Meeting me Career Kaise Banaye – मुलाकात में करियर

मुलाकात में करियर कैसे बनाये. Meeting me Career Kaise Banaye, साक्षात्कार कैसे करे, मीटिंग में भविष्य कैसे बनाये, साक्षात्कार स्पेशालिस्ट कैसे बने? appointment specialist kaise bane, साक्षात्कार के बारे में जानकारी.

Meeting me Career Kaise Banaye - मुलाकात में करियर

 

Meeting me Career Kaise Banaye – मुलाकात में करियर कैसे करे:

How to make a career in Meeting: नमस्कार प्रिय पाठक, आप सभी का हार्दिक स्वागत है. दोस्तों हर बार हम आपको नई जानकारी से अवगत कराते रहते है. तो दोस्तों आज आपके लिए इस लेख में मुलाकात में करियर कैसे बनाए? इसके बारे में बताने जा रहे है. क्या आप मुलाकात कैसी हो, इसके बारे में जानते है, क्या आप मुलाकात में अपना भविष्य बना सकते है? मुलाकात किस तरह से देनी चाहिए. उसमे कैसे प्रश्न पूछना चाहिए, इस बारे में आज के लेख में चर्चा करेंगे, उसी के साथ-साथ हमें यह पता होना चाहिए की हम किस की मुलाकात लेने जा रहे है? तथा इस चीज की भी हमें समझ होनी चाहिए, की मुलाकात किसकी और कैसे लें. इन सारी बातों की जानकारी आज के लेख के माध्यम से हम ज्ञात कराते है.

दोस्तों, साक्षात्कार बहुत तरीके की हो सकती है. इसके बारे में जानने से पहले आपको मुलाकात के महत्व और परिचय से वाक़िफ़ होना ज़रुरी है. इसलिए सबसे पहले हम मुलाकात का परिचय कराते है. और जानते है की मुलाकात मतलब क्या है?

 

मुलाकात किसे कहते है:

सबसे पहले तो हमें यह पता होना चाहिए की, मुलाकात यानी क्या होता है? मुलाकात याने किसी से मिलना, बातचीत करना, पूछताछ करना, विचारों का आदान प्रदान करना तथा साक्षात्कार करना मतलब मुलाकात हो सकती है. जिसे हम अपनी भाषा में interview भी कह सकते है. मुलाकात याने एक दूसरों के साथ बातचीत करना होता है. मुलाकात में एक प्रश्न पूछने वाला और, दूसरा उत्तर देने वाला ऐसे दो व्यक्ति होते है. प्रश्न पूछने वाला व्यक्ति याने मुलाकात लेने वाला व्यक्ति. जिसे हम साक्षात्कारकर्ता (interviewer)कहते है. और जो व्यक्ति प्रश्नों के उत्तर देता है, उसे हम साक्षात्कारदाता (interviewee) कहते है.

Read More – Apna Career kaise banaye

 

मुलाकात कैसी देनी चाहिए:

दोस्तों, बताये गए ये साक्षात्कार के दो पहलू है. और साक्षात्कार का लाभ उठाने के लिए भी तीसरा पहलू होता है, और जो वह पढ़कर उसका लाभ लेते है, उसे हम वाचक यानी रीडर (पाठक) कहते है. और जो उसे देखकर आस्वाद उठाते है, उसे हम प्रेक्षक यानी पालन करने वाला कहते है. और जो साक्षात्कार सुनता है उसे श्रोता यानी की सुनने वाला कहते है. (Meeting me Career Kaise Banaye – मुलाकात में करियर और भविष्य कैसे बनाये)

साक्षात्कार के समय साक्षात्कारदाता और साक्षात्कारकर्ता यह दोनों साक्षात्कार की नीव होते है. साक्षात्कारकर्ता को वाचक, श्रोते, प्रेक्षक इनके बिना उन्हें कोई अर्थ ही नही है, यह इसकी स्थिति है. दोस्तों जब साक्षात्कारकर्ता ने पूछे गए प्रश्न जैसे-जैसे साक्षात्कारदाता के पास जाते वैसे-वैसे वही प्रश्न साक्षात्कार का आस्वाद लेने वाले के पास जाते है. साक्षात्कार के यह तीन पहलू है.

देखा जाये तो साक्षात्कार के उत्तर रंगीन होते जाते है, सिर्फ नौकरी के लिए होने वाली मुलाकात यह सिर्फ द्विकेंद्रिय होती है, जहां जो उम्मीदवार होता है उसके बुद्धिमता चाचणी को जाँचने के लिए प्रश्न पूछे जाते है.

 

मुलाकात किस की ली जाती है:

मुलाकात यह सामान्यतः एखादी सेलिब्रिटी.(उदा. खिलाडी, संगीतकार, फिल्म स्टार, समाजसेवक या अन्य सेलिब्रिटी) जैसे की जिन्होनें कुछ क्षेत्रो में विशेष प्रगति की है, और अच्छे काम किये है. उन्ही की मुलाकात ली जाती है. (उदा. सुप्रसिद्ध समाजसेवक, भारतीय सामाजिक कार्यकर्ता तथा सामाज सुधारक). इन जैसे व्यक्ति के बारे में हमें respect होती है, उनमें संघर्ष के समय में जान लेने की और देने की इच्छाशक्ति होती है, वह हर समय समाज में होने वाले अत्याचारों से लड़ाई करते है. उनके व्यक्तिगत जीवन के चरन हमें समझ लेना चाहिए, जिस संवाद में से सही मुद्दों को छू जाने वाली और अच्छी जानकारी बताते है, तब उसे अच्छी मुलाकात का दर्जा से सकते है.

appointment specialist kaise bane

मुलाकात का उद्देश:

A. मुलाकात देने वाले के कार्यो पर, और उनके जीवन पर प्रकाश डालना.

B. साक्षात्कारदाता के विविध विषयों पर अपनी अपनी सलाह देना.

C. मुलाकात दाता के व्यक्तिमत्त्व का पहलू जान लेना. आदि,

 

मुलाकात पूर्व की तैयारी:

1. साक्षात्कार पूर्व की तैयारी करना हमें आवश्यक है, मुलाकात के विषय के लिए दिया गया समय, और उसका मकसद ध्यान में रखकर प्रश्न तैयार करना, उनके क्रम की निश्चिती करना चाहिए.

2. मुलाकात के विषय का मकसद बाहर नही जाना चाहिए यह ध्यान में रखे.

3. मुलाकात का विषय और मुलाकात दाता के बारे में जानकारी साक्षात्कारकर्ता को होनी चाहिए .

4. उसके लिए उस विषय को हमें सबसे पहले पढ़ना चाहिए, दोस्तों और आपको जो आवश्यक विषय लगता है, उसके बारे में चर्चा करे.

Meeting me Career Kaise Banaye - मुलाकात में करियर

 

आकाशवाणी पर मुलाकात कैसी होती है?

आकाशवाणी के कार्यक्रम आज बड़े पैमाने पर सुने जाते है, दोस्तों सामाजिक दृष्टि का ख़याल रखकर यहाँ पर विविध कार्यक्रम दिखाए जाते है. मुलाकात यह भी एक आकाशवाणी पर महत्वपूर्ण कार्यक्रम है. ज्ञान और प्रबोधन के जरिये उसकी निर्मिती होती रहती है, जीवन में सार्वजनिक क्षेत्रो के सभी वैज्ञानिक लोगो द्वारा आकाशवाणी पर मुलाकात के लिए बुलाया जाता है. ये 11 से 12 मिनट की मुलाकात होती है. यह प्रत्यक्ष घटनास्थल पर ली जाती है. स्टूडियो में ध्वनिमुद्रण का उत्तम आयोजन किया जाता है. लेकिन स्टूडियो के बाहर मुलाकात ध्वनिमुद्रण के निर्दोष को और सु स्पष्ट होने के लिए विशेष ध्यान देना पड़ता है.

 

मुलाकात कार ने क्या रोकना चाहिए:

1. मुलाकात की शुरुआत में ही महत्व के प्रश्न नही पूछने चाहिये, पहले तो उनके पसंदीदा विषय पर चर्चा करनी चाहिए.

2. बड़े और कठिन प्रश्न नही पूछना चाहिए.

3. आप मुलाकातकार हो यह होश नही खोना चाहिए.

4. मुलाकातदाता के व्यक्तिगत जीवन के बारे कुछ गलत सलत प्रश्न नहीं पुछना नहीं चाहिये.

5. एक ही सवाल बार-बार नही दोहराना चाहिये.

मुलाकात को रंगीन बनाना यह साक्षात्कारकर्ता और साक्षात्कारदाता इन दोनों पर निर्भर रहता है. दोस्तों, आपके जानकारी के लिए श्रोता तथा पाठकों का समाधान होना यही मुलाकात का मुख्य महत्व है.

 

Author by: RITIK

 

Inspection supervision:

Overview:- Meeting me Career Kaise Banaye – Mulakatkarta ka Parichay Kaise Kare.

Name- साक्षात्कार में भविष्य (Future) कैसे बनाये, Media me Anchor Kaise bane.

Use:- TV reality actor, Players, Musicians, Film Stars, Social Workers, Social reformer,

Educational Qualification:- Degree or diploma course in the meeting,

Skill:- नए विषयों की जानकारी प्राप्त करना,

Search Keyword:-
1. Media me appointment specialist Kaise bane,
2. Mulakat me career Kaise banaye,

यह आर्टीकल जरूर पढ़े…

1. कार्टूनिस्ट में भविष्य पूरी जानकारी

2. शहरी नियोजन में करियर कैसे बनाये

3. पुरातत्व में करियर कैसे बनाये

 

हम आशा करते हैं कि यह लेख आपके लिए उपयोगी रहा है क्योंकि आपने जाना है की Meeting me Career Kaise Banaye – Saksatkar specialist kaise bane. और यदि आपको इस लेख से कुछ मदद मिलती है, तो इसे अपने मित्रों तथा ज़रूरतमंद व्यक्ति को साझा करें ताकि हम भी इन लेखों को लिखना जारी रख सकें,

धन्यवाद…

Post Comments

error: Content is protected !!