B.Sc Interior Designing Course kaise kare – इंटीरियर डिजाइनर Full Details

B.Sc इंटीरियर डिजाइनर कैसे बने. How to become a B.Sc Interior Designer. B.Sc Interior Designing Course kaise kare, Interior designer kaise bane, इंटीरियर डिज़ाइनर कोर्स कैसे करे. Interior designer me future kaise banaye, Career Kaise kare In Hindi. Rojgar, Salary और शिक्षा.

B. Sc Interior Designing Course kaise kare - इंटीरियर डिजाइनर Full Details

 

B. Sc Interior Designing Course kaise kare – इंटीरियर डिजाइनर Full Details

Hello, Friends Welcome Back: यदि आप शुरुआत से ही एक अच्छे प्रोफेशनल डिजाइनर है तथा इंटीरियर डिजाइनिंग का शौक रखते है या फिर इस क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं, तो आपको B.Sc Interior designing course बहुत उपयोगी होगा, हाँ दोस्तों इस लेख में यह सब जानेंगे की कैसे Interior designer बने और जाने स्टेप बाय स्टेप.

यह क्षेत्र डिजाइनिंग के रूप में गतिशील करियर विकल्पों का चयन करता है. आमतौर पर, आंतरिक डिजाइनिंग [Decorator] में B.Sc Interior designer [ID] के रूप में करियर बना सकते है, Project designer बन सकते है, Diploma ke bad B.Sc designing course kare, [B.Sc Interior designing course kaise kare] बारवी के बाद B.Sc Decorating course me future banaye और करियर – शिक्षा – और नौकरी से जुडी जानकारी जाने.

जो छात्र डिजाइनिंग के क्षेत्र में विशेषज्ञ [Specialist] बनना चाहते है उन्हें B.Sc., Diploma, या फिर मास्टर डिग्री कोर्स का अध्ययन करना आवश्यक हैं,

जैसा की दोस्तों हमने हमारे पिछले लेख में इसी संबंधी जानकारी प्रकाशित कि थी अगर आपने यह नहीं पढ़ा तो जानिए Designing Specialist [Interior designer] कैसे बने और करियर कैसे बनाये जानने के लिए यहां क्लिक करे.Career kaise kare

Read More Article

1. Construction engineering me career – निर्माण इंजीनियर कैसे बनें
2. Project engineering me career – प्रोजेक्ट इंजीनियर कैसे बनें 
3. Textile engineering me career kaise banaye – टेक्सटाइल इंजीनियर कैसे बने

 

इंटीरियर डिजाइनर के रूप में करियर कैसे बनाये [Career as an Interior designer]

क्या आप अपने आस-पास की जगह को सुंदर बनाना चाहते हैं या आप शुरू से ही हर क्षेत्र को सुशोभित करने का सौक रखते हैं? यदि हाँ, तो इंटीरियर डिजाइनिंग एक करियर के रूप में आपकी सच्ची तलाश हो सकती है.

यह एक कॉर्पोरेट घर या एक आवासीय स्थान हो, इंटीरियर डिजाइनरों की आवश्यकता आज कई गुना बढ़ गई है, और इसलिए यह एक आशाजनक करियर विकल्प बन गया है.

रचनात्मक सोच और कल्पनाशील कौशल के साथ, इंटीरियर डिजाइनर साधारण कार्यालयों के रिक्त स्थान, घरों, होटलों आदि को अति उत्तम रचना [Masterpiece] में बदल सकते हैं.

एक आंतरिक डिजाइनर का काम विचारों के साथ आना है और एक विशेष स्थान के वातावरण को ध्यान में रखते हुए डिजाइन की अवधारणा करना है. उनके लिए अगला कदम उनके विचारों और अवधारणाओं को वास्तविकता में बदलना है.

ड्राइंग कौशल और रचनात्मकता की भावना इस व्यवसाय के दो सबसे महत्वपूर्ण पहलू हैं. इस क्षेत्र में हर साल, हजारो से अधिक इंटीरियर डिजाइनर अपने सपनों को आगे बढ़ाने के लिए स्नातक होते हैं. लेकिन जो छात्र कठिन परिश्रम करते है वह इस क्षेत्र में करियर बनाने के विकल्प को पूरी दुनिया में प्रस्तुत कर सकते हैं.

Career kaise kare

जानिए क्या है इंटीरियर डिजाइनिंग?

आंतरिक डिजाइनिंग आंतरिक सजावट और व्यवस्था की कला या प्रक्रिया है. कभी-कभी विशेष अवसरों के लिए इंटीरियर डिजाइनिंग के दौरान भी बाहरी सजावट के लिए काम करना पड़ता है. इस तरह से डिजाइन करने वाले डिजाइनरों को इंटीरियर डिजाइनर कहा जाता है. आंतरिक डिजाइनर एक उत्कृष्ट डिजाइनिंग कलाकार है. और यही कारण है कि युवाओं में इस सेक्टर का क्रेज तेजी से बढ़ रहा है.

Career kaise kare

इंटीरियर डिजाइनर क्या करता है?

इंटीरियर डिजाइनर वे व्यक्ति हैं जो आर्किटेक्ट्स के साथ साथ काम करते हैं. वे एक प्रतिष्ठान के लेआउट की योजना बनाने में मदद करते हैं जो एक घर, कार्यालय या किसी अन्य वाणिज्यिक परिसर का भी हो सकता है.

डिजाइनर अपने प्रतिष्ठानों के लेआउट, संरचना, रंग योजनाओं, असबाब और सजावट की योजना बनाने में फर्मों/घर के मालिकों की मदद करते हैं.

एक इंटीरियर डिजाइनर/डेकोरेटर का मुख्य कार्य किसी भी प्रतिष्ठान को आकर्षक बनाना और उपयोगिता वस्तुओं की पेशकश करना है. आंतरिक डिजाइन कोर्स करने के बाद
सबसे आम और लोकप्रिय करियर प्रोफाइल इंटीरियर डिजाइनर और इंटीरियर डेकोरेटर बनना है.

Interior designer kaise bane

आंतरिक डिजाइनरों के कर्तव्य [Duties of interior designers]

A] नई परियोजनाओं पर खोज,

B] परियोजना के लिए ग्राहक के लक्ष्यों और आवश्यकताओं को निर्धारित करना,

C] विचार करें कि इंटीरियर डिजाइनिंग का उपयोग कैसे किया जाएगा,

D] बिजली और विभाजन लेआउट सहित स्केच प्रारंभिक डिजाइन योजना,

E] सामग्री और साज-सज्जा को निर्दिष्ट करें, जैसे प्रकाश, फर्नीचर, दीवार खत्म, फर्श, और नलसाजी जुड़नार,

F] B.Sc इंटीरियर डिजाइन परियोजना के लिए एक समयरेखा बनाएं और परियोजना लागत का अनुमान लगाएं,

G] सामग्री के लिए आदेश रखें और डिजाइन तत्वों की स्थापना की देखरेख करना,

H] ओवरसीज निर्माण और परियोजना के लिए योजनाओं और विनिर्देशों को लागू करने के लिए सामान्य भवन ठेकेदारों के साथ समन्वय,

I] परियोजना पूरी होने के बाद साइट पर जाना, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि ग्राहक संतुष्ट है.

Interior designer kaise bane

इंटीरियर डिजाइनर बनने की पात्रता [Eligibility Interior designer]

1. एक छात्र को इंटीरियर डिजाइनर बनने के लिए किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से 12th उत्तीर्ण होना चाहिए.

2. उम्मीदवारों के पास 12th या समकक्ष में न्यूनतम 50% अंक होने चाहिए,

3. इंटीरियर डिजाइन में B.Sc के लिए, उम्मीदवारों को कम से कम 55% समग्र एग्रीगेट के साथ प्रमुख विषयों के रूप में पीसीएम [फिजिक्स, केमिस्ट्री, और गणित] के साथ साइंस स्ट्रीम से होना चाहिए,

B. Sc Interior Designing Course kaise kare - इंटीरियर डिजाइनर Full Details

इंटीरियर डिजाइनर के लिए शिक्षा [Education for interior designers]

1. आंतरिक डिजाइनर बनने के लिए ग्रेजुएट की डिग्री आमतौर पर आवश्यक होती है,

2. एक पेशेवर डिजाइनर बनना है तो इंटीरियर डिजाइन, ड्राइंग और कंप्यूटर एडेड डिजाइन [CAD] जैसे महत्वपूर्ण सब्जेक्ट की पढाई जरुरी है.

3. BSc इंटीरियर डिजाइनर के रूप में करियर बनाने के बारे में सोच रहे है तो, हम आपको बताना चाहते हैं कि इसके लिए, कोई भी अभ्यर्थी, जिसने एचएससी परीक्षा [12th] उत्तीर्ण की है, वह किसी भी स्ट्रीम से न्यूनतम 55% प्रतिशत के साथ उत्तीर्ण होना अनिवार्य है. तभी वह छात्र BSc इंटीरियर डिजाइनर कार्यक्रम करने के योग्य है.

4. नेशनल एसोसिएशन ऑफ स्कूल ऑफ आर्ट एंड डिज़ाइन ने लगभग 350 पोस्टकॉन्ड्री कॉलेजों, विश्वविद्यालयों, और स्वतंत्र संस्थानों को मान्यता दी है, जिनके पास कला और डिजाइन में कई अधिक विकल्प कार्यक्रम हैं.

5. आंतरिक डिजाइन प्रत्यायन के लिए परिषद पेशेवर स्तर (स्नातक या मास्टर डिग्री) के लिए इंटीरियर डिजाइन कार्यक्रम को मान्यता देता है.

6. इंटीरियर डिजाइन कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए आवेदकों को अपनी कलात्मक क्षमता के स्केच और अन्य उदाहरण प्रस्तुत करने की आवश्यकता हो सकती है.

Interior designer kaise bane

B.Des के लिए पात्रता –

1. B.Des कार्यक्रम में प्रवेश के लिए, उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय / बोर्ड से 12th किया होना चाहिए,

2. उम्मीदवार के लिए ऊपरी आयु सीमा 20 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए, आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए ऊपरी आयु सीमा में 3 वर्ष की छूट होती है.

Interior designer kaise bane

M.Ed. के लिए पात्रता –

1. M.Ed. के लिए उम्मीदवार को डिजाइन में स्नातक / डिप्लोमा किया होना चाहिए,

2. उम्मीदवार की ऊपरी आयु सीमा 30 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए, आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए ऊपरी आयु सीमा में 3 वर्ष की छूट होती है.

Interior Designing Course
1. BSc in Interior Designing Course2. BDes in Interior Designing Course
3. Interior Architecture Design Course4. Diploma in Interior Designing Course

Interior designer me future kaise banaye

इंटीरियर डिजाइनिंग कॉलेज लिस्ट [Interior Designing College List]

1. राष्ट्रीय डिजाइन संस्थान, नई दिल्ली,

2. अंतर्राष्ट्रीय फैशन डिजाइन संस्थान, नई दिल्ली,

3. इंटरनेशनल स्कूल ऑफ़ डिज़ाइन, नई दिल्ली,

4. नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन, अहमदाबाद.

5. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन एंड डिजाइन, चंडीगढ़.

B. Sc Interior Designing Course kaise kare

इंटीरियर डिजाइनर के लिए रोजगार क्षेत्र [Employment Zone for Interior Designers]

1. वास्तुशिल्प फर्म,

2. डिजाइनिंग कंसल्टेंसी,

3. निर्माण कंपनियां,

4. सेट डिजाइनिंग कंपनियां (थिएटर, टीवी या फिल्म के लिए)

5. रिटेलर्स,

6. आंतरिक डिजाइन कंपनियां,

7. इवेंट मैनेजमेंट कंपनियां,

8. प्रदर्शनी केंद्र,

Interior designer me future kaise banaye

आंतरिक डिजाइनरों के लिए महत्वपूर्ण कौशल [Important skills for interior designers]

1] कलात्मक क्षमता,

2] रचनात्मकता,

3] विस्तार उन्मुख,

4] पारस्परिक कौशल,

5] समस्या को सुलझाने के कौशल,

6] दृश्य,

Interior designer me future kaise banaye

आंतरिक डिजाइनर का वेतन [Interior designer salary]

1. आंतरिक डिजाइनर के लिए औसत वार्षिक वेतन लगभग रूपये 40,00,000/- तक होता है.

2. अनुभवी डिजाइनर को औसत वेतन लगभग रूपये 70,000/- से लेकर 1,00,000/- के बीच हो सकता है.

3. पेशेवर डिजाइनर, अपने खुद के उद्योग में वार्षिक वेतन के रूप में INR 2,00,000/- से 10,00,000/- के आसपास वेतन अर्जित कर सकते है.

 

एक नजर आंतरिक डिजाइन कोर्स एडमिशन प्रक्रिया की ओर [Interior Design Course Admission]

एक उम्मीदवार एनआईडी परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकता है. अब कैसे तो चलिए जानते है.

 

आवेदन कैसे करें –

1 – एक उम्मीदवार को एनआईडी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है.

2 – आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के लिए यहाँ क्लिक करे,

3 – उसके बाद उम्मीदवार को अपना मूल विवरण, जैसे नाम, फ़ोन नंबर और ईमेल आईडी देकर पंजीकृत होना है.

4 – पंजीकरण के बाद, उम्मीदवार की ईमेल आईडी पर लॉगिन क्रेडेंशियल भेजे जाते हैं.

5 – लॉगिन क्रेडेंशियल के साथ, उम्मीदवार आवेदन पत्र तक पहुंचने में सक्षम होगा,

6 = उसे आवेदन पत्र में सभी निर्दिष्ट कॉलम भरें,

7 – आवेदन पत्र के साथ, उम्मीदवार को फोटोग्राफ और हस्ताक्षर की स्कैन की गई प्रतियां अपलोड करनी है उसके लिए पासपोर्ट साइज फोटो जरुरी है.

8 – उसके बाद भरे हुए आवेदन पत्र को आवेदन शुल्क के साथ जमा किया जाता है.

9 – इसके लिए उम्मीदवार नेट बैंकिंग, क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड के माध्यम से आवेदन शुल्क का भुगतान कर सकते है.

10 – यदि वह ऑनलाइन आवेदन शुल्क का भुगतान नहीं कर सकता है, तो उसे डिमांड ड्राफ्ट के माध्यम से भेजा जा सकता है –

परियोजना प्रबंधक – सीएमएस

अखिल भारतीय प्रबंधन संघ

प्रबंधन हाउस, 14,

संस्थागत क्षेत्र, लोधी रोड

नई दिल्ली 110003

लेकिन दोस्तों यह सब प्रक्रिया के लिए एक आवश्यक बात ध्यान में रखे – सभी प्रक्रिया की जाँच करे और फिर नतीजे पर पहुंचे, बिना किसी कन्फोर्मशन से किसी भी तरह का ऑनलाइन तथा ऑफलाइन भुकतान ना करे,

 

Inspection supervision:

Overview:- B. Sc Interior Designing Course Career kaise kare – इंटीरियर डिजाइनर Full Details in Hindi

Name- इंटीरियर डिजाइनिंग [ID] में (Rojgar) रोजगार कैसे करे,

Course level – स्नातक,

Period – 4 वर्ष,

Type of exam – सेमेस्टर प्रणाली,

Eligibility – 12th

Admission process – ऑनलाइन, ऑफलाइन,

Minimum qualification required – मान्यता प्राप्त बोर्ड से कक्षा 10 वीं और 12 वीं उत्तीर्ण.

Major entrance test – NATA, CEED, NID, CPET, आदि.

Skill:- नए विषयों की जानकारी प्राप्त करना,

Top Recruitment Areas / Areas – प्रदर्शनी डिजाइनर, सलाहकार, स्वतंत्र इंटीरियर डिजाइनर, शिक्षक, शोधकर्ता, सेट डिजाइनर, इंटीरियर डिजाइन प्रचारक, और इस तरह,

Job location:- इंडिया, और अन्य देश,

Course fee – INR 70,000/- से 3,00,000/-

Average starting salary – INR 3 से 10 लाख,

B.Sc Interior Designing Course Career kaise kare – इंटीरियर डिजाइनर Full Details in Hindi, डिजाइनिंग में फ्यूचर kaise banaye?

 

Read More Article

1. 12th ke bad BCA Course me career – कंप्यूटर एप्लीकेशन में Graduation kaise kare

2. B.Sc Hospital Pharmacist – Hospital Pharmacy Course kaise kare Full details

3. How to make a career in interior Designing – इंटीरियर डिजाइनिंग में भविष्य कैसे बनाये

4. B.Sc. Pharmacy specialist me Career – फार्मासिस्ट कैसे बने in Hindi

5. Video Game Designer Kaise Bane

 

हम आशा करते हैं कि यह लेख आपके लिए उपयोगी रहा है क्योंकि आपने जाना है की B.Sc Interior Designing Course Career kaise kare – इंटीरियर डिजाइनर Full Details in Hindi और यदि आपको इस लेख से कुछ मदद मिलती है, तो इसे अपने मित्रों तथा ज़रूरतमंद व्यक्ति को साझा करें ताकि हम भी इन लेखों को लिखना जारी रख सकें,

धन्यवाद… Interior designer me future kaise banaye

Post Comments

error: Content is protected !!