Instrument Engineer kaise bane | Instrumentation Engineering Me Career

इंस्ट्रूमेंट इंजीनियर कैसे बनें. How to become an Instrument Engineer, Instrument Engineering me Career कैसे बनाये, इंस्ट्रूमेंटेशन का कोर्स कैसे करे, Instrument Engineer kaise bane, B.Sc Instrumentation me Future banaye. Guide In Hindi.

Instrumentation Engineering में करियर - Instrument Engineer kaise bane in Hindi

 

Instrumentation Engineering में करियर – Instrument Engineer kaise bane in Hindi

Hello, Friends Welcome To ”Apna Sandesh Web Portal” दोस्तों जैसा की हम हमारे पोर्टल पर करियर से जुडी जानकारी आप तक ”Career Magzine” नामक इकाई से
प्रसारित करते आ रहे है. हाँ दोस्तों आपने सही पढ़ा, इस इकाई में आप इंजीनियरिंग के विविध प्रकार और करियर विकल्प के बारे में जान सकते है. और यह सब आप सभी के सपोर्ट के बिना संभव नहीं था.

दोस्तों, जैसा कि हर कोई अपने करियर को लेकर चिंतित है. और उस बारे में इंटरनेट पर खोज करता है लेकिन जब आप अपने करियर के बारे में सोचते हैं, तो आप सोचते हैं कि किस क्षेत्र में करियर बनाया जाना चाहिए, और यह सोच आपको सफलता की राह पर ले जाती है जैसे कि आप अभी हमारे साथ जुड़े हुए हैं.

जी हाँ दोस्तों, ”अपना संदेश” टीम आपके करियर से जुड़ी इस समस्या को बहुत जल्दी हल करने की कोशिश करेगी, इसके लिए आपको हमेशा हमारे साथ रहना है. क्योंकि आपसे ही हमे प्रेरणा मिलती है. और उसी आत्मविशास से आप तक नए लेख लाते है.

हाँ दोस्तों आज हम इस लेख में एक पेशेवर इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियर बनने के लिए क्या करे और इंस्ट्रूमेंटेशन कोर्स की जानकारी? तथा [बीएससी इंस्ट्रूमेंटेशन कोर्स कैसे करे], 10th ke bad Instrument Engineer kaise bane, [Instrumentation me Future kaise kare], इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियरिंग में करियर कैसे बनाये, सैलरी, एजुकेशन, रोजगार और एड्मिसन प्रक्रिया के बारे में चर्चा करेंगे, इसीलिए इस लेख के अंतिम चरण तक जरूर बने रहें.

 Read More Article

1. B.Sc Interior Designing Course kaise kare – इंटीरियर डिजाइनर Full Details
2. 12th ke bad BCA Course me career – कंप्यूटर एप्लीकेशन में Graduation kaise kare
3. B.Sc Architecture me career – बैचलर आर्किटेक्चर [Architect] kaise bane in Hindi

 

करियर की जानकारी [Instrument Engineer kaise bane]

इंस्ट्रूमेंट इंजीनियरों को तेल शोधन और गैस प्रसंस्करण, कागज और इस्पात निर्माण, बिजली संयंत्रों, खाद्य प्रसंस्करण और आक्रामक अन्वेषण सहित उद्योगों की एक श्रेणी में नियोजित किया जाता है. क्योंकि ये इंजीनियर जनता को सेवाएं प्रदान करते हैं, इसलिए उन्हें लाइसेंस प्राप्त होना चाहिए.

हालांकि कुछ राज्यों में लाइसेंस की आवश्यकताओं में भिन्नता होती है, मान्यता प्राप्त इंजीनियरिंग कार्यक्रमों के स्नातकों को आम तौर पर पहले फंडामेंटल ऑफ इंजीनियरिंग (एफई) परीक्षा लेनी चाहिए, जो उत्तीर्ण होते हैं उन्हें प्रशिक्षण (ईआईटी) या संबंधित कार्यकाल में इंजीनियर के रूप में संदर्भित किया जाता है.

Instrument Engineering me Career

इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियरिंग क्या है?

इंजीनियरिंग इंजीनियरिंग की वह शाखा है जो डिजाइन, बिजली, वायवीय ज्ञानक्षेत्र आदि में स्वचालित प्रणाली के कॉन्फ़िगरेशन में उपयोग किए जाने वाले उपकरणों को मापने के सिद्धांत और संचालन पर निर्भर करती है. इंस्ट्रूमेंटेशन का कोर्स

Instrument Engineering me Career

इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियर क्या करता है?

इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियर आमतौर पर उत्पादकता, विश्वसनीयता, सुरक्षा, अनुकूलन और स्थिरता में सुधार के लक्ष्य के साथ स्वचालित प्रक्रिया वाले उद्योगों के लिए काम करते हैं.

यह इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियर आमतौर पर सेंसर को रिकॉर्डर्स, ट्रांसमीटर, डिस्प्ले या कंट्रोल सिस्टम के साथ एकीकृत करने के लिए जिम्मेदार होते हैं.

वे स्थापना, वायरिंग और सिग्नल कंडीशनिंग को डिज़ाइन या निर्दिष्ट करते हैं. और साथ ही साथ सिस्टम के अंशांकन, परीक्षण और रखरखाव के लिए भी महत्वपूर्ण होते हैं.

Instrument Engineering me Career

इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियर कैसे बनें [How to become an instrumentation engineer]

एक प्रोफेशनल इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियर बनने के लिए आपको इंजीनियरिंग, इंजीनियरिंग टेक्नोलॉजी या किसी भी संबंधित क्षेत्र में कम से कम ग्रेजुएट की डिग्री होनी चाहिए.

इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियरों के लिए अनुशासन उस उद्योग पर निर्भर करता है जिसे आप काम करने की योजना बनाते हैं, इस क्षेत्र में अधिकांश इंजीनियर इलेक्ट्रिकल, मैकेनिकल या कंप्यूटर इंजीनियरिंग में ग्रेजुएट की डिग्री रखते हैं.इंस्ट्रूमेंटेशन का कोर्स

B.Sc Instrumentation

शिक्षा की जानकारी [education in instrumentation engineering]

एक इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियर के रूप में अपना करियर बनाने वाले छात्रों को इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियरिंग प्रौद्योगिकी में ग्रेजुएट की डिग्री के साथ स्नातक होना जरुरी है.

इंस्ट्रूमेंटेशन में ग्रेजुएट की डिग्री अर्जित करना आमतौर पर एक इंस्ट्रूमेंट इंजीनियर बनने का पहला कदम है. अधिकांश इंस्ट्रूमेंट इंजीनियर 4 साल कें डिग्री प्रोग्राम के माध्यम से अपनी डिग्री अर्जित करते हैं. कई इंस्ट्रूमेंटेशन में मास्टर डिग्री प्राप्त करते हैं,

Instrument इंजीनियर बनने कें लिए आपको कक्षा 12th को Physics, Chemistry, Math के साथ अच्छे अंको से पास होना है. तभी आप इस फील्ड के चयन प्रक्रिया में सहभाग ले सकते है.

साधन इंजीनियर बनना है तो न्यूनतम आवश्यकताएं आमतौर पर poly का डिप्लोमा [Polytechnic], न्यूतनम तीन साल का कार्यक्रम होता है और बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग [B.E.], चार साल का प्रोग्राम होता है.

इन कार्यक्रमों में छात्रों को पाठ्यक्रम, प्रयोगशाला सत्र और इंटर्नशिप पूरा करने की आवश्यकता होती है.

पाठ्यक्रम उपकरणों और ट्रांसड्यूसर, स्वचालन, विद्युत ऊर्जा प्रणालियों और प्रक्रिया मॉडलिंग पर ध्यान केंद्रित करते हैं. जबकि एक ग्रेजुएट की डिग्री एक इंजीनियर बनने के लिए न्यूनतम आवश्यकता है, कई लोग मास्टर डिग्री प्रोग्राम में अपनी शिक्षा पूरी करने के लिए चुनते हैं.

चाहे स्नातक कार्यक्रम या व्यक्तिगत कक्षाओं के माध्यम से, इंजीनियरों को बढ़ती प्रौद्योगिकियों के साथ बनाए रखने के लिए निरंतर शिक्षा आवश्यक है. नौकरी करने के बाद भी, इंजीनियर आमतौर पर नौकरी पर प्रशिक्षण प्राप्त करना जारी रखते हैं.

और देखा जाये तो उन्नति अक्सर उन कर्मचारियों की होती है जिनके पास अनुभव, औपचारिक प्रशिक्षण और प्रमाणपत्र हैं. कुछ राज्यों को लाइसेंस नवीनीकरण के लिए सतत शिक्षा की भी आवश्यकता होती है.

Instrument Engineering me Career

डिप्लोमा के लिए पात्रता –

1. Diploma कार्यक्रम में प्रवेश के लिए, उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय / बोर्ड से 12th किया होना चाहिए,

2. कक्षा 10 की परीक्षा उत्तीर्ण करने कें बाद छात्र इंजीनियरिंग डिप्लोमा के लिए आवेदन कर सकते है,इंस्ट्रूमेंटेशन का कोर्स

3. अन्य डिप्लोमा पाठ्यक्रमों कें लिए, 12th न्यूनतम आवश्यकता,

B.Sc Instrumentation

इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियर के कौशल [Instrumentation Engineer Skills]

A] मजबूत संचार कौशल,

B] ध्वनि समस्या निवारण कौशल,

C] कार्य के लिए उपयुक्त हार्डवेयर के डिजाइन विकास में परियोजना की जरूरतों का अनुवाद करने की क्षमता,

D] फिल्ड में सोचने की क्षमता,इंस्ट्रूमेंटेशन का कोर्स

E] टीम वर्क,

B.Sc Instrumentation

इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियर्स के लिए स्कोप [Scope for instrumentation engineers]

इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियर टॉर्क, ब्लड ग्लूकोज मॉनिटर, एयरक्राफ्ट सेंसर और स्मोक डिटेक्टरों को मापने के लिए डायनामोमीटर जैसे डिवाइस डिजाइन करते हैं.

वे इलेक्ट्रोकार्डियोग्राफ़ उपकरण और कंप्यूटेड टोमोग्राफी स्कैनर विकसित करते हैं या सुरक्षा प्रणालियों पर काम करते हैं.

विभिन्न रिपोर्टों के अनुसार, इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियरों के लिए कैरियर की संभावनाओं में से कुछ उपरोक्त हैं. वे हर सफल वैमानिकी अनुसंधान परियोजनाओं में भी आवश्यक भूमिका निभाते हैं.इंस्ट्रूमेंटेशन का कोर्स

वे विनिर्माण फर्मों, रक्षा ठेकेदारों, बायोमेडिकल कंपनियों, सरकार में रोजगार पाते हैं या निजी इंजीनियरिंग फर्मों के लिए काम करते हैं.

B.Sc Instrumentation

इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियर का वेतन [Instrumentation Engineer’s Salary]

Instrumentation Engineering में करियर - Instrument Engineer kaise bane in Hindi. इंस्ट्रूमेंटेशन का कोर्स

1. इंस्ट्रूमेंट इंजीनियर के लिए औसत वार्षिक वेतन लगभग रूपये 6,00,000/- तक होता है.

2. एक पेशेवर इंस्ट्रूमेंट इंजीनियर का वार्षिक वेतन लगभग रूपये 10,00,000/- लाख से अधिक हो सकता है.

 

Inspection supervision:

Overview:- Instrumentation Engineering में करियर – Instrument Engineer kaise bane in Hindi
Name- इंस्ट्रूमेंट इंजीनियरिंग [IE] में (Rojgar) रोजगार कैसे करे,
Course level – ग्रेजुएट,
Period – 4 वर्ष,
Type of exam – सेमेस्टर प्रणाली,
Eligibility – 12th में न्यूनतम 45%
Admission process – ऑनलाइन,
Minimum qualification required – मान्यता प्राप्त बोर्ड से कक्षा 10 वीं और 12 वीं उत्तीर्ण.
Skill:- नए विषयों की जानकारी प्राप्त करना,
Job location:- इंडिया, और अन्य देश,
Course fee – INR 50,000 – 2 लाख प्रति वर्ष,
Average starting salary – INR 20,000/- से 6 लाख तक,

Instrumentation Engineering में करियर – Instrument Engineer kaise bane in Hindi, इंस्ट्रूमेंट इंजीनियरिंग में फ्यूचर कैसे करे?

 

Read More Article

1. Mobile engineering me career – मोबाइल इंजीनियर कैसे बनें

2. Project engineering me career – प्रोजेक्ट इंजीनियर कैसे बनें 

3. कैसे बने इलेक्ट्रिकल इंजीनियर – How did the electrical engineer

4. विद्युत प्रवाह के बारे में जानकारी – Information about electric current

5. Automobile Technician Kaise Bane

 

हम आशा करते हैं कि यह लेख आपके लिए उपयोगी रहा है क्योंकि आपने जाना है की [Instrumentation Engineering में करियर – Instrument Engineer kaise bane in Hindi] और यदि आपको इस लेख से कुछ मदद मिलती है, तो इसे अपने मित्रों तथा ज़रूरतमंद व्यक्ति को साझा करें ताकि हम भी इन लेखों को लिखना जारी रख सकें,

धन्यवाद…B.Sc Instrumentation

Post Comments

error: Content is protected !!