हैं.

जब प्रबंधन सिद्धांतों और प्रथाओं को दवा उद्योग और दवा की दुकान पर लागू किया जाता है, तो इसे फार्मास्यूटिकल प्रबंधन कहा जाता है.

Read More – Medicine Doctor kaise bane

Read More – pharmacology me career kaise banaye

 

प्रबंधन का महत्व – Importance of management :

1. यह ग्रुप गोल्स हासिल करने में मदद करता है,

2. संसाधनों का इष्टतम उपयोग,

3. प्रबंधन क्षमता बढ़ाता है,

4. प्रबंधन एक गतिशील संगठन बनाता है,

5. प्रबंधन व्यक्तिगत उद्देश्यों को प्राप्त करने में मदद करता है,

6. प्रबंधन समाज के विकास में मदद करता है,

 

हेल्थकेयर (दवा) प्रबंधन : पात्रता क्या है :

  • इस कोर्स में प्रवेश के लिए इच्छुक उम्मीदवार निम्नलिखित MBA (Master of Business Administration) हेल्थकेयर प्रबंधन पात्रता मानदंड को पूरा करने वाले हैं:

 

  • 50% कुल अंकों के साथ किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी प्रासंगिक स्ट्रीम में स्नातक की डिग्री और पाठ्यक्रम को पूरा करना है.

 

  • कॉलेज द्वारा निर्धारित प्रवेश परीक्षा पास करनी है. (CAT, CMAT, Entrance Examination में उत्तीर्ण अभ्यर्थी भी कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं.)

 

  • MBA (Master of Business Administration) दवा प्रबंधन के लिए प्रवेश पाने वाले उम्मीदवारों को 50% अंकों के साथ UGC/AIU के तहत सूचीबद्ध किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी प्रासंगिक स्ट्रीम में स्नातक की डिग्री प्राप्त करने की आवश्यकता है.

 

  • मेरिट लिस्ट के आधार पर उम्मीदवारों को इस कोर्स में प्रवेश दिया जाता है.

 

  • आवेदनों के लिए चयन प्रक्रिया की जाएगी और उन्हें शॉर्टलिस्टेड किया जायेगा,

 

  • शॉर्टलिस्ट करने के बाद उम्मीदवार को एक प्रवेश परीक्षा से गुजरना होगा, जिसमें Group discussion (जीडी) और पीआई (Personal interview) शामिल होंगे, उम्मीदवारों को जीडी में उनके प्रदर्शन, विषय का ज्ञान और पीआई में विश्वसनीयता पर आंका जाएगा,

 

मेडिकल मैनेजमेंट चयन प्रक्रिया :

कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा कॉलेजों के अनुसार अलग-अलग होती है.

कुछ कॉलेज GD और PI द्वारा अपना प्रवेश परीक्षा आयोजित करते हैं. कॉलेजों द्वारा स्वीकार की जाने वाली प्रवेश परीक्षाओं में से उम्मीदवारों को चयन प्रक्रिया के लिए नियुक्त किया जाता है.

Read More – Medical Engineer kaise bane

Read More – Hotel Management me Career kaise banaye

 

प्रबंधन के कार्य :

1. योजना,

2. आयोजन,

3. स्टाफिंग,

4. निर्देशन,

5. को नियंत्रित करना,

6. समन्वय,

 

फार्मेसी उत्पादकता में सुधार – Improve pharmacy productivity :-

किसी भी फार्मेसी वातावरण में मिशन के लिए सही और समय पर दवाओं का प्रबंधन, भंडारण और वितरण करना महत्वपूर्ण है. यह रोगी, आउट पेशेंट, वैकल्पिक साइट या खुदरा रहें. जब आप दवा की पैकेजिंग, वितरण, भंडारण और पुनर्प्राप्ति जैसे समय लेने वाले कार्यों को स्वचालित करते हैं, तो आपका अस्पताल पूरे संगठन में दवा और सूचना का अधिक कुशल प्रवाह देख सकता है.

स्वचालित दवा प्रबंधन समाधान और सॉफ्टवेयर वर्कफ़्लो को सुव्यवस्थित करने और त्रुटियों को कम करने में मदद करते हैं, जिससे आपके फार्मेसी कर्मचारियों को रोगियों और लेनदेन समय दोनों का सामना करना पड़ता है.

 

दवा प्रबंधन समाधान – Drug Management Solutions :

1. प्रतीक्षा समय और त्रुटियों को कम करना,

2. सूची को कुशलतापूर्वक प्रबंधित करें और दवा की लागत कम करता है,

3. स्ट्रीमलाइन रिटर्न और एक्सपायर्ड ड्रग ट्रैकिंग,

4. कर्मचारियों को जोड़े बिना फार्मेसी वर्कफ्लो का अनुकूलन करना,

5. अस्पताल द्वारा वितरित सेवा की समग्र गुणवत्ता में सुधार के लिए योगदान करना, आदि.

 

चिकित्सा प्रबंधन में करियर – career in medicine management :
  • Hospital Chief Executive Officer (CEO)
  • Director of Nursing or Chief Nursing Director.
  • Hospital Administrator.
  • Hospital Chief Financial Officer.
  • Health Care Actuary.

career in medicine management

दवा प्रबंधन वेतन – Drug Management Salary :

1. दवा प्रबंधन की सैलरी उस कंपनी पर निर्भर करती है जिसके साथ वह काम कर रहे है.

2. आमतौर पर एक कंपनी अपने दवा प्रबंधन को 22,000/- रुपये से 80,000/- रुपये के बीच भुगतान करती है.

3. तथा खुद का अगर बिज़नेस है तो 20,000/- से अधिक रुपये की आय प्राप्ति कर सकते हैं.

4. अगर आप इस क्षेत्र में अधिक कुशल और मेहनती हो तो आपके लिए यह एक बेहतर कमाई का करियर विकल्प हो सकता है.

दोस्तों, यदि आपके पास इस जानकारी से संबंधित किसी भी प्रकार के प्रश्न है, या इससे संबंधित कोई अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो हमे टिप्पणी बॉक्स के माध्यम से पूछ सकते हैं. तथा यह लेख उपयोगी लगेगा, या आप इस पोस्ट को पसंद करेंगे, तो इसे फेसबुक, ट्विटर, Whats App पर अपने दोस्तों के साथ साझा जरुर करें. शेयरिंग बटन पोस्ट के तुरंत बाद ही हैं, उन पर क्लिक करें और अपने परिचितों से साझा जरुर करें,

धन्यवाद…

medicine manager kaise bane

यह आर्टीकल जरूर पढ़े….

1. आरटीओ में करियर कैसे बनाये

2. डिजिटल मार्केटिंग मैनेजर कैसे बने

3. परफॉर्मिंग आर्ट्स में करियर कैसे बनाये

4. अकाउंटिंग में करियर कैसे बनाये 

5. मास कम्यूनिकेशन में करियर कैसे बनाये

6. डांसिंग में करियर कैसे बनाये

Post Comments

error: Content is protected !!