Nobel Prize ke bare me jankari – नोबेल पुरस्कार के बारे में जानकारी

नोबेल पुरस्कार के बारे में जानकारी, Nobel Prize ke bare me jankari, नोबेल पुरस्कार किसे मिलता है. Nobel Puraskar prapt karata kaise bane, भविष्य (future) में नोबेल पारितोषिक, Future me Nobel Puraskar kise mila hai.

Nobel Prize ke bare me jankari - Nobel Puraskar kise mila hai

 

नोबेल पुरस्कार के बारे में जानकारी – Nobel Prize ke bare me jankari

Nobel Puraskar kise mila hai: नमस्कार, आज फिर एक बार ApnaSandesh वेबपोर्टल आप सभी का हार्दिक स्वागत है. दोस्तों नोबेल पारितोषिक क्या है इसकी पूरी जानकारी कैसे जाने. नोबेल पारितोषिक विजेता कैसे बने? नोबल पुरस्कार के जनक, भारतीय नोबेल पुरस्कार के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए आपने सही आर्टिकल का चयन किया है. हाँ प्रिय पाठक, आप इस आर्टिकल में नोबेल पुरस्कार प्राप्त कर्ता और इससे जुड़े ज्ञान से अवगत होंगे.

हम हर बार आपके लिए नये-नये विषय लेकर आते है ताकि आपको उनके बारे में जानकारी मिल सके और आपके ज्ञान का भंडार और भर सके. तो दोस्तों हम हर बार की तरह आज भी आपके लिए एक नई जानकारी ले कर आये है जो की आपके लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होगी. तो दोस्तों आज हम आपको नोबेल पारितोषिक क्या है? उसका प्रारंभ कब से हुआ? और उसका इतिहास क्या है? इसके बारे में जानकारी देने जा रहे है. तो दोस्तों आईये जानते है.

Read More – Engineering ke bare me jankari

 

नोबेल पुरस्कार क्या है?

दोस्तों, आपने नोबेल पुरस्कार के बारे में तो सुना ही होगा. जो की हर साल पुरे विश्व में उत्क्रुठ कार्य करने वाले व्यक्ति को दिया जाता है. और जिस व्यक्ति को यह पारितोषिक दिया जाता है उसकी पुरे विश्व में चर्चा होती है. इस पुरस्कार में एक सुवर्ण पदक होता है, एक प्रशस्तिय पत्र होता है और साथ में बहुत बड़ी रक्कम दी जाती है.

यह पुरस्कार पदार्थ विज्ञानं, रसायन शास्त्र, साहित्य, शरीरशास्त्र, शांति, अर्थशात्र ऐसे सभी क्षेत्रो में उल्लेखनीय कामगिरी करने वालो को दिया जाता है. 1969 के पहले अर्थशास्त्र इस में नही था फिर इस का समवेस किया गया. अगर एक ही क्षेत्र में एक से ज्यादा व्यक्ति हो तो इस पुरस्कार की रक्कम बाटी जाती है और दोनों को दी जाती है. यह पारितोषिक विश्व स्तर पर दिया जाता है.

 

नोबेल पुरस्कार इतिहास और सुरुवात:

तो चलिए दोस्तों अब इस पुरस्कार के इतिहास और सुरुवात के बारे में कुछ कहा सुनी बाते बताते है. तो आइये जानते है. दोस्तों इसके फिछे बहुत ही रंजक कहानी है. दोस्तों हैरान करने वाली बात यह है की विनाशक पदार्थ के संसोधनकरता ने इस पुरस्कार का वितरण सुरु किया. इस वैज्ञानिक का नाम आल्फ्रेड बर्नहार्ड नोबेल ऐसा था. इन शख्स के नाम पर इस पारितोषिक का वितरण किया जाता है.

 

नोबल पुरस्कार के जनक:

इनका जन्म 21 अक्टूबर 1833 को स्वीडन में हुआ था. और मृत्यु 10 डिसेंबर 1886 इस साल हुई. उन्हके पिताजी भी वैज्ञानिक थे. बर्नहार्ड नोबेल स्वीडन इस प्रांत का रहने वाला था फिर भी उनकी पडाई रसिया में हुई थी. नोबेल इन्होने डायनामयिट नामक विस्पोटक ड्रा की खोज की. इस पदार्थ का उपयोग फाड़ फोड़ने के लिए, कुए खोद ने के लिए और लड़ाई में भी किया जाने लगा. इसी अत्यंत महत्वपूर्ण खोज की वजह से वो पुरे विश्व में प्रसिद्ध हुआ. और उसके पास अमाप संपत्ति जमा हो गयी. और उसने अपने अंतिम समय के वक्त 9 लाख 20 हजार डोलर्स अपने पीछे छोड़े थे. उन्हके मृत्यु के बाद इस संपत्ति के ब्याज से, पदार्थ विज्ञानं, रसायन शास्त्र चिकित्सा शास्त्र, विज्ञानं, साहित्य और शांति इन क्षेत्रो में उल्लेखनीय काम करने वाले वैज्ञानिक को पुरस्कार दिए जाये ऐसा उसने अपने मृत्युपत्र में लिखा था. (नोबल पुरस्कार के जनक)

और इसी वजह से इस पुरस्कार को नोबेल पुरस्कार ऐसा नाम दिया गया. और पहला नोबेल पुरस्कार रोट्जन इस वैज्ञानिक को क्ष-किरणों के खोज करने की वजह से 1901 में नोबेल पुरस्कार दिया गया. पुरस्कार की राशी 40 हजार डॉलर थी. पुरस्कार की राशी अगर बहुत ज्यादा नहीं है फिर भी इस पुरस्कार जितने वालो को पुरे विश्व में बहुत ही सन्मान दिया जाता है.

 

नोबेल पुरस्कार किसके द्वारा दिया जाता है:

नोबेल फाउंडेशन ऑफ़ स्वीडन इस संस्था के अंतर्गत इस पुरस्कार को वितरित किया जाता है. पदार्थ विज्ञानं और रसायन शास्त्र इन शाखाओ के वैग्यनिक्को का चयन स्कोटहोम यह की रियल अकादमी ऑफ़ साइंस करती है. चिकित्सा शास्त्र इस शाखा के वैज्ञानिक को का चयन कैरोलिना यह संस्था करती है. साहित्य के विजेता का चयन स्वीडन की साहित्य अकादमी करती है. पार्लमेंट ऑफ़ नार्वे से चुने गये 5 सभासद यह शांति के लिए विजेता का चयन करते है.

Read more – Shikshak Divas ka Mahatva

 

पुरस्कार 2011 से 2015:

1. नोबेल शांति पुरस्कार 2011:

एलेन जॉनसन सरलीफ, लेमाह गॉबी और तवाकोल कर्मन “महिलाओं की सुरक्षा के लिए उनके अहिंसक संघर्ष और शांति-निर्माण कार्य में महिलाओं की पूर्ण भागीदारी के अधिकारों के लिए”

2. नोबेल शांति पुरस्कार 2012:

यूरोपीय संघ (ईयू) “छह दशकों से अधिक समय तक यूरोप में शांति और सामंजस्य, लोकतंत्र और मानव अधिकारों की उन्नति में योगदान दिया”

3. 2013 का नोबेल शांति पुरस्कार:

रासायनिक हथियारों को खत्म करने के व्यापक प्रयासों के लिए रासायनिक हथियार (OPCW) के निषेध के लिए संगठन”

4. नोबेल शांति पुरस्कार 2014:

कैलाश सत्यार्थी और मलाला यूसुफजई “बच्चों और युवाओं के दमन के खिलाफ उनके संघर्ष और सभी बच्चों के शिक्षा के अधिकार के लिए”

5. नोबेल शांति पुरस्कार 2015:

राष्ट्रीय संवाद चौकड़ी “2011 की जैस्मीन क्रांति के मद्देनजर ट्यूनीशिया में एक बहुलवादी लोकतंत्र के निर्माण में अपने निर्णायक योगदान के लिए”

Future me Nobel Puraskar

पुरस्कार 2016 से 2020:

6. नोबेल शांति पुरस्कार 2016:

जुआन मैनुअल सैंटोस “देश को 50 साल से अधिक पुराने गृह युद्ध को समाप्त करने के अपने दृढ़ प्रयासों के लिए”

7. नोबेल शांति पुरस्कार 2017:

परमाणु हथियारों के किसी भी उपयोग के भयावह मानवीय परिणामों पर ध्यान आकर्षित करने के लिए अपने काम के लिए परमाणु हथियार (आईसीएएन) को खत्म करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय अभियान और इस तरह के हथियारों के संधि-आधारित निषेध को प्राप्त करने के लिए इसके जमीनी प्रयासों को तोड़ने के लिए ”

8. नोबेल शांति पुरस्कार 2018:

डेनिस मुक्वेग और नादिया मुराद “युद्ध और सशस्त्र संघर्ष के हथियार के रूप में यौन हिंसा के उपयोग को समाप्त करने के अपने प्रयासों के लिए” (Nobel Prize ke bare me jankari – nobel prize winners koun hai)

9. नोबेल शांति पुरस्कार 2019:

अबी अहमद अली “शांति और अंतर्राष्ट्रीय सहयोग प्राप्त करने के अपने प्रयासों के लिए, और विशेष रूप से पड़ोसी इरिट्रिया के साथ सीमा संघर्ष को हल करने के लिए उनकी निर्णायक पहल के लिए”

10. नोबेल शांति पुरस्कार 2020:

2020 का नोबेल शांति पुरस्कार अभी तक प्रदान नहीं किया गया है. यह शुक्रवार 9 अक्टूबर, CEST को घोषित किया जाएगा,

Nobel Puraskar prapt karata  

Author by: RITIK

 

Inspection supervision:

Overview:- Nobel Prize ke bare me jankari – नोबेल पुरस्कार के बारे में जानकारी (Nobel Paritoshik Kaise Milata hai)

Name- Nobel Puraskar Kise Mila hai, (भविष्य (future) में नोबेल पारितोषिक)

Search Keyword:-

1. नोबेल पुरस्कार के बारे में जानकारी,
2. Nobel Puraskar prapt karata in Hindi,
3. nobel prize winners koun hai,

 

यह आर्टीकल जरूर पढ़े…

1. बायोकेमिस्ट कैसे बने

2. नैनोटेक्नोलॉजिस्ट कैसे बने

3. ऑटोमोटिव इंजीनियर कैसे बने

 

हम आशा करते हैं कि यह लेख आपके लिए उपयोगी रहा है क्योंकि आपने जाना है की Nobel Prize ke bare me jankari – Nobel Puraskar kise mila hai और यदि आपको इस लेख से कुछ मदद मिलती है, तो इसे अपने मित्रों तथा ज़रूरतमंद व्यक्ति को साझा करें ताकि हम भी इन लेखों को लिखना जारी रख सकें,

धन्यवाद…

Post Comments

error: Content is protected !!