agriculture horticulture me Career kaise kare | कृषि बागवानी में Naukri बनाये?

How to make a career in agriculture, horticulture. कृषि, बागवानी और Agri me Naukri कैसे बनाये, agriculture और horticulture me Naukri | कृषि, बागवानी में करियर बनाये?, Agricultural Biotechnology में फ्यूचर कैसे बनाये, Agricultural me Career kaise banaye, – जाने फुल डिटेल्स. Horticultural services, horticultural products, DPT agriculture, sustainable agriculture, types of agriculture

agriculture और horticulture me Naukri kaise kare | कृषि, बागवानी में करियर बनाये?

 

Agriculture और Horticulture me Naukri | कृषि, बागवानी में करियर बनाये?

हेलो फ्रेंड्स, एक बार फिर से आपका स्वागत है Apna Sandesh Webportal में. दोस्तों हमारे देश में सबसे अधिक विरासत, पारंपरिक और उच्च मात्रा वाला कृषि व्यवसाय है. लेकिन सवाल यह है कि; क्या अब भी कोई इस क्षेत्र में अपना करियर बना सकता है, तो इसका जवाब हां है क्योंकि आधुनिक समाज और एडवांस टेक्नोलॉजी के इस नए युग में आप कृषि में बेहतर करियर बना सकते हैं. वैसे उत्तर काफी सरल है लेकिन पहले आपको एक पूर्ण विकसित कैरियर बनाने के लिए कृषि और संबद्ध सेवाओं के महत्व और विभिन्न पहलुओं को समझना होगा, तो चलिए जानते हैं.

दोस्तों कृषि विज्ञान का एक शैक्षणिक अनुशासन है जिसमें

आदि से संबंधित विभिन्न वैज्ञानिक, तकनीकी और व्यावसायिक विषयों का अध्ययन शामिल है. अत्याधुनिक अनुसंधान और उद्योग में निरंतर नवाचार के साथ हाल ही में कृषि में करियर का दायरा काफी बढ़ गया है.

कृषि में स्नातक या मास्टर डिग्री के साथ, छात्र सरकारी और निजी दोनों क्षेत्रों में उच्च वेतन वाली नौकरियों को सुरक्षित कर सकते हैं. उन्हें Agricultural scientists, agricultural officials, production managers, farm managers और इतने पर नियुक्त किया जा सकता है. या इच्छुक छात्र Education, banking, and insurance के क्षेत्र में भी नौकरियों का विकल्प चुन सकते हैं. तो आइये कृषि और करियर विकल्प जानते है.

 

कृषि क्या है और कैसे करे – What is agriculture and how to do

दोस्तों कृषि हमेशा रोजगार, उत्पादन और योगदान के मामले में भारतीय समाज का प्रमुख क्षेत्र रहा है. लगभग 64% से अधिक कार्यबल इस क्षेत्र में अन्य संबद्ध सेवाओं जैसे पशुपालन, वानिकी और मत्स्य पालन से जुड़े हैं. यह भारत के Gross Domestic Product – सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में लगभग 29.4% का योगदान देता है और भारतीय अर्थव्यवस्था में बहुत समर्थन करता है. अद्भुत जनसांख्यिकीय प्रोफ़ाइल और गतिशील बुनाई के कारण, भारत पूरी दुनिया में Respectively लोगों और उद्योगों के लिए खाद्य और कच्चे माल की जरूरतों और आवश्यकताओं की पूर्ति में फसलों की अधिक किस्मों का समर्थन करता है. Agri me Naukri

बागवानी क्या है और कैसे करे – What is gardening and how to do it

दोस्तों जानकारी के लिए बता दू की किसानों के लिए बागवानी एक और करियर विकल्प है. इस क्षेत्र में, किसान फल, सब्जियां या अन्य फैंसी फसलें उगाते हैं. केले के उत्पादन में भारत नंबर एक पर है. लेकिन, गतिशील भारतीय जलवायु हमें कई प्रकार की वस्तुओं को विकसित करने में सक्षम बनाती है.

 

यह तो जरूर पढ़े – 

 

अन्य संबद्ध सेवाएँ में करियर बनाये – Make a career in horticulture

कृषि के साथ, एक किसान मत्स्य पालन, मधुमक्खी पालन या कई अन्य संबद्ध सेवाओं जैसे अन्य विकल्पों को अपना सकता है. वे इन सेवाओं को खेती के साथ कर सकते हैं. इससे उनका लाभ अधिकतम होगा. शहद के लिए मधुमक्खी पालन जैसी सेवाओं के लिए भी कुछ विशेषज्ञता की आवश्यकता है.

दोस्तों यह तो कृषि क्षेत्र के बारे में कुछ सिमित जानकारी हुई अब हम इस फिल्ड में करियर के विकल्प और शिक्षा का ज्ञान प्राप्त करेंगे तो आइये जानते है की कृषि और बागवानी में करियर के लिए योग्यता और एजुकेशन की आवश्यकता है.

 

कृषि, बागवानी और संबद्ध सेवाएं में करियर पात्रता – Career eligibility in agriculture, horticulture

कृषि बागवानी और संबद्ध सेवाओं में अपना करियर बनाने के लिए विज्ञान स्ट्रीम में 12 वीं को प्राथमिकता से पास होना जरुरी है.

12 वीं स्तर की शिक्षा पूरी करने के बाद आप बागवानी में अपना करियर शुरू कर सकते हैं.

बागवानी में अपना करियर शुरू करना है तो कृषि में डिप्लोमा आवश्यक है. बागवानी में मास्टर में प्रवेश पाने के लिए आपको स्नातक की डिग्री होनी चाहिए और PHD कार्यक्रमों के लिए आपके पास संबंधित क्षेत्र में PG या परास्नातक डिग्री होनी चाहिए, Agri me Naukri

 

क्या आपने साइंस स्ट्रीम (PCM / PCB) में 12 वीं कक्षा पूरी की है?

यदि हाँ, तो आप 12 वीं के बाद बागवानी / कृषि विज्ञान में स्नातक पाठ्यक्रम चुन सकते हैं.

Degree course:

  • Bachelor of Science in Horticulture (B.Sc) – 3 years
  • Bachelor of Technology in Horticulture (B.Tech) – 4 years

Master course:

  • Masters of Science in Horticulture (M.Sc) – 2 years
  • Post Graduate Diploma in Horticulture and Landscape Horticulture – 1
    year
  • MSc AG. – Horticulture (floriculture and landscaping) – 2 years

 

स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए, आपको न्यूनतम 60% अंकों के साथ संबंधित विषय में स्नातक की डिग्री उत्तीर्ण करनी होगी,

दोस्तों, यदि आप कृषि क्षेत्र में अपना करियर बनाने की राह पर हैं, तो बता दूं कि उम्र बढ़ने और बागवानी सेवाओं के पाठ्यक्रम में उम्र को शामिल करने के लिए कोई उम्र सिमा की पाबंधी नहीं है.

आप किसी भी उम्र में कृषि में करियर बना सकते है. या फिर खुद का कृषि व्यवसाय कर सकते है.

 

कृषि, बागवानी और संबद्ध सेवाओं में पाठ्यक्रम की सूची –
  • Agricultural research – कृषि अनुसंधान,
  • Agricultural education – कृषि शिक्षा,
  • Agribusiness – कृषि व्यवसाय,
  • Agro-Industry – कृषि उद्योग,
  • Services in Agriculture – कृषि में सेवाएँ,
  • Agricultural Engineering – कृषि इंजीनियरिंग,
  • Agricultural management – कृषि प्रबंधन,
  • B.Sc. in Agriculture – कृषि में बी.एससी,
  • B.Sc Soil and Water Management – B.Sc मृदा और जल प्रबंधन,
  • Horticulture इन B.Sc.- बागवानी में बी.एससी,
  • BSC Agriculture and Food Business – बीएससी कृषि और खाद्य व्यवसाय,
  • A professional career in agriculture, horticulture, and allied services – कृषि, बागवानी और संबद्ध सेवाओं में व्यावसायिक कैरियर,
  • Farming – खेती,

 

कृषि के क्षेत्र में कुछ पदनाम और उनके कार्य क्षेत्र –

Agriculturist:- कृषक वैज्ञानिक वे वैज्ञानिक होते हैं जो कृषि के एक विशिष्ट क्षेत्र में विशिष्ट होते हैं. उनका मुख्य उद्देश्य भोजन और फाइबर का उत्पादन करना है. Entomology, Agricultural Economics, Soil Science and Plant Nutrition, Animal Science, Food Science and Wildlife Management. यह विशेषज्ञता क्षेत्रों में से कुछ हैं.

Agriculturist बनने के लिए न्यूनतम आवश्यकता B.Sc. डिग्री या बीएससी (एग्री) की डिग्री होना जरुरी है.

कृषि अभियंता – Agricultural Engineer:- कृषि अभियंता आमतौर पर एक विशिष्ट क्षेत्र जैसे कृषि यंत्रीकरण, मृदा संरक्षण और भोजन के प्रसंस्करण के लिए विशेषज्ञ होते हैं. कृषि इंजीनियर अक्सर खेत में काम करते हैं और कई दिनों तक घर से दूर रहते हैं. जो एक फिल्ड इंजीनीर के जैसे कार्य करता है. कृषि इंजीनियरों के लिए न्यूनतम आवश्यकता B.Sc. इंजीनियरिंग या कृषि इंजीनियरिंग में डिग्री पाठ्यक्रम होना जरूररी है. .

कृषि तकनीशियन – Agricultural technician:- कृषि तकनीशियन कृषि के व्यावहारिक पहलुओं पर जोर देते हैं. कृषि तकनीशियनों के लिए विशेषज्ञता के क्षेत्र हैं, Agri me Naukri

किसान और फार्म फोरमैन – Farmer and Farm Foreman:- किसान और खेत फोरमैन खेत पर सभी गतिविधियों की देखरेख, योजना और आयोजन करते हैं. अधिकांश किसानों के पास कोई औपचारिक प्रशिक्षण नहीं होता है, जबकि अन्य के पास प्रमाण पत्र, डिप्लोमा और विश्वविद्यालय की डिग्री होती है.

 

भारत में लोकप्रिय कृषि शाखाएँ – Popular Agricultural Branches
  • Livestock Production me Career,
  • Crop Production me Career,
  • Agricultural Economics,
  • Agricultural Engineering,
  • Plant Pathology,
  • Entomology,
  • Soil Science and Agricultural Chemistry,
  • Plant Breeding and Genetics,
  • Agronomy,
  • Horticulture me Career,
  • Agriculture Statistics,
  • Extension Education,
  • Seed Technology,
  • Nematology,
  • Plant Physiology,
  • Forestry,
  • Agricultural Biotechnology,
  • Food Production,
  • Food & Beverage Service,
  • Agricultural Entomology,
  • Dairy Technology,
  • Dairy Engineering,
  • Poultry Farming me Career,
  • Fisheries Science me Career,

 

कृषि, बागवानी और संबद्ध सेवाएं का वेतन – What is the salary in horticulture

जहां तक ​​इस पेशे के वित्तीय पहलुओं का सवाल है, तो बागवानी विशेषज्ञ का वेतन व्यापक रूप से अधिक होता है और अनुभव के आधार पर वृधि हो सकती है.

यदि सरकारी सेवा में नौकरी करते है तो सुरुआती वेतन रूपये 25,000 से रु .30,000 के आसपास मिल सकता है और यदि कोई अपना स्वयं का व्यवसाय शुरू करता है तो वह प्रति माह Rs.45,000 से Rs.50,000 के रूप में अच्छा कमा सकता है.

Agri me Naukri

Inspection supervision:

Overview:- agriculture और horticulture me Naukri | कृषि, बागवानी में करियर बनाये?
Name- agriculture horticulture me Career kaise banaye – कृषि जैव प्रौद्योगिकी me Career,
Course level – ग्रेजुएट,
Eligibility – किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक,
Average starting salary – रूपये 20,000/- से,

 

Read More Article

 

मुझे उम्मीद है कि आप लोगों को यह लेख जरूर पसंद आया होगा, मैंने अपनी तरफ से agriculture और horticulture me Naukri | कृषि, बागवानी में करियर बनाये? के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की है, फिर भी यदि इस बारे में जानकारी छूट गयी या मिस हो गई तो हमें कमेंट करके जरूर बताये,

दोस्तों अगर इस पोस्ट में कोई गलती है या तो आप मुझे नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके सूचित कर सकते हैं और दोस्तों इस लेख को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे – सोशल मीडिया जैसे Facebook, Instagram, WhatsApp, Twitter पर शेयर करें और अन्य सोशल मीडिया पर भी शेयर करें… (agriculture horticulture me Career)

Agri me Naukri

Thank you Dosto

Auther by – सविता

Post Comments

error: Content is protected !!