Hanuman Jayanti ke bare me jankari – हनुमान जयंती की बारे में जानकारी

हनुमान जयंती की बारे में जानकारी. Hanuman Jayanti ke bare me jankari, हनुमान जयंती क्यूँ मनाते है, bhagwan Hanuman ki jankari. हनुमान जयंती का त्यौहार कब मनाया जाता है, (Hanuman Jayanti ka Tyohar kab manaya jata hai), हनुमान जयंती का मोहत्सव.

Hanuman Jayanti ke bare me jankari - हनुमान जयंती की बारे में जानकारी

 

Hanuman Jayanti ke bare me jankari – हनुमान जयंती की बारे में जानकारी:

bhagwan Hanuman ji ki jankari: नमस्कार दोस्तों apnasandesh.com में आप सभी का फिर एक बार स्वागत है, दोस्तों आज हम आपके लिए लाये है एक ऐसा लेख जो हमारे आस्था और भावना पर टिका है, जी हा दोस्तों हम बात कर रहे है. हनुमान जयंती की इन्हें हम संकट मोचन भी कहते है, वैसे तो इन्हें अलग अलग नामो से भी जाना जाता है, जैसे की, पवनपुत्र हनुमान, बजरंग बलि, अंजलि पुत्र, महावीर, केसरी सूत इस तरह से उन्हें संबोधित किया जाता है.

दोस्तों, शायद ही ऐसा कोई व्यक्ति होगा जो जो हनुमान जयंती के बारे में जनता है? (Hanuman Jayanti Kyu Manate hai) क्या आप को मालूम है हनुमान जयंती के समय क्या हुआ था? किस कारण वश हमें हर साल हनुमान जयंती मनानी चाहिये? दोस्तों अगर आप इन सारी बातों के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो आप सही आर्टिकल पढ़ रहे है. जिससे आपको आपके हर सवाल का जवाब मिल जायेंगा और पता चल जायेंगा की, हम क्यों हनुमान जयंती मनाते है, क्यू हिन्दू धर्म के सारे लोग भगवान हनुमानजी की पूजा करते है, और क्यों जय हनुमान का नाम लेकर एक दुसरे से बाते बतियाते है.

 

भगवान शिव के 11 वे अवतार:-

चैत्र महीने में शुक्ल पूर्णिमा के दिन हनुमान जी का जन्म हुआ था, हनुमान जी को संकट मोचन भी कहा जाता है. हनुमान को भगवान शिवजी के 11 वे अवतार भी माने जाते है. पुरानो के अनुसार माने तो जब देव और असुरो के बिच में समुद्र मंथन हो रहा था, और उससे निकलने वाले अमृत को पिने के लिए, देव और असुरो के बिच में लड़ाई को रोकने के लिए, भगवान विष्णु को मोहिनी रूप लेकर आना पड़ा था, भगवान विष्णु का मोहिनी अवतार देखकर असुर तो क्या खुद देव और देवो के देव् भगवान शिव भी मोहिनि के रूप को देख कर कामातुर हो गये, और उस समय भगवान् शिवजी ने जो संतति त्याग किया, इस संतति को माँ अंजना की गर्भ में प्रविष्ट किया गया, फल स्वरुप, भगवान पवनदेव के व्दारा, और इसी कारण वश संकट मोचन हनुमानजी का जन्म हुआ.

हिन्दू मान्यता के अनुसार भगवान इन्द्र के वज्र से हनुमानजी की ठुड़ी टूट गई थी, और इसी कारण वश हनुमानजी को हनुमान का नाम दिया गया.

 

भगवान हनुमान जी की पूजा कैसे करे:-

इस दिन पूर्णिमा होने के कारण, भगवान हनुमानजी के साथ साथ भगवान् श्रीराम, लक्ष्मण और सीता जी की पूजा की जाती है, भगवान हनुमान जी की पूजा विधिवत करने से शत्रुओ पर विजय प्राप्त होती है. और कभी भी धन की कमी नहीं रहती, इसी दिन हनुमानजी की बचपन की कुछ लीलाए भी कहानी के रूप में सुनाई जाती है. रात को चाँद पूर्ण रूप से गोल दिखाई देता है, और पूर्णिमा के दिन चाँद हमारे धरती के सबसे करीब होता है, जिसके कारन चाँद बहुत जादा चमकीला और बहुत बड़ा दिखाई पड़ता है, पूर्णिमा का चाँद को सुपर मून भी कहा जाता है.

धर्मग्रन्थ और शास्त्रों के अनुसार माने तो, संकट मोचन हनुमानजी अमर है, जो कोई नर या नारी भगवान् हनुमानजी की पूजा करता है, हनुमानजी हमेशा उसके साथ रहते है. हनुमानजी की भक्ति करने से भक्त को शांति और सुख की प्राप्ति होती है, अपने भक्त की थोड़ी सी भक्ति से प्रसन्न होकर भक्तो के सभी कष्टों का निवारण करते है, वास्तु दोष के अनुसार माने तो, जिस घर मे हनुमान जी की फोटो या तस्वीर हो तो, वहा कभी भी भुत, प्रेर, पिशाच और आत्माये कभी टिक नहीं पाती, अगर किसी व्यक्ति को मंगल, शनि, या फिर पितृ दोष इनसे निजात पाना है तो, हनुमानजी की भक्ति या पूजा अवश्य करनी चाहिए.

 

हनुमान जयंती पर विशेष कार्यक्रम:-

हनुमान जयंती के दिन भक्त जन हनुमान मंदिर जाकर, भगवान हनुमान की दर्शन और पूजा करने के लिए जाते है, कुछ भक्त तो उपवास भी रखते है. पुरानो के अनुसार माने तो भगवान हनुमानजी बाल ब्रह्मचारी थे, और इसी कारण वश कुछ लोग उन्हे जनेऊ भी पहनाते है. कहा जाता है की भगवान श्री राम की लम्बी आयु के लिए हनुमानजी ने अपने शरीर पर लाल सिन्धुर चढ़ा लिया था, और तभी से हनुमानजी के मूर्तियों पर सिन्धुर और चांदी चढाने की परंपरा सुरु हुई. और इसी कारन वश भक्त गन हनुमान जी को लाल सिन्धुर चढाते है,

भक्त गन पूरे जोर शोर से हनुमान जयंती का यह त्यौहार भारत मे बहुत ही जोर शोर से मनाया जाता है, बड़े ही श्रद्धा और आस्था के साथ हनुमान जयंती मनाई जाती है, हनुमान जयंती के दिन भगवान् हनुमान जी का जन्म हुआ इसलिए इस दिन बहुत से लोक नदी में स्नान करके पूजा पाठ करते है, इस दिन को भक्त लोक बहुत ही शुभ दिन मानते है, भगवान शिव के 11 वे अवतार और इस धरती के जन के संकट मोचन, हनुमान जयंती के जन्म दिवस के उपलक्ष में हम भारत वासी हनुमान जयंती बड़ी ही धूम धाम से मनाते है.

Read More – Gandhi Jayanti ke bare me jankari

 

हनुमान जयंती की पूजा पाठ और महोत्सव :-

इस दिन बहुत सी झाकिया निकलती है, जिसमे हनुमान जी के अलग अलग रौद्र रूप को दिखाया जाता है, प्रभु राम और सीता मैया दिखाई देते है, इनके साथ साथ लक्ष्मण को भी दिखाया जाता है, वैसे तो श्रीराम, लक्ष्मण, भरत, और शत्रुगन इन चारो भाइयो की भी झाकिया होती है. एक और श्रीराम, सीता, और लक्ष्मण इनकी भी बड़ी रोचक और मोहक भरी झाकिया हमें देखने को मिलती है. यह झाकिया बहुत ही सुन्दर सुन्दर सजावट के साथ हर रास्तो पर जहा जहा भगवान राम और हनुमान जी के मंदिर और भक्त हो वहा नजर आती है.

हनुमान जयंती इस त्यौहार के दिन मानो लोगो मे नए उत्साह नया जोश फिर से भर देती है, भक्त जन इस दिन जगह जगह पर महा प्रसाद का आयोजन करते है, और जहा जहा से झाकिया गुजरे वहा के हर नागरिक को अपने अनुसार वस्तु, या खान पान की चीजे भेट करते है, पूरा दिन जहा देखो वहा जय हनुमान के नारे लगाये जताए है.

 

चुक भूल माफ़ करे:

दोस्तों उपर लिखी गयी सारी बाते पौराणिक कथाओ और शाश्त्रो के आधार पर लिखी गयी है, अगर इसमें लिखी गयी कुछ बाते कम या जादा हो, किसी भी व्यक्ति को पसंद हो या न हो, या हमसे लिखने में कोई भूल हुई हो तो कृपया हमें क्षमा करे, हमारा मकसद किसी की भावना को ठेस पहुचना नहीं है, हमारा तो मकसद है, आप और आपकी फॅमिली को अच्छी बाते बताने का हम पूरी कोशिश कर सके.

धन्यवाद जय हनुमान…

 

Author by: Prashant

 

Inspection supervision:

Overview:- Hanuman Jayanti ke bare me jankari – हनुमान जयंती की बारे में जानकारी

Name:- हनुमान जयंती का त्यौहार, Hanuman Jayanti ka mahtv aur Parichay.

Search Keyword:-
1. Hanuman Jayanti ke bare me jankari in Hindi,
2. Hanuman Jayanti tyohar kab hai,
3. Hanuman Jayanti tyohar kyu manaya jata hai.

 

यह आर्टीकल जरूर पढ़े…

1. दीवाली का आध्यात्मिक रहस्य क्या है

2. राम नवमी के बारे में जानकारी

3. गुड़ी पड़वा के बारे में जानकारी

4. नवरात्रि का आध्यात्मिक रहस्य क्या है

 

हम आशा करते हैं कि यह लेख आपके लिए उपयोगी रहा है क्योंकि आपने जाना है की Hanuman Jayanti ke bare me jankari – हनुमान जयंती की बारे में जानकारी और यदि आपको इस लेख से कुछ मदद मिलती है, तो इसे अपने मित्रों तथा ज़रूरतमंद व्यक्ति को साझा करें ताकि हम भी इन लेखों को लिखना जारी रख सकें,

Post Comments

error: Content is protected !!