NEP MBBS doctor kaise bane | फिजिशियन kaise bane – न्यू शिक्षा नीति

एमबीबीएस डॉक्टर कैसे बनें, Physician kaise bane, New Shiksha Niti – NEP MBBS doctor kaise bane?, Doctor Banne Ke Liye Course kare, MBBS में फ्यूचर बनाये, Ayurvedic doctor Bankar Career kaise banaye, Medical doctor kaise bane – जाने फुल डिटेल्स.

New Shiksha Niti | MBBS doctor | फिजिशियन kaise bane Guide in Hindi. Career kaise kare

 

MBBS doctor | फिजिशियन kaise bane Guide in Hindi

प्रिय पाठक, अगर आप मेडिकल सायंस में New Education Policy [NEP] के आधार पर Medical doctor kaise bane के बारे GOOGLE पर सर्च कर रहे हो तो, इस लेख के अंतिम चरण तक जरुर बने रहे.

MBBS Doctor Banane के लिए New Shiksha Niti कितनी लाभकारी है. आइये देखते है.

केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में घोषित की गई नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति [New education policy] से, Graduate nurses, AYUSH and dentists को डॉक्टर बनने का सुनहरा अवसर मिलने की उम्मीद है क्योंकि केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय MBBS में प्रवेश देने पर विचार कर रहा है. Graduate nurses, AYUSH and dentists और
संबद्ध पाठ्यक्रमों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वालों को पाठ्यक्रम में शामिल किया जा सकता है.

यदि New Shiksha Niti मेडिकल विज्ञान को अपनाती है तो यह आने वाले वर्षों में नर्सिंग पेशे को एक महत्वपूर्ण बढ़ावा देगी. क्योंकि यह उन्हें पार्श्व प्रवेश कार्यक्रम के माध्यम से Doctor Banane का अवसर प्रदान करेगा.

सिर्फ Nursing ही नहीं, बल्कि Dental और यहां तक ​​कि AYUSH जैसे संबद्ध चिकित्सा पाठ्यक्रमों और विषयों के अन्य छात्रों को MBBS Doctor Banane का मौका मिल सकता है.

Read More Article – Surya Namaskar [सूर्य नमस्कार] ke Teacher kaise bane

Read More Article – मेडिकल इंजीनियर [Medical engineer] कैसे बने

 

नई शिक्षा नीति – Physician kaise bane

New Shiksha Niti विभिन्न स्तरों की योग्यता वाली नर्सों के लिए व्यावसायिक विकास के रास्ते बनाने की आवश्यकता के बारे में भी बताती है. नर्सिंग शिक्षा में संकाय सहित सभी नर्सों के लिए सतत नर्सिंग शिक्षा (CNE) और लाइसेंस दिशानिर्देशों के नवीकरण को भारतीय नर्सिंग परिषद (INC) द्वारा तैयार किया जाएगा, साथ ही एक भारतीय नर्स रजिस्ट्री भी बनाई जाएगी,

इस New Shiksha Niti का मुख्य उद्देश्य शिक्षा की गुणवत्ता में और सुधार लाना है और साथ ही साथ चिकित्सा पेशेवरों से संबंधित नर्सिंग और अन्य संबद्ध स्नातकों के लिए अधिक करियर के अवसर प्रदान करना है. तो आइये New education policy में Doctor kaise bane यह जानते है.

 

मेडिकल डॉक्टर बनें [Medical doctor kaise bane]

दोस्तों क्या आप लोगों को बेहतर और तंदुरुस्त बनाने में मदद करना चाहते हैं? क्या आप उनकी जान बचाना चाहते हैं? यदि हाँ, तो आप डॉक्टर बनने के बारे में सोच सकते है.

यदि आप इस विभाग का चयन करते है तो शायद आप जानते होंगे की इसके अलग-अलग विभाग है और हर विभाग में पेशेवर सर्जन, चिकित्सक, बाल रोग विशेषज्ञ और सामान्य परिवार के चिकित्सकों सहित विभिन्न प्रकार के डॉक्टर हैं.

डॉक्टर बनना इतना आसान लगता है तो यह सोच आप अपने मन से निकाल लीजिये, क्योंकि जब तक आप कठोर मेहनत नहीं करते तब तक आप अपने सपने को
साकार नहीं कर सकते, और हमें उम्मीद है की आप जिस मंज़िल का पीछा कर रहे है उसमे जरुर सक्सेस होंगे बस आपको पढाई मन लगाकर करना है.

 

Physician kaise bane – चिकित्सक

फिजिशियन, जिन्हें डॉक्टर के रूप में भी जाना जाता है, यह बीमारियों और चोटों वाले लोगों की मदद करते हैं. यदि कोई रोगी दर्द या खराब स्वास्थ्य के लिए चिकित्सक के पास आता है, तो चिकित्सक अपने कौशल से समस्या के कारण और उपचार के सर्वोत्तम पाठ्यक्रम को निर्धारित करने के लिए नैदानिक ​​परीक्षणों का उपयोग करता है.

तथा बीमारियों के इलाज या लक्षणों से राहत के लिए दवा लिखते हैं.

कुछ फिजिशियन शरीर के कुछ हिस्सों की मरम्मत करने के लिए सर्जरी करते हैं.

जिन्हें सर्जन के रूप में जानते है.

फिजिशियन के कई अलग-अलग विशेषताएं हैं बाल रोग विशेषज्ञ शिशुओं और बच्चों का इलाज करते हैं, जबकि जेरोन्टोलॉजिस्ट बुजुर्गों के इलाज में विशेषज्ञ हैं, उदा. डॉक्टर मानव शरीर के विशिष्ट भागों पर ध्यान केंद्रित कर सकते हैं, जैसे हृदय और संचार प्रणाली (Cardiologist), मस्तिष्क और तंत्रिका तंत्र (Neurologist), पाचन तंत्र (Gastroenterologist), एंडोक्राइन सिस्टम (Endocrinologist), या त्वचा (Dermatologist). आदि.Career kaise kare

Read More Article – Dermatologist कैसे बने 

Read More Article –  Cosmetology – पार्लर (कॉस्मेटोलॉजी) में Career kaise banaye

 

अस्पताल में पेशेंट पर डॉक्टर चेक अप

चिकित्सा क्षेत्र में आप दो प्रकार के डॉक्टर बन सकते है, जैसे एक मेडिकल डॉक्टर, या M. D. और ओस्टियोपैथिक मेडिसिन के डॉक्टर या D. O.

एक एम.डी. दवा और सर्जिकल उपचार का अधिक विशेष रूप से उपयोग करता है, जबकि एक डी.ओ. चिकित्सा के साथ-साथ तंदुस्र्स्त करने के लिए मानव शरीर की मस्कुलोस्केलेटल प्रणाली पर इलाज करते है.

यह एक शारीरिक और मानसिक रूप से मांग वाला करियर विकल्प है, जहां आप लंबे और अनियमित घंटे काम करेंगे, खासकर एक निवासी के रूप में.

एक चिकित्सक का काम रोगियों के साथ मिलना और एक व्यापक चिकित्सा इतिहास लेना, नैदानिक ​​परीक्षण करना, रोगियों की जांच करना और उन्हें अपने स्वास्थ्य के लिए सही आहार और फिटनेस शासन सहित सबसे उचित उपाय पर काउंसिल करना होता है.

डॉक्टर चिकित्सा के क्षेत्र में विशेषज्ञ होता है,

एक डॉक्टर का काम करने का माहौल आम तौर पर एक अस्पताल या चिकित्सा केंद्र के भीतर होता है, लेकिन कई डॉक्टर ग्रामीण क्षेत्रों और उन देशों में जाना पसंद करते हैं जहां छोटे गांवों में चिकित्सा की आवश्यकता होती है.

इसका मतलब यह है कि काम करने की स्थिति काफी बुनियादी हो सकती है.

चिकित्सक और विशेषज्ञ चिकित्सक आमतौर पर नर्सों द्वारा सहायता प्राप्त छोटे कार्यालयों में काम करते हैं, और आजकल बहुत से समूह ऐसे हैं जो अधिक कवरेज के लिए अनुमति देते हैं जब डॉक्टर को कुछ समय निकालना होता है.

Career kaise kare

डॉक्टर कैसे बनते हैं?

खैर, नई शिक्षा नीति में आप अपने हायस्कूल से ही मेडिकल का अभ्यास कर सकते है. क्योंकि इस शिक्षा नीति के अनुसार आप कक्षा 9th से कौशल शिक्षा का अभ्यास कर सकते है. [इसमें आप व्यवसाय अभ्यासक्रम और प्रात्यक्षिक का पूरा ज्ञान प्राप्त कर सकते है जो आपको उच्च शिक्षा अर्जित करने में अधिक लाभकारी होगा] इसके पहले भी NSQF अंतर्गत व्यवसाय पाठ्यक्रम GOVT तथा NAGAR PALIKA स्कुलो में शुरू है.

दोस्तों New education policy में आप गणित, विज्ञान और जीव विज्ञान के साथ-साथ अपने इंटरेस्ट के अनुसार व्यवसाय पाठ्यक्रम का भी चयन कर सकते है. और हाई स्कूल में अच्छे ग्रेड प्राप्त कर सकते है.

यह ग्रेड आपको मेडिकल स्कूल या विश्वविद्यालय के कार्यक्रम में पद प्राप्त करने के लिए लाभकारी होंगे.

मेडिकल स्कूलों में प्रवेश पाने के लिए, छात्रों को कड़ी मेहनत और अध्ययन करना आवश्यक है.

यदि आप पहले से ही चिकित्सा ज्ञान [व्यावसायिक शिक्षा] जानते हैं, तो आप आसानी से मेडिकल कॉलेज में प्रवेश ले सकते हैं.

Career kaise kare

New Shiksha Niti – डॉक्टर कैसे बने

दोस्तों शायद आप जानते होंगे की नई शिक्षा नीति में M. Phil की डिग्री को बंद कर दिया है.

लेकिन फिर भी मेडिकल विज्ञान में करियर विकल्प का चयन करना है या फिर डॉक्टर बनना है तो आमतौर पर अंडरग्रेजुएट स्कूल की आवश्यकता होती है, जहां आप जीव विज्ञान, भौतिकी, गणित, अंग्रेजी, मानविकी और रसायन विज्ञान का अध्ययन करेंगे.

फिर आप मेडिकल स्कूल में भाग लें सकते है. ऐसा करने के लिए आपको अनुशंसाओं के साथ मेडिकल कॉलेज प्रवेश परीक्षा से टेप और परीक्षण स्कोर का उत्पादन करना होगा.

दोस्तों बता दे की शुरुआत का समय प्रयोगशालाओं में Biochemistry, anatomy, physiology, microbiology, pharmacology, psychology, pathology, medical ethics और चिकित्सा शासी कानूनों का अध्ययन करने में बिताए जाते हैं.

मेडिकल स्कूल में अपने अंतिम वर्षों के दौरान, आप अस्पतालों और क्लीनिकों में एक अनुभवी चिकित्सक की देखरेख में रोगियों के साथ काम कर सकते है. यदि आप एक डी.ओ. बनना चाहते है तो आपको इंटर्नशिप करना आवश्यक है.

Career kaise kare

डॉक्टर बनने में कितना समय लगता है? [MBBS Course Kitne Saal Ka hota hai]

डॉक्टर बनने में पुराणी शिक्षा नीति के अनुसार और प्रशिक्षण के आधार पर नौ या अधिक वर्ष लगते थे: स्नातक अध्ययन के चार साल, मेडिकल स्कूल के चार साल, और एक साल इंटर्नशिप पूरा करने के लिए.

दोस्तों शायद नई शिक्षा नीति में इसका बजट कम हो सकता है और आप अपने हायस्कूल से ही मेडिकल का अध्ययन कर सकते है.

 

एक डॉक्टर क्या है – What Is Doctor

डॉक्टर एक इंसान है जो अपनी भूमिका “भगवान” के रूप में रखता है और वह दवा और चिकित्सा उपचार के अभ्यास के साथ मानव स्वास्थ्य को बनाए रखता है या पुनर्स्थापित करता है. वह मानव रोग, बीमारियों, चोटों, दर्द या अन्य स्थितियों का निदान और उपचार करता है.

 

पुराणी शिक्षा नीति के अनुसार 12th ke bad Doctor kaise bane –

डॉक्टर बनने के लिए पहला कदम आपको चार साल के प्री-मेडिकल अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम को पूरा करना होगा, प्रत्येक मेडिकल स्कूल और कॉलेज की आवश्यकताओं और पात्रता अलग होती है.

  • रसायन विज्ञान,
  • और्गॆनिक रसायन,
  • एनाटॉमी,
  • जीवविज्ञान,
  • भौतिक विज्ञान,
  • गणना,

 

मेडिकल कॉलेज प्रवेश परीक्षा पास कैसे करें

आपको आवेदन करने वाले व्यक्तियों के अनुसार मेडिकल कॉलेज प्रवेश परीक्षा (MCAT) लेनी होगी.

इस परीक्षा में समस्या को हल करने, सोच, वैज्ञानिक सिद्धांतों और लेखन विकल्प ज़रुरी हैं.

मेडिकल स्कूल में प्रवेश पाने के लिए इस परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करना महत्वपूर्ण है.

 

एमबीबीएस के लिए निम्नलिखित मेडिकल प्रवेश परीक्षा हैं:

1. MCAT मेडिकल कॉलेज प्रवेश परीक्षा,

2. AIIMS प्रवेश परीक्षा – अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान प्रवेश परीक्षा,

3. AIPMT- अखिल भारतीय-चिकित्सा / प्री डेंटल प्रवेश परीक्षा,

4. AIMS- अमृता इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज,

5. AFMC- सशस्त्र बल मेडिकल कॉलेज परीक्षा,

NEP MBBS doctor kaise bane

मेडिकल स्कूल में दाखिला कैसे लें [Medical School Me Dakhila Kaise Len]

डॉक्टर ऑफ मेडिसिन [MD] कार्यक्रम चार साल लंबा है. कार्यक्रम के पहले दो वर्षों में मेडिकल छात्रों को कई विषयों के बारे में पढ़ाया जाता है.

जिसमें Medical law and ethics, microbiology, anatomy and physiology शामिल हैं.

अंतिम दो वर्षों में छात्रों को नैदानिक ​​रोटेशन में भाग लेने की आवश्यकता होती है.

डॉक्टरों की देखरेख में पूरा किया गया ये घुमाव, छात्रों को Surgery, Pediatrics, Internal Medicine, Psychiatry, Gynecology और प्रसूति विज्ञान से जुड़े क्षेत्रों से अवगत कराएगा. जैसे:

  • एनाटॉमी,
  • जीव रसायन,
  • आचार विचार,
  • औषध,
  • शरीर क्रिया विज्ञान,

NEP MBBS doctor kaise bane

डॉक्टर का वेतन [Salary] कितना होता है?

फिजिशियन का वेतन उस विशेषता पर निर्भर कर सकता है जो वह अभ्यास करता है.

चिकित्सा विशेषता का अभ्यास करने वाले फिजिशियन का शुरुआत का वेतन लगभग रूपये 15000/- से सुरु होता है.

NEP MBBS doctor kaise bane

Inspection supervision:

Overview:- न्यू शिक्षा नीति | MBBS doctor | फिजिशियन kaise bane Guide in Hindi
Name- फिजिशियन kaise bane | एमबीबीएस कोर्स कैसे करे,
Course level – ग्रेजुएट,
Eligibility – किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक,
Course fee – INR
10,000/- से 7,00,000 लाख रुपये तक,
Average starting salary – INR 1-5 लाख,

Physician kaise bane, New Shiksha Niti – MBBS doctor kaise bane? MBBS में फ्यूचर बनाये, Ayurvedic doctor kaise bane

Career kaise kare

Read More Article

1. सर्जन doctor kaise bane Full Guide

2. Veterinary doctor kaise bane – Career Tips in Hindi

3. B.Sc. Nurse – बीएससी नर्स कैसे बने in Hindi

4. Medical assistant me career [MA] kaise bane Hindi

5. Medical Engineer Kaise Bane

 

हम आशा करते हैं कि यह लेख आपके लिए उपयोगी रहा है क्योंकि आपने जाना है की [न्यू शिक्षा नीति | MBBS doctor | फिजिशियन kaise bane Guide in Hindi] और यदि आपको इस लेख से कुछ मदद मिलती है, तो इसे अपने मित्रों तथा ज़रूरतमंद व्यक्ति को साझा करें ताकि हम भी इन लेखों को लिखना जारी रख सकें,

धन्यवाद…NEP MBBS doctor kaise bane

Post Comments

error: Content is protected !!