Manushya jab Nind me hota tab sharir me hone wali kriya?

मनुष्य शरीर में नींद में होने वाली क्रिया. Nind me hone wali kriya., नींद में कौनसी क्रिया होती है, Manushya jab Nind me kya hota hai jo Sharir me Tajgi hoti hai, नींद कैसे लगने लगती है. नींद में आदमी क्या सोचता है, Nind kyo lagti hai In Hindi.

Manushya jab Nind me hota tab sharir me hone wali kriya - नींद में होने वाली क्रिया

 

Manushya jab Nind me hota tab sharir me hone wali kriya – नींद में होने वाली क्रिया:

नमस्ते दोस्तों, अपना संदेश वेब पोर्टल पर आप सभी का स्वागत है. हम आपको हर बार नई जानकारी देते आ रहे है. और उम्मीद है की आपको यह जानकारी पसंद आती है. आज हम आपको एक ओर नई जानकारी देने जा रहे है जो की आपसे ही जुडी हुई है. तो दोस्तों आज हम आपको आपके ही बारे में बताने जा रहे है. जी हाँ जब आप निंद में होते है तब आपके शरीर में क्या क्रियाये होती है? और आपको निंद क्यों आती है? और जब आप निंद से उठते है तब आपको ताज़गी क्यों महसूस होता है? इन सभी सवालों के जवाब आपको इस लेख के माध्यम से मिलेंगे, इसलिए इसे अंत तक जरूर पढ़ें.

 

मनुष्य जब निंद में होता है तब क्या क्रिया होती है:

दोस्तों, जैसे की आप सबको पता ही है की अपने शरीर को खाना, पानी, हवा की जरुरत होती है, वैसे ही नींद की भी आवश्यकता है. नींद अपने जीवन और शरीर का महत्त्वपूर्ण हिस्सा है. जब हम जागते रहते है तब हम सास लेना, दिल की धड़कन ऐसे बहुत सी क्रियाओ को महसूस कर सकते है. लेकिन जब हम नींद में होते है तब हमारे शरीर आखिर क्या होता है, हमें नींद क्यों आती है, नींद से उठने के बाद हमें ताज़गी क्यों महसूस होती है.

आखिर होता क्या है की जब हम पूरा दिनभर काम करने के बाद हमारा शरीर और दिमाग दोनों पूरी तरीके से Tired हो जाते है. थके हुए अंग और स्नायु दोनों में शक्ति नहीं होती इसलिए हमें नींद आती है. थके हुए अंग और स्नायु दोनों में शक्ति लाने के लिए नींद जरुरी है.

निंद अपने शरीर को फिर से शक्ति प्रदान करती है इसलिए हमें नींद से उठने के बाद ताज़गी महसूस होती है. लेकिन इतना सब होने तक आखिर अपने शरीर में होता क्या है? नींद कैसे आती है, नींद में अपने शरीर में क्या घटनाये होती है क्या आपको पता है? तो आइये इसे विस्तार से जानते है.

Read More – Sharir svathya banane ke niyam

 

नींद में होने वाली क्रिया (वैज्ञानिक का मानना):

दोस्तों, वैज्ञानिको का यह कहना है की अपने दिमाग में अत्यंत जटिल ऐसे निद्रा केंद्र होते है. यह खून में मौजूद कैल्शियम आयरन इस केंद्र को नियंत्रित करते है. जब इस केंद्र को आयरन बड़े पैमाने पर मिलाता है तब अपने शरीर में नींद क्रिया होती है.

लेकिन दोस्तों, जानवरों के मामले में ऐसा नहीं होता है, वे नींद केंद्र में कैल्शियम के इंजेक्शन को तुरंत महसूस नहीं करते हैं. लेकिन जब कैल्शियम रक्त में मिल जाता है, तो वे नींद महसूस करते हैं. तो, इसके शीर्ष पर, यह अनुमान लगाया जा सकता है कि जब हम थक जाते हैं, तो कोई भी रासायनिक पदार्थ हमारी नींद का कारण बनता है. उसके बाद ही कैल्शियम की रासायनिक प्रकिया होकर नींद आनी लगती है.

नींद में रहते हुए निद्रकेंद्र ने दो चीजे करना चाहिए. पहली बात ये की दिमाग का संबंध शरीर के बाकि अंगो से टूट जाना चाहिए मतलब अपने को इच्छाशक्ति और होश नहीं रहना चाहिए, और दूसरी बात यह है की दिमाग से निकलने वाले सभी स्नायु पूरी तरह ढीले हो जाते है तथा शरीर के सभी अंग नींद में होते है.

 

मनुष्य को नींद कब आती है:

इन्सान को निंद आने के लिए साधारण 7 से 10 मिनिट का समय लगता है. नींद में अपना शरीर बहुत सी हरकते करता है. साधारण इंसान नींद में 30 से 40 बार करवट लेता है.

निंद में सास लेने की प्रकिया सुरु रहती है. दिल की धड़कन धीमी रहती है. पाचन क्रिया चालू रहती है. किडनी भी अपना कम करती है. आवाज़ और उजाले इनका प्रभाव नींद पर एक जैसा होता है. नींद में शरीर का तापमान करीब 9 से 10 डिग्री तक कम हो जाता है.

अगर हम नींद में उत्तर से दक्षिण की ओर सोते है तो खून में रहने वाला हिमोग्लोबिन का संचार अच्छे से होता है और अगर हम पूर्व से पश्चिम की और सोते है तो हिमोग्लोबिन के संचार में रुकवाठे आ सकती है.

Manushya jab Nind me hota tab sharir me hone wali kriya - नींद में होने वाली क्रिया

हर इन्सान की नींद आवश्यकता के अनुसार अलग अलग होती है. एक साधारण इन्सान को 7 से 9 घंटे की नींद आवश्यक होती है. हरदिन एक ही समय पर सोना लाभदायक होता है.

 

Author by: RITIK

 

Inspection supervision:

Overview:- Manushya jab Nind me hota tab Sharir me hone wali kriya – Nind ka mahatva kya hai.

Name:- नींद के बारे में जानकारी, नींद कैसे आती है?

To sleep well:- आराम से सोने की रस्म का अभ्यास करें. यदि आपको सोने में परेशानी होती है, तो विशेषकर दोपहर में, झपकी से बचें. रोज़ कसरत करो, अपने कमरे का मूल्यांकन करें. एक आरामदायक गद्दे और तकिए पर सोएं.

Search Keyword:-
1. Achhi Nind ke bare me jankari in Hindi,
2. Nind me Hone Wali Kriya,

यह आर्टीकल जरूर पढ़े…

1. आहार के महत्वपूर्ण लाभ

2. प्याज के कुछ महत्वपूर्ण लाभ

3. गुड़ खाने के औषधीय गुण

4. जलने पर प्राथमिक उपचार कैसे करें

 

हम आशा करते हैं कि यह लेख आपके लिए उपयोगी रहा है क्योंकि आपने जाना है की Manushya jab Nind me hota tab sharir me hone wali kriya – Nind kaise aane lagati hai और यदि आपको इस लेख से कुछ मदद मिलती है, तो इसे अपने मित्रों तथा ज़रूरतमंद व्यक्ति को साझा करें ताकि हम भी इन लेखों को लिखना जारी रख सकें,

धन्यवाद…

Post Comments

error: Content is protected !!