Facilities Engineering Me Career – Facilities Engineer kaise bane Details

फैसिलिटीज इंजीनियर कैसे बनें How to become a Facilities Engineer, Facilities Engineering Me Career Kaise Banaye, फैसिलिटीज इंजीनियरिंग कोर्स कैसे करे, Facilities Engineer kaise bane, B.Sc Facilities Management me Future banaye. Guide In Hindi.

Facilities Engineering में करियर - Facilities Engineer kaise bane Full Details

Facilities Engineering में करियर – Facilities Engineer kaise bane Full Details

Hello, Friends Welcome To ”Apna Sandesh Web Portal”: दोस्तों, जैसा कि हम आपके करियर से जुड़ी जानकारियों को “Career Magazine” नामक एक इकाई के माध्यम से हमारे पोर्टल पर प्रसारित कर रहे हैं. हाँ दोस्तों, आपने सही पढ़ा, इस इकाई में आप विभिन्न प्रकार के इंजीनियरिंग और करियर विकल्पों के बारे में जान सकते हैं

अगर आप अपने करियर के बारे में Google पर खोज कर रहे है या फिर अपने करियर से जुडी बातो से चिंतित रहते है और आप सोचते हैं कि किस क्षेत्र में करियर बनाया जाना चाहिए, यह सोच आपको सफलता की राह पर ले जाती है जैसे कि आप अभी हमारे साथ जुड़े हुए हैं.

जी हाँ दोस्तों, ”अपना संदेश” टीम आपके करियर से जुड़ी इस समस्या को बहुत जल्दी हल करने की कोशिश करेगी, इसके लिए आपको हमेशा हमारे साथ रहना है. क्योंकि आपसे ही हमे प्रेरणा मिलती है. और उसी आत्मविशास से आप तक नए लेख लाते है.

हाँ दोस्तों आज हम इस लेख में एक पेशेवर सुविधाएं इंजीनियर बनने के लिए क्या करे और सुविधाएं इंजीनियरिंग की जानकारी? तथा [बीएससी फैसिलिटीज मैनेजमेंट कोर्स कैसे करे], 10th ke bad Diploma Engineer kaise bane, [facilities Engineering me Future kaise kare], फैसिलिटीज इंजीनियरिंग में करियर कैसे बनाये, सैलरी, एजुकेशन, रोजगार और एड्मिसन प्रक्रिया के बारे में चर्चा करेंगे, इसीलिए इस लेख के अंतिम चरण तक जरूर बने रहें.

Read More Article

1. Big Data Analytics kya hai – बिग डाटा के बारे में कैसे जाने in Hindi
2. B.Sc Agriculture Course कैसे करे – Rancher kaise bane Full Details
3. Instrumentation Engineering में करियर – Instrument Engineer kaise bane in Hindi

 

सुविधाएं इंजीनियर क्या है [How to become a facilities engineer]

सुविधाएं अभियंता पेशेवर हैं, जो सुविधाओं और विभिन्न भवन संरचनाओं के नियोजन, विकास, डिजाइन और रखरखाव में इंजीनियरिंग सिद्धांतों के अपने ज्ञान को लागू करते हैं, जो कि पुलों, बांधों, चैनलों, सड़कों और रेलमार्गों से लेकर हवाई अड्डों, पाइपलाइनों, पानी और सीवेज सिस्टम तक हो सकते हैं.

यह सिविल इंजीनियरिंग विभाग का उपविभाग है. जिसमे विभिन्न सेक्टर आते है.

Facilities Engineering Me Career

सुविधा इंजीनियर क्या करता है?

एक सुविधा अभियंता का काम एक निर्माण या संबंधित सुविधा के संचालन या निर्माण में नई प्रक्रियाओं या सुधारों को डिजाइन करना, उनकी समीक्षा करना और उन्हें लागू करना है.

सुविधाएं इंजीनियर सामग्री और श्रम लागत का Analysis करते हैं, प्रक्रियाओं और मानकों को निर्धारित करते हैं, निर्माण या उत्पादन बोलियों की समीक्षा करते हैं, और समग्र संयंत्र संचालन के लिए भी जिम्मेदार हो सकते हैं.

सुविधा इंजीनियर्स उपकरण, मशीनरी, इमारतों, संरचनाओं और अन्य सुविधाओं के पुनर्गठन, रखरखाव और परिवर्तन की योजना बनाते हैं, डिज़ाइन करते हैं और उसकी देखरेख करते हैं.

वे उच्च वृद्धि वाले वाणिज्यिक अचल संपत्ति, वाणिज्यिक और औद्योगिक संयंत्रों, विश्वविद्यालय परिसरों, चिकित्सा केंद्रों, कार्यालयों और सरकारी सुविधाओं के इष्टतम संचालन को सुनिश्चित करते हैं.

सुविधाएं इंजीनियर अपनी परियोजनाओं की प्रकृति के आधार पर, दोनों कार्यालयों और कार्य स्थलों में काम करते हैं.

Facilities Engineering Me Career

सुविधाएं इंजीनियर कर्तव्य [Facilities Engineer Duty]

पौधों और अन्य प्रकार की सुविधाओं के सुचारू संचालन को सुनिश्चित करने के लिए, सुविधाएं इंजीनियर विभिन्न कार्यों के लिए जिम्मेदार हैं.

हमने इन मुख्य कर्तव्यों की पहचान करने के लिए कई नौकरी लिस्टिंग का विश्लेषण किया है जो कि सुविधाएं इंजीनियर आमतौर पर अपने काम में करते हैं.

Facilities Engineering Me Career

पाठ्यक्रम की पात्रता-

A – 12 वीं कक्षा पास विज्ञान स्ट्रीम में,

B – पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश परीक्षा, [एक अच्छी प्रवेश परीक्षा रैंक]

C – जेईई (संयुक्त प्रवेश परीक्षा)

D – सुविधाएं इंजीनियर बनने के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से निर्माण, संरचनात्मक या भू-तकनीकी इंजीनियरिंग के साथ ग्रेजुएट की डिग्री जरुरी है.

Facilities Engineering Me Career

सुविधाएं इंजीनियर कैसे बनें?

दोस्तों अगर अपना भविष्य इस विभाग में बनाना चाहते है तो छात्रों को इंजीनियरिंग, डिजाइन, प्रौद्योगिकी, निर्माण और गणित में रुचि होनी चाहिए.

12 वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद इच्छुक उम्मीदवारों को कंस्ट्रक्शन, स्ट्रक्चरल, जियोटेक्निकल और जिओनिवायरल जैसे विषयों के साथ इंजीनियरिंग डिग्री होनी चाहिए.

इन पाठ्यक्रमों में प्रवेश प्रक्रिया से पहले अखिल भारतीय स्तर या राज्य स्तर पर या तो आयोजित प्रवेश परीक्षा के आधार पर दिया जाता है.

प्रवेश परीक्षा के बाद अभ्यर्थियों को परीक्षा में प्रदर्शन के अनुसार रैंक दी जाती है.

इंजीनियरिंग डिग्री उत्तीर्ण करने के बाद मास्टर डिग्री के लिए जा सकते हैं क्योंकि कुछ नियोक्ता ऐसे हैं जो नौकरी देने में इसे पसंद करते हैं.

उनकी नौकरियां मुख्य रूप से प्रबंधकीय और अनुसंधान स्तर के पद के लिए होती हैं.

B.Sc Facilities me Future

सुविधाएं अभियंता के लिए पाठ्यक्रम प्रदान करने वाले संस्थान –

1. IIT बॉम्बे – भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, पवई, मुंबई.

2. आईआईटी मद्रास – भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, अडयार, चेन्नई.

3. स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग, MIT ADTU, लोनी कलभोर, पुणे.

4. MIT WPU – विश्व शांति विश्वविद्यालय, पुणे, कोथृद, पुणे.

5. आईआईटी दिल्ली – भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, हौज खास, दिल्ली.

6. स्कूल ऑफ पेट्रोलियम टेक्नोलॉजी, पंडित दीनदयाल पेट्रोलियम विश्वविद्यालय, गांधीनगर.

7. महिंद्रा इकोले सेंट्राले, बहादुरपल्ली, हैदराबाद.

8. IIT हैदराबाद – भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, हैदराबाद.

9. एसआरएम इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी, रामपुरम, रामपुरम, चेन्नई.

B.Sc Facilities me Future - Facilities Engineer kaise bane Full Details

सुविधाएं इंजीनियर नौकरी का विवरण –

सुविधाएं इंजीनियर अनुसंधान का आयोजन करते हैं, जानकारी एकत्र करते हैं और रिपोर्ट, ब्लूप्रिंट, स्थलाकृतिक और भूगर्भिक डेटा का विश्लेषण करते हैं और परियोजनाओं की योजना बनाते समय निष्कर्षों का उपयोग करते हैं.

उनकी जिम्मेदारियों में श्रम, उपकरण और सामग्री की लागत और उपयोग का आकलन करना, एक परियोजना की व्यवहार्यता का निर्धारण करना और प्रासंगिक रिपोर्ट के साथ क्लाइंट और प्रबंधन प्रदान करना शामिल है.

वे डिजाइन और निर्माण पर प्रबंधन की सलाह भी देते हैं, मौजूदा डिजाइनों और समाधानों में संशोधनों का प्रस्ताव करते हैं और आवश्यक होने पर संरचनात्मक मरम्मत की सलाह देते हैं.

B.Sc Facilities me Future

सुविधाएं इंजीनियर करियर विकल्प [Facilities Engineer Career Options]

1. सुविधाएं इंजीनियर लगभग सभी प्रकार के उद्योगों में नौकरी पा सकते हैं.

2. स्व-रोजगार के अवसर सलाहकारों या विशेषज्ञों के रूप में उपलब्ध हैं और आमतौर पर औद्योगिक अनुभव के उपयुक्त वर्षों के बाद काम करते हैं.

3. वे निजी कंसल्टेंसी फर्मों, बड़ी कंपनियों के R&D प्रतिष्ठानों या Procurement engineer और तकनीकी बिक्री प्रबंधकों के रूप में भी शामिल हो सकते हैं.

B.Sc Facilities me Future

सुविधाएं इंजीनियर के कौशल [Skills of Facilities Engineer]

1] सुविधाएं इंजीनियरों को खरीद नियमों और अनुबंध प्रबंधन का एक उत्कृष्ट ज्ञान होना चाहिए.

2] उच्च स्तर के रखरखाव के महत्व को समझने में सक्षम होना चाहिए.

3] रचनात्मक और विश्लेषणात्मक,

4] मजबूत संचार और प्रबंधन कौशल,

5] साथ ही साथ अंतर-विभागीय टीमों के साथ काम करने और प्रेरित करने की क्षमता होनी चाहिए,

6] सुविधाएं इंजीनियरों के पास मजबूत नेतृत्व,

7] तनावपूर्ण परिस्थितियों में काम करने में सक्षम होना चाहिए,

8] उचित निर्णय लेने की आवश्यकता,

B.Sc Facilities me Future

सुविधाएं इंजीनियर का वेतन [Facilities engineer salary]

सुविधाएं इंजीनियर [Facilities engineer] का औसतन वेतन लगभग रूपये 30,000/- से रूपये 40,000/- तक प्रति माह कमा सकते हैं. इंजीनियरिंग के अलावा Management की डिग्री रखने वाले उम्मीदवार इससे अधिक वेतन कमा सकते हैं.

इंजीनियरिंग के विभाग में औद्योगिक इंजीनियर के लिए औसत वार्षिक वेतन रूपये 60,00,000/- तक होता है.

भारत में सुविधाएं इंजीनियर के लिए राष्ट्रीय औसत वेतन लगभग रूपये 6,40,00,000/- तक हो सकता है.

 

ऑनलाइन आवेदन फॉर्म कैसे जमा करे – B.Tech/BE:

A – वैध MHT CET / JEE मेन स्कोर वाले सभी इच्छुक उम्मीदवार, DTE महाराष्ट्र की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से महाराष्ट्र में B.Tech प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन
पत्र भर सकते हैं.

B – उम्मीदवारों को MHT CET के बाद काउंसलिंग के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर पंजीकरण करना आवश्यक नहीं है.

C – उम्मीदवार सीएपी के लिए एमएचटी सीईटी लॉगिन क्रेडेंशियल के साथ लॉग इन कर सकते हैं.

D – वैध जेईई मुख्य स्कोर वाले आवेदकों को आधिकारिक वेबसाइट पर पंजीकरण करना होगा.

E – सीएपी शुल्क या परामर्श शुल्क का भुगतान: ऑनलाइन आवेदन पत्र के सफल प्रस्तुत करने के बाद, उम्मीदवारों को सीएपी शुल्क या परामर्श शुल्क का भुगतान करना होगा,

F – उम्मीदवार ऑनलाइन आवेदन पत्र जमा करने, दस्तावेज अपलोड करने और काउंसलिंग शुल्क का भुगतान करने के लिए सुविधा केंद्रों पर भी जा सकते हैं.

[Note – काउंसलिंग शुल्क भुगतान के बाद आवेदन पत्र का प्रिंटआउट लेना अनिवार्य है]

 

Author By- Savita

Inspection supervision:

Overview:- Facilities Engineering में करियर – Facilities Engineer kaise bane Full Details
Name- फैसिलिटीज इंजीनियरिंग में (Rojgar) रोजगार कैसे करे,
Course level – ग्रेजुएट,
Period – 4 वर्ष,
Type of exam – सेमेस्टर प्रणाली,
Eligibility – 12th में न्यूनतम 50%
Admission process – ऑनलाइन,
Minimum qualification required – मान्यता प्राप्त बोर्ड से कक्षा 10 वीं और 12 वीं उत्तीर्ण.
Skill:- नए विषयों की जानकारी प्राप्त करना,
Job location:- इंडिया, और अन्य देश,
Course fee – INR 50,000 – 10 लाख तक,
Average starting salary – INR 20,000/- से 50 लाख तक,

Facilities Engineering में करियर – Facilities Engineer kaise bane Full Details, फैसिलिटीज इंजीनियरिंग में फ्यूचर कैसे करे?

Read More Article

1. B.Sc Hospital Pharmacist – Hospital Pharmacy Course kaise kare Full details

2. Hotel Management [HM] me career – होटल मैनेजर kaise bane Full Details

3. 12th ke bad BCA Course me career – कंप्यूटर एप्लीकेशन में Graduation kaise kare

4. Wind energy Engineering me career – पवन ऊर्जा इंजीनियर kaise bane Full details

5. Medical Engineer Kaise Bane

 

हम आशा करते हैं कि यह लेख आपके लिए उपयोगी रहा है क्योंकि आपने जाना है की [Facilities Engineering में करियर – Facilities Engineer kaise bane Full Details in Hindi] और यदि आपको इस लेख से कुछ मदद मिलती है, तो इसे अपने मित्रों तथा ज़रूरतमंद व्यक्ति को साझा करें ताकि हम भी इन लेखों को लिखना जारी रख सकें,

धन्यवाद…Facilities Engineering Me Career

Post Comments

error: Content is protected !!