Diploma Polytechnic Course kaise kare | पॉलिटेक्निक कोर्स कैसे करे in Hindi

After 10th Diploma Polytechnic Course kaise kare | पॉलिटेक्निक कोर्स कैसे करे? डिप्लोमा के बाद कैरियर कैसे बनाये (Diploma Poly ke bad career kaise banaye), Polytechnic course kaise kare. diploma Course kaise kare. 12th ke baad diploma kaise kare, 10th ke baad poly kaise kare in Hindi.

Diploma Polytechnic Course kaise kare  पॉलिटेक्निक कोर्स कैसे करे. career kaise banaye

 

Diploma Polytechnic Course kaise kare – पॉलिटेक्निक कोर्स कैसे करे?

दोस्तों, हमारे देश में नौकरी के कई अवसर है और नौकरी पाने के लिए अलग अलग विभाग में विविध सेक्टर है. लेकिन हर सेक्टर में नौकरी के लिए उचित शिक्षा और स्किल जरुरत है. हाँ दोस्तों आज के इस लेख में हम पॉलिटेक्निक कोर्स के बाद पाए जाने वाले करियर विकल्प और सेक्टर का ज्ञान विकशित करेंगे लेकिन उसके पहले पॉलिटेक्निक कोर्स का महत्व और कोर्स की जानकारी स्टेप बाय स्टेप जानेंगे –

पॉलिटेक्निक एक तकनीकी शिक्षा संस्थान है. यह कई औद्योगिक कला, अनुप्रयुक्त विज्ञान और अन्य पाठ्यक्रम प्रदान करता है. पॉलिटेक्निक कई तरह के तकनीकी और व्यावसायिक पाठ्यक्रम सिखाता है. भारत में 10 वीं या आईटीआई पूरा करने के बाद कई लोग पॉलिटेक्निक के बाद अपना करियर बनाना चाहते हैं. पॉलिटेक्निक छात्रों को डिग्री पाठ्यक्रम प्रदान करके इंजीनियरिंग की नौकरी करने में सक्षम बनाता है.

दोस्तों जानकारी के लिए बता दू की पॉलिटेक्निक मूल रूप से तकनीकी शिक्षा में डिप्लोमा है. पॉलिटेक्निक डिप्लोमा तकनीकी पाठ्यक्रमों में सबसे पसंदीदा कोर्स है.

यदि आप भी तकनिकी विषय में अपना भविष्य बनाना चाहते है तो पॉलिटेक्निक पाठ्यक्रमों से संबंधित जानकारी जानने के लिए लेख के अंतिम चरण तक बने रहे.

तो आइये सबसे पहले पॉलीटेक्निक का अर्थ जानते है –

 

पॉलिटेक्निक का क्या अर्थ है [polytechnic ka full form kya hai]?

दोस्तों पॉलीटेक्निक दो शब्दों से बना है, पॉली और टेक्निक, पॉली का अर्थ है बहुत ज्ञानवान और (टेक्निक) का अर्थ है कला या व्यावहारिक तरीके से सीखना, तो पॉलिटेक्निक एक ऐसा संस्थान या कॉलेज है जहाँ आप इस तरह की चीजों को आसानी से सिख सकते हो.

यहाँ आपके मनपसंद सेक्टर के हिसाब से अपना विकल्प चयन कर सकते है. और आपको जिस क्षेत्र में रुचि है, आप उस क्षेत्र में आगे बढ़ सकते हैं और अपना करियर बना सकते हैं.

अब सवाल यह है कि पॉलिटेक्निक कोर्स कौन कर सकता है, इसकी क्षमता क्या होनी चाहिए तो आइये Step By Step जानते है.

Read More – यह भी पढ़े

 

पॉलिटेक्निक क्या है?

पॉलिटेक्निक एक डिप्लोमा या व्यावसायिक पाठ्यक्रम है जिसमें तकनीकी शिक्षा का अध्ययन केंद्रित है. आमतौर पर, पॉलिटेक्निक पाठ्यक्रम तीन साल का कार्यक्रम है, जिसके पूरा होने के बाद उम्मीदवार एक प्रमाण पत्र प्राप्त करते हैं.

यह तकनिकी पॉलिटेक्निक कोर्स छात्रों को एक प्रतिष्ठित कंपनी में अच्छी नौकरी प्राप्त करने और अपना करियर शुरू करने में मदद करता है.

 

पॉलिटेक्निक कैसे करें?

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स करने के लिए सबसे पहले आपको पॉलिटेक्निक कॉलेज में एडमिशन लेना होगा. साथ ही यह कोर्स 10 वीं और 12 वीं पास छात्र ही कर सकते हैं.

यदि आप 10 वीं पास करने के बाद पॉलिटेक्निक करना चाहते हैं, तो आपको Online के माध्यम से Registration करना है. फिर आपके दसवीं कक्षा के ग्रेड के आधार पर poly के लिए सिलेक्शन होगा, Diploma Poly me Online Application kaise kare? यहाँ क्लिक करे.

इस कोर्स की अवधि 10 वीं कक्षा के बाद 3 साल की होती है.

यदि आप 12 वीं के बाद पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स करते हैं, तो इस कोर्स की अवधि 2 साल है. जिसके बाद आपके पास प्रतियोगी परीक्षा के लिए बहुत अच्छा विकल्प है.

लेकिन इसके लिए आपको 12 वीं कक्षा के भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, गणित आदि के साथ बारवी उत्तीर्ण करना हैं. कई राज्य में 12 वीं पास छात्र को पॉलिटेक्निक कॉलेज में प्रवेश पाने के लिए अच्छे अंकों के साथ CET (सामान्य प्रवेश परीक्षा) प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण करनी होती है. इसके बाद ही वे किसी भी पॉलिटेक्निक यूनिवर्सिटी में दाखिला ले सकते हैं.

 

पॉलिटेक्निक कोर्स की जानकारी

पॉलिटेक्निक पाठ्यक्रम उन छात्रों के लिए उपयुक्त हैं जो तकनीकी पाठ्यक्रमों में अपना करियर बनाना चाहते हैं. हाँ दोस्तों आपने सही पढ़ा क्योंकि आपको तकनिकी विषय में रूचि होना चाहिए तभी आप इस फिल्ड में बेहतर करियर बना सकते है.

यदि आपको एक पेशेवर बनना है तो इसी तकनिकी विषय के साथ बी.ई. या B.Tech की डिग्री पूरी करना होगा.

पॉलिटेक्निक पाठ्यक्रम तकनीकी पाठ्यक्रमों में एक डिप्लोमा पाठ्यक्रम है. छात्र खुद को पॉलिटेक्निक डिप्लोमा पाठ्यक्रमों में पंजीकृत कर सकते हैं. बाद में, याने की डिप्लोमा poly होने के बाद वे बी.ई. या B.Tech के लिए अर्जी कर सकते है.

Polytechnic पाठ्यक्रम कई क्षेत्रों में रोजगार बढ़ाते हैं. इन क्षेत्रों में Mechanical, Automobile, Computer Science, Information Technology और अन्य तकनीकी सब्जेक्ट्स शामिल हैं. यही कारण है कि कक्षा 10 वीं के बाद पॉलिटेक्निक कोर्स सबसे अच्छा कोर्स लगता है. सर्वेक्षण में, यह पाया गया है कि पॉलिटेक्निक पाठ्यक्रम अब धीरे-धीरे छात्रों का मनपसंद कोर्स हो रहा है याने कोर्स के चहेते बढ़ रहे हैं.

 

पॉलिटेक्निक कोर्स Duration

पॉलिटेक्निक कॉलेज स्नातकोत्तर / डिप्लोमा पाठ्यक्रम प्रदान करते हैं. वे 3 साल, 2 साल और 1 साल की अवधि के लिए पाठ्यक्रम प्रदान करते हैं.

3 वर्षीय डिप्लोमा पाठ्यक्रम, Automotive, Mechatronics, Electrical Engineering, Architectural Assistantship, और इसके बाद के संस्करण हैं.

इस पाठ्यक्रम का पाठ्यक्रम छात्र के थेरिओटिकल और प्रैक्टिकल ज्ञान को बेहतर बनाने के लिए बनाया गया है. इसका मतलब है कि पॉलिटेक्निक कोर्स इस तरह से संबंधित क्षेत्र में नौकरी पाने के लिए सिखाया जाता है.

2 वर्षीय डिप्लोमा पाठ्यक्रम में लाइब्रेरी एंड इंफॉर्मेशन साइंस, फार्मेसी और इसके बाद के संस्करण शामिल हैं. 1-वर्षीय डिप्लोमा पाठ्यक्रम में विपणन और बिक्री प्रबंधन, सौंदर्य और स्वास्थ्य देखभाल, आदि शामिल हैं.

Read More – यह भी पढ़े

1. Key Account manager kaise bane

2. JEE MAIN Registration kaise kare

3. MHT CET Registration kaise kare

4. Pump Operator cum Mechanic Course kaise kare

5. 10th ka exam time table kaise check kare

6. Software Quality Assurance kaise bane

 

पॉलिटेक्निक कोर्स – पात्रता मानदंड

यदि छात्र को पॉलिटेक्निक कोर्स में प्रवेश प्राप्त करना है तो इस विभाग के पात्रता मानदंडों को पूरा करना होगा जहां वे प्रवेश के लिए आवेदन कर रहे हैं. दोस्तों जानकारी के लिए बता दू की प्रत्येक पॉलिटेक्निक प्रवेश की पात्रता मानदंड दूसरे से भिन्न होती हैं. पॉलिटेक्निक पाठ्यक्रमों में प्रवेश पाने के लिए पात्रता मानदंड जैसे –

आयु सीमा – डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग में प्रवेश के लिए आवेदन करने के लिए कोई ऊपरी आयु नहीं है. लेकिन 10th पास के बाद वह poly के लिए अपना Registration कर सकता है.

 

शैक्षणिक योग्यता-

उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से गणित, भौतिकी और रसायन विज्ञान जैसे मुख्य विषयों के साथ कक्षा 10 वीं उत्तीर्ण होना चाहिए,

उम्मीदवार को 10 वीं की परीक्षा में 55% का एग्रीगेट हासिल करना होगा,

और यदि कोई छात्र कक्षा 12 वीं के बाद poly करना चाहते है तो उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12 वीं कक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए,

उम्मीदवार को कक्षा 12 वीं के प्रमुख विषयों में गणित और भौतिकी और रसायन विज्ञान / जीवविज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी के रूप में वैकल्पिक विषयों में से एक में अध्ययन किया जाना चाहिए,

या फिर Vocational विषय के साथ उत्तीर्ण होना चाहिए,

पात्रता परीक्षा में उम्मीदवार को 50% (आरक्षित उम्मीदवारों के लिए 45%) का Overall marking प्राप्त करना चाहिए,

Polytechnic Course kaise kare

[polytechnic me kitne trade hote hai] Polytechnic में किस तरह के कोर्स कर सकते है?

1. Diploma in Computer Science and Engineering,

2. Diploma in Civil Engineering,

3. Diploma in Automobile Engineering,

4. Diploma in Electronics and Communication,

5. Diploma in Electrical Engineering,

6. Diploma in Interior Decoration,

7. Diploma in Fashion Engineering,

8. Diploma in Ceramic Engineering,

9. Diploma in Art and Craft,

10. Diploma in Mechanical Engineering,

11. Diploma in Chemical Engineering,

12. Diploma in Instrumentation and Control Engineering,

13. Diploma in IT Engineering,

14. Diploma in Electronics and Telecommunications Engineering,

15. Diploma in Aeronautical Engineering,

16. Diploma in Petroleum Engineering,

17. Diploma in Aerospace Engineering,

18. Diploma in Mining Engineering,

19. Diploma in Automobile Engineering,

20. Diploma in Genetic Engineering,

21. Diploma in Biotechnology Engineering,

22. Diploma in Plastic Engineering,

23. Diploma in Agricultural Engineering,

24 Diploma in Food Processing and Technology,

25. Diploma in Dairy Technology and Engineering,

26. Diploma in Power Engineering,

27. Diploma in Infrastructure Engineering,

28. Diploma in Production Engineering,

29. Diploma in Metallurgical Engineering,

30. Diploma in Motorsport Engineering,

31. Diploma in Environmental Engineering,

32. Diploma in Textile Engineering,

 

पॉलिटेक्निक कोर्स – Admission Process

भारत में बड़ी संख्या में पॉलिटेक्निक कॉलेज संचालित हैं. कुछ पॉलिटेक्निक कॉलेज सरकारी सहायता प्राप्त हैं, जबकि अन्य निजी तौर पर संचालित हैं. कॉलेजों या संस्थानों के प्रकार के आधार पर पॉलिटेक्निक की प्रवेश प्रक्रिया तय होती है.

योग्य उम्मीदवारों को योग्य अंकों के साथ प्रासंगिक प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण करनी चाहिए, कुछ पॉलिटेक्निक कॉलेज पहले विभिन्न पाठ्यक्रमों में प्रवेश प्रक्रिया शुरू करते हैं. योग्य छात्र प्रवेश के लिए अपनी पसंद के पॉलिटेक्निक कॉलेज चुन सकते हैं.

जब डिप्लोमा इन पॉली का अध्ययन पूरा हो जाता है तो छात्र B.E में दाखिला लेने के लिए पात्र होते हैं. या B.Tech कर सकते है.

लेकिन, उन्हें अपना पॉलिटेक्निक कोर्स पूरा करना है. इस प्रक्रिया के दिशानिर्देश हर कॉलेज से कॉलेज तक भिन्न होते हैं. कुछ कॉलेज छात्रों के पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स के अंकों के आधार पर प्रवेश देते हैं तो कुछ कॉलेज छात्र के ज्ञान का परीक्षण करने के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित करते हैं.

 

भारत में पॉलिटेक्निक कोर्स फीस – [polytechnic ki fees kitni hai]

सामान्य तौर पर, पॉलिटेक्निक कॉलेज की फीस एक कॉलेज से दूसरे कॉलेज में भिन्न होती है. तो, यह प्रति वर्ष लगभग 10000 से 30000 की औसत राशि में होती है.

ट्यूशन फीस के अलावा, अन्य खर्च जैसे यूनिफॉर्म फीस, लैब फीस, हॉस्टल फीस आदि भी लागू हो सकते हैं.

Polytechnic Course kaise kare

पॉलिटेक्निक के बाद जॉब – [polytechnic karne ke baad kitni salary milti hai]

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स करने के बाद, उम्मीदवार आसानी से सरकारी और निजी क्षेत्रों में नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं.

डिप्लोमा poly के बाद सुरुआती इनकम लगभग 18,000/- से 50,000/-तक हो सकती है.

सरकारी क्षेत्र में कई विभाग हैं, जिनमें पॉलिटेक्निक डिप्लोमा पाठ्यक्रम पसंद किए जाते हैं. उदा. रेलवे विभाग में कई रिक्तियां हैं, जिसके लिए पॉलिटेक्निक डिप्लोमा पाठ्यक्रम होना बहुत जरूरी है, बिना पॉलिटेक्निक डिप्लोमा के, आप इन रिक्तियों के लिए आवेदन नहीं कर सकते.

 

पॉलिटेक्निक के फायदे :-

इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि आप इसे 10 वीं और 12 वीं कक्षा के बाद कर सकते हैं.

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा में आपको पाठ्यक्रमों के बारे में व्यावहारिक तरीके से पढ़ाया जाता है.

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा करने के बाद आप किसी भी सरकारी और प्राइवेट नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं.

इस डिप्लोमा कोर्स को करने के बाद आप सीधे इंजीनियरिंग के दूसरे वर्ष में प्रवेश ले सकते हैं.

या फिर आप खुद का business स्टार्ट कर सकते है.

career kaise banaye

Inspection supervision:

Overview :- Diploma Polytechnic Course kaise kare | पॉलिटेक्निक कोर्स कैसे करे

Question :- polytechnic karne ke baad kya kare, career kaise banaye

Admission process :- ऑनलाइन,

Website :-

Skill:- नए विषयों की जानकारी प्राप्त करना,

Diploma Polytechnic Course kaise kare

After 10th Career Time 10th Exam Time Table
Elementary Diploma Kaise Kare  Google Classroom SQA (software quality assurance)
RTO Officer Kaise bane  ITI B.SC Computer 
Media Director Kaise bane  New Education Policy Paramedical Science me career
 ISRO  New Shiksha Niti Automobile Engineer kaise bane
 Engineer Day  National Hindi Day  Interest 

career kaise banaye

Post Comments

error: Content is protected !!